Home चार साल बेमिसाल आयुष्मान भारत योजना को लेकर पीएम आशान्वित भी हैं और भावुक भी

आयुष्मान भारत योजना को लेकर पीएम आशान्वित भी हैं और भावुक भी

256
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 23 सितंबर को रांची से लॉन्च हुए आयुष्मान भारत योजना को लेकर बेहद आशान्वित तो हैं ही साथ ही उसके अच्छे परिणाम देखकर भावुक भी हैं। ‘मेरा बूथ सबसे मजबूत’ कार्यक्रम के तहत यूपी के गाजीपुर जिले की एक भाजपा कार्यकर्ता के सवालों का जवाब देते हुए नरेन्द्र मोदी ने कहा कि- “आयुष्मान भारत योजना को अभी तो महीना भी पूरा नहीं हुआ है, लेकिन इसके जो अनुभव मैं सुनता हूं, मैं सच बताता हूं मुझे जीवन में इतना संतोष होता है कि आज इस योजना ने मेरे गरीब के दुख दर्द को दूर करने का बहुत बड़ा काम किया है।“

प्रधानमंत्री मोदी ने ‘मेरा बूथ सबसे मजबूत’ प्रोग्राम के तहत बुधवार को मध्यप्रदेश के होशंगाबाद, झारखंड के चतरा, राजस्थान के पाली, मुंबई(नॉर्थ) और यूपी के गाजीपुर जिले के बूथ कार्यकर्ताओं के साथ संवाद स्थापित किया और कार्यकर्ताओं के सवालों का विस्तार पूर्वक जवाब दिया।
सबसे पहले होशंगाबाद के कार्यकर्ताओं से संवाद स्थापित करते हुए पीएम ने उन्हें और देश के लोगों को महाअष्टमी और दुर्गापूजा की शुभकामनाएं दीं। होशंगाबाद की महिला कार्यकर्ता के कांग्रेस द्वारा किए जा रहे दुष्प्रचार के सवाल पर पीएम ने कहा कि- “लोकतंत्र में विपक्ष का छोटा से छोटा व्यक्ति भी कोई बात कहे तो बहुत गंभीरता से लेनी चाहिए। ये बहुत काम आने वाली चीजें हैं। थकान महसूस करते हैं तो थोड़ा मनोरंजन लीजिए। आनंद लीजिए गंभीर मत हो जाइये।“

शिवराज को सराहा

प्रधानमंत्री ने शिवराज सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों की सराहना की और कहा कि- “हमारे विरोधियों के पास मुद्दे ही नहीं है, मुद्दे ही नहीं है तो करेंगे क्या?” प्रधानमंत्री मोदी ने इस मौके पर शिवराज सरकार की बेटियों के लिए लाड़ली लक्ष्मी योजना, किसानों को उनके पसीने की पूरी कीमत देने के लिए फसलों पर प्रोत्साहन राशि के प्रावधान से लेकर राज्य की सड़कों को गड्ढा मुक्त बनाने और घरों में 24 घंटे बिजली देने के शिवराज सरकार के कार्यों का उल्लेख किया।
इस मौके पर मोदी ने सागर जिले की उन छात्राओं का जिक्र भी किया जो पहली बार वोट देने वाली हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि- “सागर की पहली बार वोट देने वाली बच्चियों में से 90 परसेंट बच्चियों ने कहा हम बीजेपी को वोट देंगे, शिवराज सिंह चौहान को वोट देंगे, मोदी सरकार के काम को लेकर वहां के यूथ इतने पॉजिटिव दिखे।“

