Home समाचार आतंक के खिलाफ एकजुट हों आसियान देश- पीएम मोदी

आतंक के खिलाफ एकजुट हों आसियान देश- पीएम मोदी

88
SHARE

भारत-आसियान शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंक के खात्मे के लिए सभी देशों को एकजुट होने का आह्वान किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि, ‘हमने अपने-अपने देशों में आतंकवाद तथा उग्रवाद से कड़ा संघर्ष किया है। अब समय आ गया है, जब हम इस महत्वपूर्ण विषय पर आपसी सहयोग बढ़ा कर इस चुनौती का मिल-जुल कर समाधान निकालें।’

प्रधानमंत्री मोदी ने आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष में संयुक्त प्रयासों का आह्वान करते हुए कहा कि भारत को इसके चलते बहुत अधिक नुकसान उठाना पड़ा है। उन्होंने कहा, ‘हमें आतंकवाद के कारण नुकसान उठाना पड़ा है। हमारे समक्ष एकजुट होकर आतंकवाद को खत्म करने के बारे में सोचने का समय आ गया है।’

आसियान के सदस्य देशों के नेताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, ‘इस क्षेत्र के हितों और शांतिपूर्ण विकास को ध्यान में रखते हुए, नियमों पर आधारित क्षेत्रीय सुरक्षा ढांचे की स्थापना के लिए भारत आसियान को अपना समर्थन जारी रखेगा।’

ईएएस ने आतंकवाद से लड़ने का घोषणापत्र जारी किया
पूर्व एशिया शिखर सम्मेलन (ईएएस) ने आतंकवाद के वित्तपोषण और आतंकवादी की चुनौतियों एवं क्षेत्र में आतंकवाद के सोच पर हावी होने से कारगर तरीके से निपटने के लिए अलग अलग घोषणापत्र जारी किए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कदम का स्वागत किया। भारत ईएएस का सदस्य है। प्रभावशाली समूह के सदस्य देशों ने इन दस्तावजों में आतंकवादी गतिविधियों में शामिल समूहों के वित्तपोषण को रोकने सहित कई उपाय कर आतंकवाद, चरमपंथ और कट्टरपंथ को रोकने की खातिर साथ काम करने का मजबूत संकल्प लिया।

पूर्व एशिया शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत चाहता है कि इस क्षेत्र में पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन की भूमिका और बड़ी हो। उन्होंने कहा कि, ‘हम चाहते है कि आने वाले वर्ष में पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन की अहमियत आर बढे। मैं क्षेत्र में राजनीतिक, सुरक्षा और आर्थिक मुद्दों के समाधान को लेकर आपके साथ काम करने को प्रतिबद्धता दोहराता हूं।’

पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में 10 आसियान देशों के अलावा चीन, जापान, कोरियाण गणराज्य, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, संयुक्त राज्य अमेरिका और रूस शामिल हैं।

LEAVE A REPLY