Home समाचार प्रभावी तरीके से सुनी जा रही है आज भारत की आवाज

प्रभावी तरीके से सुनी जा रही है आज भारत की आवाज

179
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सशक्त व मजबूत नेतृत्व के कारण आज भारत की आवाज विश्व में प्रभावी तरीके से सुनी जा रही है। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरे होने के अवसर पर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि भारत की आवाज अब वैश्विक मंच पर कहीं अधिक सुनी जा रही,चाहे वह जी 20 हो या जलवायु सम्मेलन। उन्होंने कहा कि घरेलू और विदेश नीति के बीच एक मजबूत संबंध है। हमारे राष्ट्रीय नीति लक्ष्यों और विदेश नीति के लक्ष्यों के बीच सह-संबंध मजबूत हो गया है।

आइए, एक नज़र डालते हैं कि किस तरह पिछले पिछले 5 वर्षों में भारत की साख में बढ़ोतरी हुई है।  

पाकिस्तान को खानी पड़ी मुंह

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने को मुद्दे को लेकर पाकिस्तान ने विश्व के लगभग सभी देशों से मदद की गुहार लगाई लेकिन एक-दो देशों को छोड़कर किसी ने भी पाकिस्तान का साथ नहीं दिया। अमेरिका ने इसे द्विपक्षीय मुद्दा बताकर हस्तक्षेप करने से इंकार कर दिया। पाकिस्तान की तरफ से इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र में भी उठाने की कोशिश की गई है लेकिन उसे वहां भी मुंह की खानी पड़ी। 

मुस्लिम देशों ने पाकिस्तान को दी नसीहत

शक्तिशाली मुस्लिम देशों ने पाकिस्तान को भारत के खिलाफ बयानबाजी करने में संयम बरतने की नसीहत दी है। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार 3 सितंबर को सऊदी अरब के विदेश मंत्री आदिल अल जुबैर और संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री अब्दुल्ला बिन अल नाहयान इस्लामाबाद दौरे पर अपने नेतृत्व और कुछ अन्य शक्तिशाली देशों की ओर से संदेश लेकर आए थे। उन्होंने पाकिस्तान से कहा कि वह भारत के साथ  बातचीत करने की कोशिश करे और बयान देने में संयम बरते।

जी-7 शिखर सम्मलेन से मिला निमंत्रण

हाल में ही फ्रांस में हुए जी-7 समूह देशों के शिखर सम्मेलन में भारत को विशेष रूप से आमंत्रित किया गया। जी-7 दुनिया की सात सबसे बड़ी कथित विकसित और उन्नत अर्थव्यवस्था वाले देशों का समूह है, जिसमें कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और अमरीका शामिल हैं। इसे ग्रुप ऑफ़ सेवन भी कहते हैं। जी-7 देशों के मंत्री और नौकरशाह आपसी हितों के मामलों पर चर्चा करने के लिए हर साल मिलते हैं। जी-7 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए निमंत्रण मिलना भारत की बढ़ती ताकत को साफ दर्शाता है।

OIC सम्मेलन में अतिथि के रूप में मिला न्यौता

पाकिस्तान के विरोध के वावजूद मार्च 2019 में हुए मुस्लिम बहुल देशों के सबसे शक्तिशाली संस्था इस्लामी सहयोग संगठन (OIC) ने अपने कार्यक्रम में भारत को ‘गेस्ट ऑफ ऑनर’ के तौर पर आमंत्रित किया था। इस सम्मेलन में पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज शामिल हुईं और भारत की बातों को इस मंच पर मजबूती से रखा।

‘Howdy Modi  कार्यक्रम में मोदी संग होंगे ट्रंप

अमेरिका के ह्यूस्टन में आयोजित हाउडी मोदी कार्यक्रम में भारत के प्रधानमंत्री मोदी के साथ अमेरिका के राष्ट्रपति डोनााल्ड ट्रंप भी शामिल होंगे। दोनों नेता करीब 50,000 अमेरिकी नागरिकों को संबोधित करेंगे। इससे साफ है कि पिछले पांच वर्षों में वैश्विक स्तर भारत के महत्व को बखूबी समझा जा रहा है। ‘Howdy Modi कार्यक्रम में ट्रंप के शामिल होने की खबर की पाकिस्तान को तगड़ा झटका लगा है।

‘चैंपियंस ऑफ अर्थ द अवार्ड’ से मोदी हुए सम्मानित

प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी को पिछले साल संयुक्त राष्ट्र के सर्वोच्च पर्यावरण पुरस्कार ‘‘चैंपियंस ऑफ अर्थ द अवार्ड’’ से सम्मानित किया गया। इस अवार्ड को देने के लिए संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटारेस खुद दिल्ली पहुंचकर प्रधानमंत्री मोदी को सम्मानित किया। प्रधानमंत्री मोदी को चैंपियंस ऑफ अर्थ द अवार्ड मिलना हर एक भारतीय के लिए गर्व की बात है। 

 

Leave a Reply