Home नरेंद्र मोदी विशेष प्रधानमंत्री मोदी ने महिला बीजेपी सांसदों से की मुलाकात, नई जिम्मेदारियां लेने...

प्रधानमंत्री मोदी ने महिला बीजेपी सांसदों से की मुलाकात, नई जिम्मेदारियां लेने का सुझाव दिया

409
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इन दिनों भारतीय जनता पार्टी के सांसदों से अलग-अलग समूहों में मुलाकात कर रहे हैं। इसी सिलसिले में प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को अपने आवास पर भाजपा की महिला सांसदों के साथ मुलाकात की। पीएम मोदी ने भाजपा की महिला सांसदों से अपना परिचय देने को कहा, ताकि सबको एक-दूसरे के बारे में अच्छी तरह से जानकारी हो जाए।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने महिला सांसदों को नई-नई जिम्मेदारियां लेने तथा अपने क्षेत्र में कुपोषण की समस्या सहित नए क्षेत्रों में काम करने का सुझाव दिया। बच्चों के कुपोषण का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि महिला सांसद ऐसे क्षेत्रों में बच्चों को पौष्टिक भोजन देने की दिशा में काम कर सकती हैं, जहां कुपोषण की समस्या है। पीएम मोदी ने गुजरात में हुए एक प्रयोग का जिक्र किया, जब एक स्वस्थ और हृष्ट-पुष्ट बच्चे की तस्वीर माताओं को अपने मोबाइल पर डालने को कहा जाता था, जिसे देख कर अन्य महिलाओं को अपने बच्चे को भी तंदुरुस्त रखने की प्रेरणा मिलती हो।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात के कार्यक्रम में बीजेपी के सांसदों को सात समूहों में बांटा गया है और यह पांचवें समूह के साथ उनकी बैठक थी। नवनिर्वाचित 17वीं लोकसभा में कुल 78 महिला सांसद हैं। स्वतंत्रता के बाद लोकसभा में महिला सांसदों की यह सर्वाधिक संख्या है। इनमें से 41 महिला सांसद भाजपा से हैं।

प्रधानमंत्री मोदी के साथ संसद के दोनों सदनों के भाजपा सांसदों की मुलाकात का कार्यक्रम इस उद्देश्य से बनाया गया है ताकि उन्हें प्रधानमंत्री के साथ सीधे संवाद का मौका मिल सके। महिला सांसदों से मुलाकात के वक्त भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा और संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी भी मौजूद थे।

फाइल फोटो

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने युवा सांसदों से अपने घर पर नाश्ते पर मुलाकात की थी। प्रधानमंत्री ने युवा सांसदों से पूछा था कि राजनीति के अलावा आप क्या-क्या काम करते हैं? इसके अलावा बाकी कामों में क्या रुचि है? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि राजनीति के अलावा जो काम आप करते हैं, समाज में वह उभर कर सामने आना चाहिए। लोगों को उनकी जानकारी होनी चाहिए। पिछले दिनों भाजपा संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने दो अक्तूबर (गांधी जयंती) से लेकर 31 अक्तूबर (सरदार पटेल जयंती) तक सभी सांसदों को अपने-अपने क्षेत्र में 150 किलोमीटर पदयात्रा निकालने का निर्देश दिया था।

Leave a Reply