Home समाचार नेतन्याहू के बाद अब ट्रंप भी करेंगे ‘मोदी’ नाम का जाप

नेतन्याहू के बाद अब ट्रंप भी करेंगे ‘मोदी’ नाम का जाप

187
SHARE

‘मोदी ब्रांड’ को भुनाने के लिए देश के साथ-साथ विदेशों में भी होड़ मची हुई है। 2019 लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की ऐतिहासिक जीत के बाद जहां देश में हर कोई खुद को ‘ब्रांड मोदी’ से जोड़ने के लिए उतावला है, वहीं विदेशों में भी ‘ब्रांड मोदी’ की धूम मची हुई है।

विश्लेषकों का मानना है कि अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में आयोजित ‘हाउदी मोदी’ कार्यक्रम में ट्रंप के भाग लेने के पीछे 2020 में अमेरिका में होने वाला राष्ट्रपति चुनाव है। ट्रंप की नजर भारतीय मूल के लाखों वोटरों पर है।

पूरे विश्व में ‘ब्रांड मोदी’ की धूम

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नजर 2020 में होने वाला राष्ट्रपति चुनाव पर है और कई विश्लेषक ‘हाउदी मोदी’कार्यक्रम में ट्रंप के हिस्सा लेने का यही सबसे बड़ा कारण मान रहे हैं। अमेरिका में भारतीय मूल के करीब 16 लाख लोग हैं। टेक्सास के सिर्फ ह्यूस्टन और डलास शहर में ही भारतीय मूल के करीब 2 लाख 70 हज़ार लोग रहते हैं।

किसी विदेशी नेता को इतनी तरजीह नहीं

अमेरिकी इतिहास में कभी भी किसी विदेशी नेता को इतनी तरजीह नहीं दी गई, जितनी मोदी को मिल रही है। अमेरिकी राष्ट्रपति अपने कार्यकाल में किसी विदेशी नेता के साथ मंच साझा नहीं किया है। यह मोदी नीति की बड़ी जीत मानी जा रही है। ‘हाउदी मोदी’ कार्यक्रम में ट्रंप के शामिल होने से जम्मू कश्मीर के मुद्दे पर भी भारत की बड़ी जीत मानी जा रही है। 

भारतीय मूल के अमेरिकी वोटरों पर ट्रंप की नजर

2016 के राष्ट्रपति चुनाव में भी डोनाल्ड ट्रंप ने प्रचार के दौरान ‘अबकी बार मोदी सरकार’ की तर्ज पर ‘अबकी बार ट्रंप सरकार’ का नारा दिया था। इसके अलावा ट्रंप अलग अलग मंचों से भारतीयों वोटरों को लुभाने की कोशिश करते रहे हैं। ‘हाउदी मोदी’ कार्यक्रम में 50 हजार लोगों के अलावा 60 सांसद, गवर्नर, और व्यापार जगत के दिग्गज शामिल होंगे।

नेतन्याहू भी कर चुके हैं मोदी के नाम का इस्तेमाल

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दोस्ती से पूरी दुनिया वाकिफ है। इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भी चुनाव प्रचार में ‘ब्रांड मोदी ‘ का भरपूर इस्तेमाल कर चुके हैं। चुनाव प्रचार के दौरान इजरायल में कई जगहों पर मोदी और नेतन्याहू की तस्वीर वाली होर्डिंग लगाई गई। मोदी भारत के पहले प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने इजरायल का दौरा कर दोनों देशों के संबंधों को और प्रगाढ़ किया है।

Leave a Reply