Home समाचार इस बार थाइलैंड नहीं, इंडोनेशिया की यात्रा पर गए हैं राहुल गांधी

इस बार थाइलैंड नहीं, इंडोनेशिया की यात्रा पर गए हैं राहुल गांधी

112
SHARE

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी एक बार फिर विदेश यात्रा पर निकल गए हैं। मीडिया की खबरों के मुताबिक इस बार वो इंडोनेशनिया की यात्रा पर गए हैं। न्यूज एजेंसी आईएएनएस ने सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है। 23 दिन के भीतर यह उनका दूसरा विदेश यात्रा है। इससे पहले इसी महीने 6 तारीख को वो महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के समय थाइलैंड की यात्रा पर गए थे। 

राहुल गांधी थाइलैंड उस वक्त गए थे, जब देश में महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव सिर पर थे। उनकी इस यात्रा के लिए काफी आलोचना हुई थी। हालांकि कुछ दिनों बाद वे बैंकॉक से वापस लौट आए थे और दोनों राज्यों में चुनावी रैलियां की थीं। 

2014 से राहुल गांधी ने करीब 16 से ज्यादा बार विदेश यात्रा की है। चुनौतियों से घिरी कांग्रेस को बीच मंझधार में छोड़कर इन विदेश यात्राओं पर जाने का आखिर रहस्य क्या है। आइए, राहुल गांधी की इन विदेशी यात्राओं के राज के बारे में जानते हैं-

राज-1 राहुल गांधी अपनी विदेशी यात्राओं के बारे में किसी को कुछ भी नहीं बताते। मार्च 2018 तक के आंकड़े बताते हैं कि जिन चौदह विदेशी यात्राओं पर राहुल गए, उनमें से 9 यात्राओं पर वह किस देश की यात्रा पर गये, इसके बारे में किसी को जानकारी नहीं दी।

राज-2 कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ज्यादातर इटली की यात्रा करते हैं। इटली में उनकी मां सोनिया गांधी का पूरा परिवार रहता है। राहुल उनसे मिलने के लिए अक्सर बिना बताये इटली पहुंच जाते है। 01 मार्च, 2018 को होली के ठीक एक दिन पहले, अपनी नानी को सरप्राइस देने के लिए इटली चल दिए।

राज-3  राहुल गांधी की विदेश यात्राएं जिनके बारे में वे जनता को बताते हैं। अगर उन देशों पर नजर डाली जाए तो निष्कर्ष निकलता है कि राहुल ईसाई और मुस्लिम बहुल देशों की यात्राएं करते हैं। साल 2018 में तीन दिनों की उनकी पहली विदेश यात्रा बहरीन की थी, जो 08 जनवरी को शुरु हुई। 08 मार्च से एक बार फिर वह दो देशों की यात्रा पर सबसे पहले मलेशिया पहुंचे है। राहुल की वे यात्राएं, जिनके बारे में देश की जनता को बताया गया-

इटली: 01 मार्च 2018: को अपनी नानी को सरप्राइस देने के लिए गये। इसी समय 02 मार्च को देश में होली मनायी जा रही थी और 03 मार्च को त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय के परिणाम आये, जिसमें कांग्रेस को करारी शिकस्त मिली। 

बहरीन: 08 जनवरी 2018- को बहरीन की तीन दिनों की यात्रा की। इस दौरान सुल्तान से मुलाकात के अलावा भारतीयों से भी मुलाकात की।

अमेरिका: 11 सितंबर 2017: गुजरात चुनावों से ठीक पहले, 15 दिनों की अमेरिका यात्रा के दौरान कई व्यक्तियों से मिले और कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में वंशवाद को सही ठहराने वाला भाषण दिया।

ओस्लो , नॉर्वेः 25 अगस्त, 2017: राहुल गांधी नॉर्वे की राजधानी ओस्लो चले गए। ये दौरा उस वक्त हुआ जब 27 अगस्त को बिहार में विपक्षी एकता की ताकत दिखाने को लालू प्रसाद रैली कर रहे थे। इसी दौर में चीन के साथ डोकलाम विवाद भी चल रहा था ।

इटली : 13 जून,2017: जब मंदसौर में किसानों का आंदोलन चल रहा था और कांग्रेस पार्टी हमलावर थी तो राहुल गांधी इटली नानी से मिलने चले गए। 28 जून, 2017 को राष्ट्रपति पद के लिए नामाकंन करने गई मीरा कुमार के साथ भी राहुल गांधी मौजूद नहीं थे। कांग्रेस ने उनका फौरन बचाव किया और कहा कि परिवार के बुजुर्गों की देखभाल करना भारतीय संस्कृति का हिस्सा है।

राज-4 राहुल गांधी अपने विदेश यात्राओं पर गुपचुप तरीकों से क्या करते हैं, इसकी जानकारी खोजी पत्रकार लगा ही लेते हैं। इसी तरह के खोजी पत्रकारों ने जानकारी दी कि राहुल गांधी 57 दिनों के अज्ञातवास में 16 फरवरी 2015 से 16 अप्रैल 2015 के दौरान कहां-कहां रहे। पत्रकारों ने कुछ जानकारी एकत्र कर ली लेकिन राहुल ने इस दौरे के बारे में आजतक कुछ भी किसी को नहीं बताया। आइये, देखते हैं कि इन 57 दिनों में राहुल कहां-कहां रहे….

राहुल गांधी विदेश की यात्राओं पर ऐसे समय जाते हैं, जब देश की प्रमुख विपक्षी पार्टी को उनकी सबसे अधिक जरूरत होती है। 

 

Leave a Reply