Home समाचार ममता की दहशत से लेफ्ट और कांग्रेस कार्यकर्ता दबाएंगे कमल बटन

ममता की दहशत से लेफ्ट और कांग्रेस कार्यकर्ता दबाएंगे कमल बटन

416
SHARE

इस लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में एक अलग तरह का महागठबंधन दिख रहा है। देश भर में बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन बनाने वाली विपक्षी पार्टियों का दांव यहां उल्टा पड़ गया है क्योंकि ममता के गुंडाराज और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के आंतक से परेशान दूसरी पार्टियों के लोग बीजेपी के समर्थन में आ गए हैं। इनमें लेफ्ट और कांग्रेस के पुराने कार्यकर्ता हैं, जो ममता बनर्जी के गुंडाराज से परेशान हैं और कहीं खुलेआम तो कहीं चोरी-छिपे बीजेपी की मदद कर रहे हैं। परफॉर्म इंडिया ने राज्य के अलग-अलग हिस्सों में लोगों से बातचीत कर सच्चाई जानी तो ममता बनर्जी के शासन के खिलाफ राज्य के लोगों के असंतोष का पता चला। इन लोगों ने बताया कि ममता हर कीमत पर विरोधियों को दबाने की कोशिश कर रही हैं। इसके लिए तृणमूल कैडर पूरे राज्य में जोर-जबरदस्ती कर रहा है। ममता से मुकाबले के लिए बीजेपी ही एकमात्र विकल्प है क्योंकि लेफ्ट पार्टियों का राज्य से सफाया हो चुका है जबकि कांग्रेस अधिकतर सीटों पर मुकाबले से बाहर है।

यह भी पढ़ेंः मोदी को हराने ममता बनर्जी ने किया माओवादियों से गठजोड़

शीर्ष नेता कर रहे अपील
बंगाल में वामपंथियों के कुछ शीर्ष नेताओं ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि पार्टी कैडर को बीजेपी के पक्ष में काम करने की सलाह दी गई है। उन्होंने यह भी बताया कि तृणमूल कांग्रेस की हिंसा का जवाब बीजेपी ही दे सकती है। राज्य के शीर्ष कांग्रेस नेताओं ने भी कहा कि जिन सीटों पर कांग्रेस मजबूत नहीं है, वहां पार्टी कार्यकर्ताओं को बीजेपी का समर्थन करने का निर्देश दिया गया है।

 

Leave a Reply