Home समाचार ममता बनर्जी का जय श्रीराम बोलने से इंकार, बताया गाली

ममता बनर्जी का जय श्रीराम बोलने से इंकार, बताया गाली

762
SHARE

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि वे किसी हाल में जय श्रीराम नहीं बोलेंगी। ममता का कहना है कि जय श्रीराम बीजेपी का नारा है लेकिन पीएम नरेन्द्र मोदी लोगों को यह बोलने के लिए मजबूर नहीं कर सकते। सच्चाई यह है कि देश में जय श्रीराम बोलने की सदियों पुरानी परंपरा है। एक दिन पहले ही बंगाल में एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें तृणमूल कार्यकर्ता जय श्रराम का नारा लगा रही भीड़ को खदेड़ रहे हैं। पूरे राज्य में हिंदुओं को इसी तरह प्रताड़ित किया जा रहा है। ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस के इस रवैये से बंगाल के लोगों में जबरदस्त गुस्सा है। राज्य में जगह-जगह पर इसका विरोध हो रहा है और इसका असर वोटिंग पर भी पड़ना तय है। दरअसल, राज्य में अपनी पार्टी की खिसकती जमीन से ममता परेशान हो गई हैं। लोकसभा चुनावों के लिए राज्य में अब तक जो वोटिंग हुई है, उसमें अधिकतर सीटें बीजेपी के पक्ष में जाती दिख रही हैं। इससे घबराई ममता अब राज्य में धार्मिक आधार पर वोटों को बांटने की कोशिश कर रही हैं। हिंदुओं के खिलाफ बयानबाजी कर मुसलमान वोटर्स को अपने पक्ष में करने की कोशिश कर रही हैं।

यह भी पढ़ेंः मुस्लिम वोट के लिए ममता बनर्जी के पक्ष में रोडशो कर रहे हैं बांग्लादेशी कलाकार

30 से ज्यादा सीटें जीत सकती है बीजेपी

2014 के लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल की 42 में से 34 सीटें तृणमूल ने जीती थीं। 4 सीट कांग्रेस, और 2-2 सीटें बीजेपी और सीपीएम ने जीती थी। इस बार के जो सर्वे अब तक आए हैं, उसमें बीजेपी को 30 से ज्यादा सीटें मिलने का अनुमान है। तृणमूल कांग्रेस को 10 से कम सीटें मिलेंगी जबकि कांग्रेस और वामपंथियों का इस बार राज्य से सफाया हो जाने की संभावना है।  

 

Leave a Reply