Home नरेंद्र मोदी विशेष न मैं गिरा, और न मेरी उम्मीदों के मीनार गिरे, पर कुछ...

न मैं गिरा, और न मेरी उम्मीदों के मीनार गिरे, पर कुछ लोग मुझे गिराने में कई बार गिरे- प्रधानमंत्री मोदी

199
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उत्तरप्रदेश और बिहार के चुनावी दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ और बस्ती में चुनावी सभाएं कीं। प्रतापगढ़ की रैली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि नामदार ने मेरी छवि खराब करने का लक्ष्य रखा है। लेकिन, मैं उनसे कहना चाहता हूं कि न मैं गिरा और न मेरी उम्मीदों के मीनार गिरे, पर कुछ लोग मुझे गिराने में कई बार गिरे। नामदार के पिता को उनके राग दरबारियों ने मिस्टर क्लीन कहा था, लेकिन उनका जीवन तो भ्रष्टाचारी नंबर-1 के रूप में समाप्त हुआ। यह देश धोखेबाजों को कभी माफ नहीं करता।

पीएम मोदी ने कहा, “चार चरणों के मतदान के बाद उत्तर प्रदेश के लोगों ने तय कर दिया है कि नतीजे क्या आने वाले हैं। अब पांचवें चरण से पहले ये महामिलावटी लोग अगर आपका यह उत्साह देख लेंगे तो चुनाव का मैदान ही छोड़ने की सोचने लगेंगे। कोई सोच सकता है कि इतनी भयंकर गर्मी में छत पर लोग इतने ताप में खड़े हैं। आपका प्यार और आशीर्वाद मुझे गदगद कर देता है। उत्तर प्रदेश के लोगों ने ठान लिया है कि विकास के अलावा उन्हें कुछ भी मंजूर नहीं है।”

अपने राजनीतिक जीवन के संघर्षों की ओर संकेत करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “मोदी सोने का चम्मच लेकर पैदा नहीं हुआ है। यह मोदी राजपरिवार में पैदा नहीं हुआ है। यह मोदी भारत मां की धूल फांक-फांक कर बड़ा हुआ है। यह मोदी पांच दशक तक बिना रुके, बिना थके, एकनिष्ठ, एकलक्ष्य सिर्फ और सिर्फ भारत माता के लिए जी रहा है, उसके लिए तपस्या कर रहा है। न मैं गिरा, और न मेरी उम्मीदों के मीनार गिरे, पर कुछ लोग मुझे गिराने में कई बार गिरे।”

पीएम मोदी ने कहा, “प्रतापगढ़, सुल्तानपुर और अमेठी के लोगों को मजबूत भारत के लिए मजबूत सरकार के संकल्प पर अडिग रहना है। आज 21वीं सदी में देश जिस पड़ाव पर है, दुनिया में जिस तरह के बदलाव हो रहे हैं, उसमें भारत का मजबूत होना बहुत जरूरी है। जब देश सुरक्षित होता है तो विकास के द्वार खुलते हैं। इस पूरे क्षेत्र में हम रक्षा से जुड़े सामान, रेल से जुड़े सामान और खेती से जुड़े उद्योग को बढ़ावा दे रहे हैं। आंवला से जुड़े उद्योगों को योगी जी की सरकार ‘एक जनपद एक उत्पाद’ योजना के तहत प्रोत्साहित कर रही है। वहीं, हमारे किसान परिवारों को सीधी मदद अब बैंक खाते में मिलनी शुरू हो गई है। हमने यह भी तय किया है कि छोटे दुकानदारों, किसानों और खेत मजदूरों को पेंशन मिले। बीते पांच वर्ष विकास की नींव के थे, आने वाले पांच वर्ष विकसित भारत की तरफ नई ऊंचाई की यात्रा के होंगे। हम सभी को इस रास्ते को मजबूत करना है।”

बस्ती की सभा में पीएम मोदी ने कहा, “विकास को ध्यान में रखते हुए आपने जो पूर्ण बहुमत की सरकार दिल्ली में बनाई थी, उसने पूरी मजबूती से काम किया है। आज जब आपका ये सेवक दुनिया के मंचों पर जाता है, तो 130 करोड़ भारतीयों की शक्ति का एहसास होता है। आज भारत के कहने पर भारत के गुनहगारों को दुनिया भर में कठघरे में खड़ा किया जा रहा है। भारत के कहने पर आज हमारे गुनहगारों को भारत को सौंपा जा रहा है। आतंकवाद से लेकर कालेधन पर आज भारत की बात पूरी गंभीरता से सुनी जाती है। पाकिस्तान की करतूतों को लेकर पहले हमारी सरकार रोती रहती है। उनको देश के दुश्मनों से ज्यादा अपने वोटबैंक की चिंता थी। आज हाल क्या है? दरअसल, यह परिवर्तन तब आता है, जब राष्ट्रसेवा का स्थान सबसे ऊपर आता है।”

Leave a Reply