Home विपक्ष विशेष राहुल गांधी अक्सर विदेशी दौरों पर साथ नहीं ले जाते एसपीजी सुरक्षा,...

राहुल गांधी अक्सर विदेशी दौरों पर साथ नहीं ले जाते एसपीजी सुरक्षा, आखिर क्यों?

244
SHARE

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के विदेशी दौरे हमेशा सवालों में रहे हैं। राहुल गांधी जब देखो तब विदेश की उड़ान भर लेते हैं, लेकिन इसमें सबसे हैरत वाली बात ये है कि इतनी बड़ी पार्टी के नेता होने के बावजूद कभी देशवासियों को ये पता नहीं चल पाता है कि वे विदेश किस काम से गए हैं। हालांकि इक्का-दुक्का मामले में लोगों को इसका पता भी चल जाता है। एक और हैरान करने वाली बात ये है कि राहुल गांधी अक्सर विदेशी दौरे के वक्त एसपीजी सुरक्षा कवर को साथ में नहीं रखते हैं, यानि अपनी सुरक्षा से भी समझौता करते हैं। बस इसी से सवाल उठता है कि आखिर विदेशी दौरे के वक्त राहुल गांधी ऐसा क्या करते हैं कि वे एसपीजी सुरक्षा भी साथ नहीं ले जाते हैं।

देश में इस वक्त सिर्फ चार लोगों को एसपीजी सुरक्षा कवर मिला हुआ है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका वाड्रा ही वो चार शख्सियत हैं, जिन्हें एसपीजी सुरक्षा मिली हुई है। एसपीजी ने हाल ही में पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को दी जाने वाली सुरक्षा की समीक्षा करने के बाद सरकार को कुछ ‘चिंताजनक खामियों’ के बारे में बताया है। एसपीजी अधिकारियों के हवाले से यह जानकारी द इंडियन एक्सप्रेस को मिली है। राहुल गांधी की विभिन्न यात्राओं की डिटेल्स की समीक्षा करने के बाद अधिकारियों को पता चला कि राहुल गांधी ने अपने विदेश दौरों पर एसपीजी सुरक्षा लेने में कभी दिलचस्पी नहीं दिखाई। 1991 से अब तक राहुल गांधी करीब 156 विदेश दौरों पर जा चुके हैं। हालांकि, इनमें से 143 यात्राओं पर वह एसपीजी को साथ नहीं ले गए। राहुल का ये रवैया एसपीजी ‘प्रोटोकॉल का उल्लंघन’ है।


एक अधिकारी के मुताबिक, ‘एसपीजी एक्ट के मुताबिक, सुरक्षा पाने वाले शख्स को हर वक्त सुरक्षा घेरे में रहना पड़ता है। अधिकारी के मुताबिक, एसपीजी सुरक्षा कवर वाले शख्स की प्राइवेसी का ध्यान रखा जाता है और ऐसा विदेश यात्राओं के दौरान भी होता है। इसके बावजूद राहुल गांधी का अधिकतर मौकों एसपीजी सुरक्षा नहीं ले जाना कई सवाल उठाता है।

विदेश ही नहीं देश में भी राहुल गांधी एसपीजी प्रोटोकॉल का जमकल माखौल उड़ाते हैं। जानकारी के मुताबिक वर्ष 2015 से मई, 2019 तक राहुल गांधी ने 1892 मौकों पर दिल्ली में बिना बुलेट रेसिसटेंट (BR) गाड़ी के सफर किया। यानी अमूमन हर रोज एक बार ऐसा हुआ। इसी दौरान राहुल गांधी ने 247 मौकों पर दिल्ली के बाहर बिना BR व्हीकल के सफर किया। सूत्रों के मुताबिक, 2005 से लेकर 2014 तक राहुल गांधी 18 मौकों पर देश के विभिन्न हिस्सों में BR व्हीकल के बिना गए।

Leave a Reply