Home समाचार प्रजेन्ट सर या मैडम नहीं, ‘स्वच्छ भारत’ बोलेंगे राजकोट के बच्चे

प्रजेन्ट सर या मैडम नहीं, ‘स्वच्छ भारत’ बोलेंगे राजकोट के बच्चे

645
SHARE

राजकोट अनोखे तरीके से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शुरू किए गये स्वच्छता अभियान से जुड़ गया है। राजकोट नगर निगम ने एक बार फिर देश के सामने नया आदर्श रखा है। अब यहां के स्कूलों में बच्चे हाजिरी के वक्त प्रजेन्ट सर या प्रेजेन्ट मैडम नहीं बोलेंगे। बच्चे कहेंगे-‘स्वच्छ भारत’।

राजकोट नगर निगम ने शहर के सभी 81 स्कूलों में लागू किया। ये पहल इसलिए ताकि शहर के स्कूलों में बच्चों की जुबान पर ‘स्वच्छ भारत’ हो। इसके पीछे की सोच यह है कि बच्चे ही कल का भविष्य हैं। अगर उनके दिमाग में ‘स्वच्छ भारत’ की बात बैठ गयी, तो न सिर्फ आज के समाज पर वो अपना असर दिखाएगी, बल्कि आने वाले समय में भी ‘स्वच्छ भारत’ आम लोगों के जीवन का हिस्सा बन जाएगा।

राजकोट देश के सामने पहले भी उदाहरण बन चुका है जब इसी साल भारतीय रेलवे ने देश के दो सबसे स्वच्छ रेलवे स्टेशनों में सूरत के साथ राजकोट के नाम की भी घोषणा की थी। राजकोट का रेलवे स्टेशन देश में सबसे ज्यादा साफ-सुथरा माना गया था।

साफ-सफाई को लेकर राजकोट के लोगों में जो चेतना है उसे देशभर में आदर्श के रूप में पेश करने के लिए यहां के नगर निगम ने ताजा पहल की है। इस बार इसकी शुरुआत स्कूलों और यहां पढ़ने वाले बच्चों से की गयी है।

नोटबंदी को लेकर भी राजकोट ने अच्छा-खासा उत्साह दिखाया है। राजकोट नगर निगम ने 500 रुपये और 1000 रुपये की शक्ल में टैक्स जमा कराने का अभियान छेड़ दिया। इसका नतीजा ये हुआ कि 2015 की तुलना में 926 फीसदी ज्यादा टैक्स वसूली हुई। राजकोट नगर निगम में टैक्स वसूली की जो रकम पिछलेसाल 3.34 करोड़ रुपये थी, वो दस गुणा से भी ज्यादा बढ़कर इस साल 34.27 करोड़ रुपये हो गयी।

LEAVE A REPLY