Home पोल खोल पिछड़े इलाके की महिलाओं की डिजिटल जागरूकता से गद-गद हुए पीएम

पिछड़े इलाके की महिलाओं की डिजिटल जागरूकता से गद-गद हुए पीएम

571
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज झारखंड में कई योजनाओं का शिलान्यास किया और प्रधानमंत्री ने अपनी खुशी जाहिर करते हुए कहा कि जिस तरह से इस अति-पिछड़े इलाके की महिलाओं को स्मार्ट फोन की पूरी जानकारी है वो आनंदित करने वाली है। साथ ही प्रधानमंत्री ने पहाड़िया समुदाय के बच्चों रोजगार देकर मुख्यधारा से जोड़ने पर भी खुशी जाहिर की।

सखी मंडल की महिलाओं ने जीता दिल

प्रधानमंत्री ने सखी मंडल की महिलाओं को स्मार्ट-फोन बांटते हुए कहा कि मुझे इस बात की बेहद खुशी है कि छतीसगढ़ के इस अति पिछड़े संथाल परगना की सखी मंडल की महिलाओं से जब मैंने स्मार्ट-फोन के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि उन्हें एप, भीम एप और कैसे डाउनलोड होता है ये सब मालूम है जो दिखाता है कि डिजिटल साक्षरता किस तरह से गांव-गांव तक पहुंच चुकी है।

पहाड़ियां समुदाय को मुख्य धारा से जोड़ा

प्रधानमंत्री ने पहाड़ियां समुदाय के युवा-युवतियों को मुख्यधारा से जुड़ने पर विशेष रूप से इस समुदाय की प्रशंसा की और कहा कि इसे कहते है विकास की धारा का देश के अंतिम छोर तक पहुंचना।

हाइवे, एयरवे, रेलवे के बाद वाटरवे की जरुरत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज विकास की कई योजनाओं की शुरुआत करते हुए कहा कि ये योजनाएं युवाओं के लिए रोजगार के नए रास्ते खोलेगी। उन्होंने कहा कि हमने हाइवे, एयरवे, और रेलवे तो बहुत बनाया अब वाटरवे बनाकर विकास की नई कहानी लिखेंगे। और झारखंड को नदी के रास्ते पूरी दुनिया से जोड़ेगें, जिससे राज्य के विकास को एक नया आयाम मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा इस देश के लिए ये शुभ संकेत है कि युवा पीढ़ी में ईमानदारी का युग शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि जब 2022 में हम आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहे होंगे तो अगले पांच साल तक जो जहां बैठा है वो संकल्प लें कि हम जो भी करेंगे इस देश के लिए करेंगे और 2022 तक आजादी के लिए जान देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों के सपने के हिंदुस्तान की दिशा में आगे बढ़ेगे।

LEAVE A REPLY