कांग्रेस पार्टी पर ली चुटकी

कांग्रेस पार्टी पर चुटकी लेते हुए पीएम मोदी ने कहा कि- “कांग्रेस की हालत ऐसी है कि राज्य में तीन-तीन सीएम उम्मीदवार, सीएम बनने के लिए दूसरे की टांग खींचने में लगे हैं। एक दर्जन से ज्यादा दूसरी कतार में खड़े हैं। जो अभी बोलते नहीं हैं लेकिन ये तीन गिर जाए तो हममें से कोई ऊपर आएगा इसका खेल खेल रहे हैं। जहां दर्जन, सवा दर्जन मुख्यमंत्री की आशा लेकर चलने वाले लोग हैं वो आपका विकास क्या करेंगे।“
होशंगाबाद जिले के ही कार्यकर्ता द्वारा बैकवर्ड जिले के सवाल पर पीएम ने कहा कि- ‘बैकवर्ड डिस्ट्रिक्ट के विकास के लिए योजनाएं तो आजादी के समय से बनती रही हैं। परंतु इन पिछड़े जिलों की किस्मत नहीं बदली। इस स्थिति से बाहर निकलने के लिए पूरे देश को एकजुट होना पड़ेगा। सरकार, अधिकारी, जनप्रतिनिधि, जनता स्वयं।“

बैकवर्ड डिस्ट्रिक्ट के लिए नई अवधारणा

इस मौके पर पीएम ने सरकार की एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट योजना का जिक्र किया और बताया कि क्यों इस सरकार ने बैकवर्ड डिस्ट्रिक्ट की पुरानी अवधारणा को बदल दिया है। पीएम मोदी ने कहा कि- “हमने एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट यानी आकांक्षी जिलों पर काम शुरू किया है। इन जिलों को लेकर बैकवर्ड होने का जो माइंडसेट बना हुआ था सबसे पहले हमने उसको तोड़ने का काम किया है। मेरा मानना अगर किसी जिले पर पिछड़े होने का ठप्पा लग जाएगा तो उसके आगे बढ़ने की मानसिकता ही टूट जाती है।“
उन्होंने कहा कि हमारा ध्येय यही है कि जो जिले पहले पिछड़े होने का दाग झेलते आए थे वो विकास की यात्रा में गर्व से सहभागी बन सकें।

अटकी, लटकी परियोजनाओं का पुनरुद्धार

झारखंड के चतरा से लखन डांगी ने उत्तरी कोयल जलाशय परियोजना को पूरा होने के करीब पहुंचाने के लिए पीएम का धन्यवाद किया तो ऐसी सालों से लटकी रही योजनाओं को लेकर उन्होंने अपनी प्राथमिकताएं गिनाईं। पीएम ने कहा कि- “2014 में केंद्र में सरकार बनाने के बाद ऐसे प्रोजेक्ट खोज-खोज कर निकाले जा चुके हैं, जो बरसों से लटके हुए थे। हमने प्रगति नाम से एक व्यवस्था विकसित की है। जिसमें केंद्र और राज्य सरकारों से संबंधित अफसरों को बिठा का सवाल जवाब किया जाता है। आपको खुशी होगी अबतक लगभग 12 लाख करोड़ रुपये के 250 प्रोजेक्ट की समीक्षा 30 प्रगति की बैठकों में की जा चुकी है। इनमें बड़ी-बड़ी सड़क परियोजना, रेल प्रोजेक्ट्स, गैस पाइप लाइन जैसे प्रोजेक्ट्स शामिल हैं। इन परियोजनाओं की छोटी-छोटी दिक्कतों को दूर किया जा रहा है।”

राजकुमार नाम सुनकर पीएम ने क्या कहा?
राजकुमार साहू नाम के कार्यकर्ता का नाम सुनते ही प्रधानमंत्री ने कांग्रेस अध्यक्ष का नाम लिए बिना उनपर चुटकी भी ले ली। पीएम ने उनसे पूछा कि- “नाम राजकुमार हैं कि राजकुमार हैं आप क्योंकि कभी-कभी राजकुमारों से बच के रहना पड़ता है।“

