Home विपक्ष विशेष पहले ही भाषण में एक्सपोज हुईं प्रियंका वाड्रा, कहा साबरमती से गांधी...

पहले ही भाषण में एक्सपोज हुईं प्रियंका वाड्रा, कहा साबरमती से गांधी जी ने शुरू किया स्वतंत्रता आंदोलन

199
SHARE

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका वाड्रा गांधी अपने भाई और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष से किसी भी मायने में कम नहीं है। कम से कम जानकारी के लिहाज से वो राहुल को टक्कर देती नजर आ रही है। मंगलवार को अहमदाबाद में कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक थी। इस बैठक के बाद एक बड़ी चुनावी जनसभा भी आयोजित की गई थी। पार्टी की महासचिव बनने के बाद प्रियंका वाड्रा कांग्रेस की रैली को संबोधित किया। प्रियंका वाड्रा ने भाषण तो जोर-शोर से दिया लेकिन उसमें एक बड़ी गलती कर दी। गलती भी ऐसी की उनकी राजनीतिक और भारतीय इतिहास की समझ पर ही सवाल उठ गया।

प्रियंका ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने स्वतंत्रता आंदोलन की शुरुआत अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से की थी। जबकि सच्चाई यह है कि महात्मा गांधी ने स्वतंत्रता आंदोलन की शुरुआत 1917 में बिहार के चंपारण में की थी। और गांधी जी का वो आंदोलन चंपारण सत्याग्रह के नाम से जाना जाता है। इतना ही नहीं गांधी जी की विरासत को संभालने का दावा करने वाले गांधी परिवार की सदस्य प्रियंका ने यह भी कहा कि वो पहली बार साबरमती आश्रम आई हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि प्रियंका को गांधी जी से कोई सरोकार नहीं है, बल्कि चुनाव के पहले राजनीति चमकाने के मकसद से साबरमती आश्रम गई हैं।

गौरतलब है कि नेहरू-गांधी परिवार के लोगों ने इसी तरह झूठ बोलकर और लोगों की भावनाओं से खेलकर 55 वर्षों तक देश पर राज किया है। और इस बार लोकसभा चुनाव के पहले एक बार फिर राहुल गांधी हों या फिर प्रियंका वाड्रा झूठ बोल कर लोगों को बरगाने की कोशिश में लग गए हैं।

 

LEAVE A REPLY