Home समाचार मोदी सरकार के स्वच्छ धन अभियान के चलते आईटीआर ई-फाइलिंग की संख्या...

मोदी सरकार के स्वच्छ धन अभियान के चलते आईटीआर ई-फाइलिंग की संख्या में रिकॉर्ड बढ़ोतरी

103
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार देश की व्यवस्था में पारदर्शिता लाने के लिए संकल्पित है। इसके लिए मोदी सरकार लगातार एक के बाद एक कदम उठा रही है, लोगों को जागरूक कर रही है। उसका परिणाम दिखने लगा है। पीएम मोदी की पहल पर देश में लगातार आयकर रिटर्न फाइल करने वालों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। 26 जुलाई, 2018 तक ऑनलाइन आईटीआर फाइल करने वालों की संख्या 3.07 करोड़ तक पहुंच गई है। यह पिछले साल की तुलना में 80 प्रतिशत अधिक है। हालांकि एक साल पहले 26 जुलाई, 2017 को ई-फाइलिंग करने वालों की संख्या 1.7 करोड़ ही थी। 

एसेसमेंट इयर ई-फाइल करने वालों की संख्या
2018-19 (26 जुलाई, 2018 तक) 3.07 करोड़
2017-18 (26 जुलाई, 2017 तक) 1.7 करोड़

मोदी सरकार ने लोगों को आयकर रिटर्न फाइल करने की ओर प्रेरित करने के लिए नियमों में बदलाव किए, एक के बाद एक कदम उठाए। 1.25 करोड़ नए लोगों को आयकर फाइल करने वाले सिस्टम से जोड़ने का लक्ष्य मोदी सरकार का लक्ष्य है। पिछले वर्ष 1.06 करोड़ नए लोग ई-फाइलिंग सिस्टम से जुड़े थे। गौरतलब है कि 2016-17 में आईटीआर फाइल करने वालों की संख्या मात्र 1.4 करोड़ थी जबकि 2017-18 में आईटीआर फाइल करने वालों की संख्या 2.96 करोड़ हो गई। 

एसेसमेंट इयर आईटीआर फाइल करने वालों की संख्या
2018-19 (26 जुलाई, 2018 तक) 3.07 करोड़
2017-18 2.96 करोड़
2016-17 1.4 करोड़

नोटबंदी और स्‍वच्‍छ धन अभियान के कारण आयकर रिटर्न (आईटीआर) की संख्या में उल्‍लेखनीय वृद्धि हुई है। 5 अगस्‍त 2017 तक 2,82,92,955 आयकर रिटर्न भरे गए जबकि वित्त वर्ष 2016-17 की समान अवधि में 2,26,97,843 आयकर रिटर्न भरे गए थे। यह संख्‍या 24.7 प्रतिशत की उल्‍लेखनीय वृद्धि दर्शाती है, जबकि पिछले वर्ष इसमें 9.9 प्रतिशत की ही बढ़ोतरी हुई थी। 

LEAVE A REPLY