‘सरदार पटेल की प्रतिमा का प्रोजेक्ट मेरे दिल के करीब’
गुजरात में सरदार बल्लभ भाई पटेल की गगनचुंबी प्रतिमा के निर्माण कार्य पूरा होने और कांग्रेस द्वारा इस अभियान को लेकर किए गए उपहास के सवाल पर प्रधानमंत्री ने खुलकर अपने विचार रखें। उन्होंने कहा कि- “ये प्रोजेक्ट मेरे दिल के बहुत करीब है। भारत को प्रशासनिक तौर पर एकजुट करने के लिए सरदार पटेल ने देसी रियासतों को जितने कम समय में राजी कर लिया वो किसी और के लिए शायद पूरे जीवन भर में करना संभव नहीं था।“
प्रोजेक्ट को लेकर चले आलोचनाओं के दौर पर प्रधानमंत्री ने कहा कि “वो मोदी की आलोचना नहीं कर रहे हैं, वो गुजरात सरकार की आलोचना नहीं कर रहे हैं, उनके दिल में जो सालों से कुछ चीजें भरी पड़ी हैं वो निकल कर के आती हैं। इतिहास गवाह है कि सरदार पटेल के प्रति उनके मन में कितना तितस्कार था, कैसा अनादर था। वे पचा नहीं सकते कि सरदार पटेल जैसे किसान पुत्र और अपने परिश्रम से इस ऊंचाई तक पहुंचने वाले नेता इतिहास का एक विशिष्ट हिस्सा बने। इसलिए वे इसके बारे में इस प्रकार के अनगिनत झूठ फैला रहे हैं।”

जानिए 21 अक्टूबर को लाल किले में झंडा क्यों फहराएंगे पीएम?

‘मेरा बूथ सबसे मजबूत’ कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को भी याद किया और कहा कि- “मैं आपको बताना चाहता हूं कि 21 अक्टूबर 2018 को नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा गठित आजाद हिन्द फौज की ओर से स्वतंत्र भारत की स्थापना के 75 वर्ष पूरे हो रहे हैं। 21 अक्टूबर को लाल किले के प्रचीर से होने वाले झंडारोहण कार्यक्रम में शामिल होने का मुझे सौभाग्य मिलेगा।”

मुंबई की एक महिला कार्यकर्ता ने सवाल किया कि ऐसी कौन सी उपलब्धियां हैं जो हमारी सरकार बनने के बाद पहली बार हासिल हुई हैं। इसपर प्रधानमंत्री मोदी ने सर्जिकट स्ट्राइक, मंगलयान, 6 बेटियों का नाव द्वारा पूरी दुनिया का भ्रमण से लेकर प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, हर गांव हर घर में बिजली पहुंचाने, हर घर में एलपीजी पहुंचाने, देश के सभी सरकारी स्कूलों में शौचालय बनवाने, योग को यूएन में मान्यता दिलवाने और चैम्पियन ऑफ द अर्थ अवॉर्ड मिलने जैसी उपलब्धियां गिनवाईं।

टैक्स कलेक्शन बढ़ाने के लिए सरकार ने क्या किया इस सवाल पर पीएम मोदी ने कहा कि- “राष्ट्र निर्माण एक यज्ञ है जिसे आगे बढ़ाने के लिए हम सबको मिलकर अपने-अपने हिस्से की आहुति देनी होती है। यज्ञ अनुष्ठान हो या राष्ट्र निर्माण, सहयोग के लिए लोग तभी जुड़ते हैं जब उन्हें सामने वाले पर भरोसा होता है। हमारे करदाताओं ने यही भरोसा हम पर जताया है।“ उन्होंने कहा कि- “अब शहर हो या गांव हर जगह सड़कें और हाइवे दोगुनी रफ्तार में बनते हैं। आज आप हिन्दुस्तान के किसी भी इलाके में 100 स्क्वायर किलोमीटर में जाइये कहीं न कहीं भारत सरकार के द्वारा कोई न कोई निर्माण कार्य आपको दिखेगा।“

पाली से पुखाराम खोजा के नमो ऐप के सवाल पर भी पीएम खुलकर बोलें। पीएम ने कहा कि- “नरेन्द्र मोदी ऐप पर जो डोनेशन की फैसिलिटी है वो काफी पॉपुलर हो रही है।” मिशन 2019 की तैयारियों के सवाल पर प्रधानमंत्री ने कहा कि- “बीजेपी जनता को समर्पित पार्टी है हमारी सरकार जनता को समर्पित सरकार है इसलिए हमारे लिए हर दिन जनता की सेवा का दिन होता है। एक बीजेपी कार्यकर्ता के लिए हर दिन कैंपन जैसा है। हम जो सेवा करते हैं वही हमारा कैंपेन होता है।”

LEAVE A REPLY