Home चुनावी हलचल केजरीवाल को लेकर दिल्ली में भारी नाराजगी, पीएम मोदी से 80% लोग...

केजरीवाल को लेकर दिल्ली में भारी नाराजगी, पीएम मोदी से 80% लोग खुश

एबीपी न्यूज-सी वोटर सर्वे में बीजेपी के प्रति उत्साह

531
SHARE

दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनाव से ठीक दस दिन पहले विधानसभा उपचुनाव में अरविंद केजरीवाल को बड़ा झटका लगा है। राजौरी गार्डन विधानसभा उपचुनाव में ना सिर्फ अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी की हार हुई, बल्कि उनके उम्मीदवार की जमानत भी जब्त हो गई। दिल्ली में मिली इस करारी हार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के प्रति लोगों का मोहभंग माना जा रहा है। भ्रष्टाचार मिटाने और व्यवस्था परिवर्तन के नाम पर सत्ता में आने के बाद केजरीवाल खुद अपने मंत्रियों और विधायकों के साथ भ्रष्टाचार के दलदल में फंसते चले गए। इनके तमाम विधायकों और मंत्रियों पर कई तरह के आरोप लगे। इसमें से कुछ तो काफी गंभीर किस्म के हैं। केजरीवाल के तानाशाही प्रवृति के कारण आंदोलन के समय साथ देने वाले साथी अलग हो होते गए।

दिल्ली के लोगों के सामने अब इनकी पोल खुल चुकी है। धीरे-धीरे लोग केजरीवाल से किनारे हो रहे हैं। गोवा और पंजाब के बाद राजौरी गार्डन उपचुनाव में मिली करारी हार से बाद अब एमसीडी चुनाव के लिए भी शुभ संकेत नहीं दिख रहे हैं।

नगर निगम में खिलेगा कमल- सर्वे
एबीपी न्यूज-सी वोटर के सर्वे के मुताबिक एमसीडी चुनाव को लेकर भी लोगों में बीजेपी के प्रति उत्साह दिख रहा है। सर्वे में 36 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वे बीजेपी को वोट देंगे। सर्वे में 26 प्रतिशत ने आम आदमी पार्टी को और 17 प्रतिशत ने कांग्रेस को वोट देने की बात कही। सर्वे में सभी 272 वॉर्डों में 6,213 वोटरों से अप्रैल के पहले और दूसरे हफ्ते में बात की गई थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लहर एमसीडी चुनाव में भी देखने को मिल सकता है। दिल्ली के 78 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वे मोदी जी के काम से संतुष्ट हैं। जबकि लोगों में केजरीवाल के प्रति नाराजगी साफ दिख रही है। सर्वे में 50 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वह मुख्यमंत्री केजरीवाल के काम से खुश नहीं हैं।

बीजेपी के प्रति लोगों में सबसे ज्यादा झुकाव ईस्ट दिल्ली में देखने को मिला। यहां 38 प्रतिशत लोग बीजेपी के पक्ष में जबकि 21-21 प्रतिशत आप और कांग्रेस के पक्ष में हैं। दक्षिणी दिल्ली में भी बीजेपी सर्वे के मुताबिक आप से काफी आगे दिख रही है। जबकि उत्तरी दिल्ली में बीजेपी और आप में कड़ी टक्कर दिख रही है।

दिल्ली विधानसभा में 70 में से 67 सीट जीतने वाली आम आदमी पार्टी जिस तरह से काम कर रही हैं उससे लोग तंग आ चुके हैं। सीएम अरविंद केजरीवाल ने 70 वायदे किए थे जिसमें से एक भी पूरा नहीं हुआ है। सीसीटीवी लगाने, फ्री वाई-फाई, जन शौचालय बनाने, स्कूल-कॉलेज खोलने, युवाओं को रोजगार देने सभी मोर्चे पर वो विफल साबित हुए हैं।

एमसीडी के लिए 23 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे और चुनाव के नतीजे 25 अप्रैल को आएंगे।

इसे भी पढ़िए-

कुर्सी के लिए कुछ भी करेगा… देखिए केजरीवाल के कारनामे

CAG रिपोर्ट में ‘झूठे’ केजरीवाल की खुली पोल

दिल्ली की जनता से केजरीवाल के 10 झूठे वायदे: रियलिटी चेक

LEAVE A REPLY