Home समाचार हार्वर्ड के बाद विश्व बैंक ने भी माना, तेजी से बढ़ रही...

हार्वर्ड के बाद विश्व बैंक ने भी माना, तेजी से बढ़ रही भारतीय अर्थव्यवस्था

2002
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश की अर्थव्यवस्था जी से आगे बढ़ रही है। भारत की अर्थव्यवस्था के भविष्य को लेकर संस्थागत रिपोर्ट भी सकारात्मक आ रही है। विश्वभर में तेज गति से बढ़ रही अर्थव्यवस्था को लेकर विश्व बैंक ने एक सूची जारी की है। जो काफी सकारात्मक है।

तेज गति से बढ़ने वाली चौथी बड़ी अर्थव्यवस्था भारत
विश्व बैंक की सूची के अनुसार, तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था वाली सूची में भारत का स्थान चौथा है। साल 2017 में भारत की जीडीपी 7.2 प्रतिशत रहने की उम्मीद है। इसका सबसे बड़ा कारण, नरेंद्र मोदी की सरकार बनने के बाद स्टैंडअप इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, मेक इन इंडिया जैसे प्रोजेक्ट के कारण देश के बुनियादी ढांचे में भारी निवेश को माना जा रहा है। माना जा रहा है कि इस साल बारिश का मौसम ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि और खपत को बढ़ावा देगा। भारत के बाद टॉप-10 देशों की इस लिस्ट में तंज़ानिया, जिबूती, लाओस, कंबोडिया, फिलिपींस और बर्मा हैं।

वैश्विक स्तर पर जीडीपो ग्रोथ 2.7 फीसदी
विश्व बैंक के अनुसार वर्ष 2017 में इन देशों की जीडीपी 6.9 प्रतिशत से लेकर 8.3 प्रतिशत के बीच रहेगी। वहीं, विश्व आर्थिक फोरम के एक वैश्विक आर्थिक अध्ययन में जुटाए गए आंकड़ों के मुताबिक, विश्व स्तर पर औसतन 2.7% की जीडीपी दर का ही अनुमान है। लातिन अमरीकी और कैरेबियाई देशों की औसत वृद्धि केवल 0.8% ही रहने वाली है।

टॉप 10 चीन का नाम नहीं
दिलचस्प बात यह है कि साल 2017 में संभावित तेज़ आर्थिक वृद्धि करने वाले देशों की विश्व बैंक की इस लिस्ट में चीन का नाम पहले 10 में नहीं हैं। विश्व बैंक का अनुमान है कि दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था, चीन की साल 2017 में जीडीपी दर 6.5 प्रतिशत रहेगी और इस लक्ष्य को हासिल करने में चीन को सबसे ज़्यादा मदद निर्यात की वसूली से होगी।

हार्वर्ड विवि ने भी माना भारतीय अर्थव्यवस्था का लोहा
दो दिन पहले हार्वर्ड विश्वविद्यालय ने भी एक अध्ययन के बाद कहा है कि भारत चीन से आगे बढ़कर वैश्विक विकास के आर्थिक स्तंभ के रूप में उभरा है। आने वाले दशक में उम्मीद है कि भारत नेतृत्व को जारी रखेगा। हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (सीआईडी) के अनुसार विभिन्न कारणों के चलते, भारत 2025 तक सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं की सूची में सबसे ऊपर है, जिसका औसत 7.7 प्रतिशत की वार्षिक वृद्धि के साथ है।

Leave a Reply