Home समाचार रमजान में पाकिस्तान की एक ही चाहत, मोदी सरकार की न हो...

रमजान में पाकिस्तान की एक ही चाहत, मोदी सरकार की न हो वापसी

515
SHARE

भारत का यह लोकसभा चुनाव कई मामलों में खास है। संभवतः यह पहला चुनाव है, जिसमें महंगाई मुद्दा नहीं है। मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों का असर है कि देश में महंगाई एकदम निचले स्तर पर है। यह आश्यर्यजनक है क्योंकि इससे पहले हर चुनाव में महंगाई बड़ा मुद्दा रहा है और कई बार तो इसके चलते सरकारें बदल चुकी हैं। दूसरी ओर मोदी सरकार की वजह से पाकिस्तान की ऐसी हालत हो गई है कि वहां रोजमर्रा की चीजों की कीमतें आसमान छू रही हैं। पाकिस्तान महंगाई से कराह रहा है और वहां के लोगों को खाने के लाले पर रहे हैं। आइए नजर डालते हैं भारत और पाकिस्तान में जरूरी सामानों की कीमतों पर—

             पाक    भारत

दूध        180    55

टमाटर    60      16.80

प्याज     70       16

हरी मिर्च  280     80

लहसन  160       90

चीनी    70         32

करेला   220       25

अरहर दाल    180    110

चना दाल      130    90

(कीमतें प्रति किलो और प्रति लीटर में)

मोदी की नीतियों से पड़े खाने के लाले

मोदी सरकार ने जैसे ही पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीना तो पाकिस्तान भूखे मरने को मजबूर हो गया है। टमाटर जहां 300 रुपये प्रति किलो तक बिके, वहीं दूध 180 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गया। रमजान के महीने में पाकिस्तान की एक ही चाहत है कि किसी भी प्रकार भारत में मोदी सरकार की वापसी न हो।

 

Leave a Reply