Home समाचार अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने की प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने की प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात

251
SHARE

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति मोहम्मद अशरफ गनी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने आपसी, क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मसलों के साथ द्विपक्षीय सहयोग को और मजबूत करने के तरीकों पर व्यापक बातचीत की। संपर्क बढ़ाने के साथ-साथ अफगानिस्तान में ढांचागत परियोजनाओं, मानव संसाधन विकास योजनाओं और क्षमता विकास योजनाओं के लिए सहयोग और बढ़ाने पर भी भारत ने अपनी प्रतिबद्धता दोहराई। राष्ट्रपति गनी ने दोनों देशों के बीच लोकतांत्रिक मूल्यों पर आधारित संबंधों की सराहना करते हुए कहा की हिंसा नहीं शांति से ही दक्षिण एशिया का विकास संभव है।

दोनों नेताओं ने आपसी व्यापार में बढ़ोतरी पर संतोष जताया जो एक अरब डॉलर को पार कर चुका है। दोनों नेताओं ने चाहबहार बंदरगाह एवं हवाई मार्ग से ढुलाई के लिए कॉरिडोर के जरिए संपर्कों को और मजबूत करने की प्रतिबद्धता जताई। अफगानिस्तान में इंफ्रास्ट्रक्चर, मानव संसाधन विकास और अन्य क्षमता निर्माण परियोजनाओं के क्षेत्र में नई विकास साझेदारी को मजबूत करने पर भी सहमति बनी। अफगान राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री मोदी को शांति और सामंजस्य के साथ ही अफगानिस्तान पर लादे गए आतंकवाद और अतिवाद की चुनौतियों से निपटने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में जानकारी दी।

प्रधानमंत्री मोदी ने अफगानिस्तान के नेतृत्व में चल रही शांति एवं सामंजस्य प्रक्रिया को भारत के समर्थन देने की बात एक बार फिर दोहराई ताकि अफगानिस्तान एक संगठित, शांतिपूर्ण, समेकित और लोकतांत्रिक राष्ट्र बना रहे और आर्थिक रुप से उभरता देश बन सके। उन्होंने अफगानिस्तान में आतंकी हमलों और हिंसा की कड़ी निंदा की और आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष में उन्होंने अफगान नागरिकों और सुरक्षा बलों के साथ एकजुटता जताई।

विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर संयोजन और सलाह-मशविरा पर संतोष जताते हुए दोनों पक्ष इस सहयोग को और मजबूत करने और विकास, शांति, स्थायित्व एवं प्रगति के लिए अपने-अपने क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय साझेदारों के साथ और नजदीक से काम करने पर सहमत हुए। राष्ट्रपति गनी और प्रधानमंत्री मोदी के बीच मुलाकात के दौरान दिखी गर्मजोशी इस बात का सूचक है की इस दौरे से दोनों देशों के रिश्तों को नई उंचाई मिली है।

LEAVE A REPLY