Home समाचार संपादक पर सवाल उठाने पर जेटली ने राहुल को लताड़ा, कहा- तानाशाह...

संपादक पर सवाल उठाने पर जेटली ने राहुल को लताड़ा, कहा- तानाशाह के पोते ने दिखाया डीएनए

333
SHARE

पत्रकार की निष्पक्षता पर सवाल उठाने को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को आड़े हाथों लिया है। अरुण जेटली ने राहुल के साथ एजेंडा पत्रकारों को भी लपेटे में लिया। सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर उन्होंने लिखा, ‘इमरजेंसी के तानाशाह के पोते ने एक स्वतंत्र संपादक को डरा-धमका कर अपना असली डीएनए दिखाया है। छद्म उदारवादी चुप क्यों है? एडिटर्स गिल्ड की प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा कर रहे है।’

दरअसल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का इंटरव्यू करने वाली पत्रकार स्मिता प्रकाश की निष्पक्षता पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि इंटरव्यू लेने वाली पत्रकार खुद सवाल भी कर रहीं थी और जवाब भी दे रहीं थी। राहुल ने कहा कि इंटरव्यू करने वाली पत्रकार, Pliable हैं… यानी सत्ता के प्रति बहुत लचीली हैं और इसमें कड़े सवाल नहीं पूछे गए। जबकि स्मिता प्रकाश ने हर वो सवाल पूछे, जिनके जवाब विपक्ष के लोग प्रधानमंत्री से जानना चाहते हैं। राहुल गांधी के बयान पर पलटवार करते हुए स्मिता प्रकाश ने  लिखा, ‘ डियर राहुल गांधी, आपने प्रेस कॉन्फ्रेस में मुझ पर हमला किया। मैं सवाल पूछ रही थी, जवाब नहीं दे रही थी। अगर आप पीएम मोदी पर हमला करना चाहते हैं तो आगे बढ़े, लेकिन मेरा उपहास बेतुका है। देश के सबसे पुराने राजनीतिक दल के अध्यक्ष से ऐसी उम्मीद नहीं है।’

अब सवाल यह उठता है कि मीडिया का एक बहुत बड़ा वर्ग इस पर चुप क्यों है? राहुल ने जब प्रेस कॉन्फ्रेस में संपादक की निष्पक्षता पर सवाल उठाए तो वहां मौजूद किसी पत्रकार ने उन्हें टोका क्यों नहीं?

क्या कुछ पत्रकार राहुल से इसलिए सवाल नहीं कर रहे, क्योंकि कांग्रेस ने ही उन्हें पाल पोसकर बड़ा किया है। राहुल के बयान ने एक बार फिर कुछ पत्रकारों का चेहरा बेनकाब कर दिया है। बात-बात पर संसद मार्च और प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में धरना प्रदर्शन करने वाले छद्म पत्रकार चुप हैं।

LEAVE A REPLY