Home समाचार पीएम मोदी को अमेरिका आने का न्योता, ट्रंप बोले- भारत सच्चा दोस्त

पीएम मोदी को अमेरिका आने का न्योता, ट्रंप बोले- भारत सच्चा दोस्त

746
SHARE

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अमेरिका आने का न्योता दिया है और भारत को अपना सच्चा दोस्त बताया है। प्रधानमंत्री के साथ फोन पर बातचीत में ट्रंप ने कहा कि अमेरिका भारत को अपना सच्चा दोस्त मानता है और विश्व की चुनौतियों से निपटने में उन्हें अपना साझेदार समझता है।

प्रधानमंत्री ने बुधवार सुबह ट्वीट कर अमेरिकी राष्‍ट्रपति से हुई बातचीत की जानकारी दी। पीएम मोदी ट्वीट में कहा कि बातचीत बहुत ही गर्मजोशी के साथ हुई। उन्होंने दोनों देशों के बीच बेहतर संबंधों और आपसी गठजोड़ को और मजबूत किए जाने पर जोर देते हुए अमेरिकी राष्‍ट्रपति को भी भारत आने का निमंत्रण दिया।

दोनों नेताओं के बीच व्यापार, रक्षा और आतंकवाद जैसे अहम मुद्दों पर बात हुई। दोनों ने दक्षिण और मध्य एशिया क्षेत्र में सुरक्षा के मुद्दे पर चर्चा की। राष्ट्रपति ट्रंप और प्रधानमंत्री मोदी ने संकल्प लिया कि आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में अमेरिका और भारत कंधे से कंधा मिलाकर खड़े रहेंगे।

ट्रंप से बात करने वाले पांचवें नेता
पीएम मोदी दुनिया के ऐसे पांचवें नेता हैं जिनसे ट्रंप ने सत्ता में आने के बाद बात की। 20 जनवरी को अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद ट्रंप कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो, मेक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना नितो, इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी से फोन पर बात कर चुके हैं। चुनाव में ऐतिहासिक जीत दर्ज करने पर डोनाल्ड ट्रंप को बधाई देने वाले पहले पांच विश्व नेताओं में पीएम मोदी भी शामिल थे।

कारोबारी से राजनेता बने ट्रंप भारत के साथ मजबूत संबंधों के पक्ष में रहे हैं। चीन के साथ राष्ट्रपति ट्रंप की तल्खी किसी से छुपी नहीं है। ऐसे में ट्रंप ने पीएम मोदी के साथ सबसे पहले बात कर अपनी भविष्य की नीति का साफ संकेत दिया कि टिकाऊ दोस्ती पर उनका फोकस रहेगा। इसके पहले ओबामा प्रशासन के साथ भी भारत के रिश्ते अच्छे रहे है।

भारत के प्रशंसक
अमेरिका में 15 अक्टूबर को कश्मीरी पंडितों और बांग्लादेशी हिंदुओं के लिए आयोजित एक चैरिटी कार्यक्रम में ट्रंप ने भारत की तेज विकास दर और पीएम मोदी के आर्थिक सुधारों की जमकर प्रशंसा की थी। इसके साथ ही यह भी कहा था कि ऐसे सुधारों की जरुरत अमेरिका में भी है।

उन्होंने कहा था कि हम और बेहतर दोस्त बनने जा रहे हैं, वास्तव में मैं चीजों को और बेहतर करूंगा और हम सबसे अच्छे दोस्त बनेंगे। उन्होंने मोदी को ऊर्जावान नेता बताते हुए कहा था कि मैं प्रधानमंत्री मोदी के साथ काम करने के लिए उत्साहित हूं।

LEAVE A REPLY