Home समाचार अंतिम चार महीनों में देश के हर हिस्से और हर भारतीय तक...

अंतिम चार महीनों में देश के हर हिस्से और हर भारतीय तक पहुंचे पीएम मोदी

173
SHARE

प्रधानमंत्री के रूप में अपने पहले कार्यकाल के अंतिम चार महीनों में पीएम नरेन्द्र मोदी ने कई ऐसे काम किए जो इससे पहले किसी प्रधानमंत्री ने नहीं किया था। सरकारी कामकाज निपटाने के अलावा इन चार महीनों के दौरान पीएम देश के हर हिस्से में पहुंचे और प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से हर भारतीय के संपर्क में आए। इन 125 दिनों में पीएम करीब 200 आयोजनों में शामिल हुए। इनमें सरकारी और राजनीतिक कार्यक्रम शामिल थे।

पीएम मोदी की एनर्जी और वर्किंग स्टाइल की अक्सर चर्चा होती है। इसका सबसे बड़ा सबूत पिछले 125 दिन हैं जिसके दौरान पीएम ने कश्मीर से कन्याकुमारी और जामनगर से सिल्चर तक की यात्रा की। छात्रों से लेकर वैज्ञानिक, किसान, आंत्रप्रेन्योर, विदेशी राष्ट्राध्यक्षों और राजनीतिक कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। चुनावी माहौल को ध्यान में रखते हुए उन्होंने बड़ी सरकारी योजनाओं जैसे प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री श्रम योगी मन धन योजना आदि से संबंधित कई महत्वपूर्ण फैसले लिए।

यह भी पढ़ेंः न मैं गिरा, और न मेरी उम्मीदों के मीनार गिरे, पर कुछ लोग मुझे गिराने में कई बार गिरे- प्रधानमंत्री मोदी

बीते चार महीनों में पीएम के कार्यक्रमों और फैसलों पर नजर डालें तो देश के प्रति उनके नजरिये का पता चलता है।

इसी दौरान पुलवामा आतंकी हमला हुआ और पीएम ने एयर स्ट्राइक की ऐतिहासिक कार्रवाई के साथ आतंकवाद के खिलाफ कई महत्वपूर्ण कदम उठाए। उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ भारत का पक्ष पूरी दुनिया के सामने मजबूती से रखा। पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग करने की रणनीति तैयार की। इसी का नतीजा है कि 1 मई को मसूद अजहर को यूएन ने वैश्विक आतंकी घोषित किया।

यह भी पढ़ेंः पत्रिका एक्सक्लूसिव इंटरव्यू: देश को बुलंदी पर ले जाना है- प्रधानमंत्री मोदी

इस दौरान पीएम प्रयागराज में कुंभ में शामिल हुए। बरसों बाद यह पहला मौका था जब देश का प्रधानमंत्री कुंभ में पहुंचे, स्नान किया और पूजा-आरती में शरीक हुए। वे वीर सावरकर को श्रद्धांजलि देने पोर्ट ब्लेयर गए तो नेताजी सुभाष बोस से संबंधित समारोह में भी भागीदारी की। इतना ही नहीं, इन 125 दिनों में पीएम पांच बार अपने लोकसभा क्षेत्र बनारस के दौरे पर भी गए।

Leave a Reply