Home समाचार राबड़ी ने पीएम मोदी को कहा ‘जल्लाद’, जानिए कब-कब विरोधियों ने की...

राबड़ी ने पीएम मोदी को कहा ‘जल्लाद’, जानिए कब-कब विरोधियों ने की बदजुबानी

193
SHARE

चुनावी माहौल में सत्ता के लिए राजनीतिक दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप सामान्य घटना है, लेकिन लगता है कि हार के डर से विरोधी पार्टी के नेता सामान्य शिष्टाचार भी भूल गए हैं और पीएम मोदी के खिलाफ गाली-गलौज से भी बाज नहीं आ रहे…बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और राजद नेता राबड़ी देवी ने मोदी को जल्लाद कहा है। वहीं, पश्चिम बंगाल की सीएम ने पीएम को थप्पड़ लगाने की इच्छा जताते हुए उन्हें दंगाई कह दिया। कांग्रेस को छोड़ भी दें तो दूसरी विपक्षी पार्टियों के नेता पीएम को अब तक 24 गालियां दे चुके हैं। 

इसके पहले भी कई विपक्षी नेता प्रधानमंत्री मोदी के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल कर चुके हैं-

बदरुद्दीन अजमल ने कहा, मोदी चाय-पकौड़े बेचेंगे
असम की ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (एआईयूडीएफ) के अध्यक्ष बदरुद्दीन अजमल ने प्रधानमंत्री मोदी पर विवादित बयान दिया है। असम के चिरांग में उन्होंने कहा कि वह उन्हें देश से बाहर निकालेंगे। बदरुद्दीन अजमल यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि पीएम मोदी कहीं भी जाकर चाय या पकौड़े बेच सकते हैं। बदरुद्दीन अजमल ने कहा, ‘मोदी विरोधी जितने भी गठबंधन हैं उसमें हम भी हैं। वो सब मिलकर मोदी जी को देश से बाहर निकालेंगे। मोदी जी जाकर कहीं न कहीं चाय की दुकान चलाएंगे या फिर पकौड़े भी बेच सकते हैं।’

सपा नेता अबू आजमी ने पीएम मोदी को दी गाली
समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र में सपा के अध्यक्ष अबू आसिम आजमी ने प्रधानमंत्री मोदी के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल किया है। पिछले साल दिसंबर में उत्तर प्रदेश के अंबेडकरनगर में अबू आजमी ने मीडिया से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी को अनपढ़ और गधा तक कह डाला। उन्होंने ये भी कहा कि पीएम मोदी की बातों पर उनके मातहत अधिकारी हंसते हैं।

स्टालिन ने पीएम मोदी को ‘पॉलिटिकल ब्रोकर’ कहा
अबू आजमी के अलावा डीएमके के नेता एम के स्टालिन ने भी प्रधानमंत्री मोदी को गाली दी है। स्टालिन ने प्रधानमंत्री को पॉलिटिकल ब्रोकर यानि राजनीतिक दलाल कहा है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी अपने पद की मर्यादा को भूलकर राजनीतिक दलाली में लगे हुए हैं।

कन्हैया कुमार ने पीएम मोदी को नालायक कहा
25/11/2018
मुंबई में कांग्रेस, लेफ्ट और एनसीपी द्वारा आयोजित संविधान बचाओ कार्यक्रम में जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने प्रधानमंत्री मोदी को गाली दी थी। कन्हैया कुमार ने पीएम मोदी को नालायाक कहा था।

चंद्रबाबू के करीबी मंत्री ने की आपत्तिजनक टिप्पणी
आंध्र प्रदेश के वित्त मंत्री और टीडीपी पोलित ब्यूरो के सदस्य यनमाला रामकृष्णुडू ने प्रधानमंत्री मोदी को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया। मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू के करीबी रामकृष्णुडू ने 3 नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी की तुलना ‘एनाकोंडा’ से की। प्रधानमंत्री मोदी के बारे में अपशब्द का प्रयोग करते हुए उन्होंने कहा कि उनसे बड़ा कोई एनाकोंडा नहीं है। वह सीबीआई, आरबीआई और उन जैसी दूसरी संस्थाओं को निगल रहे हैं। वह रक्षक कैसे हो सकते हैं।

केजरीवाल शेर हैं, मोदी खिसयानी बिल्ली: सिसोदिया
दिल्ली के विवादित मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के करीबी और उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार 4 नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द का इस्तेमाल किया। दिल्ली में सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन के मौके पर सिसोदिया ने कहा कि केजरीवाल शेर हैं, जिन्होंने प्रधानमंत्री द्वारा पैदा की गई अड़चनों के बावजूद ब्रिज का उद्घाटन किया, अब अड़चनें पैदा करने वाले खिसयानी बिल्ली की तरह खंभा नोच रहे हैं।

एनसीपी नेता माजिद मेनन ने कहा धोबी का कुत्ता
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता माजिद मेमन ने प्रधानमंत्री मोदी के 14 सितंबर को इंदौर में दाऊदी बोहरा मुसलमानों के कार्यक्रम में पहुंचने पर विवादित बयान दिया। माजिद मेमन ने प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर 17 सितंबर को कहा कि, ‘मोदी जी बोहरा समाज के पास गए इस विचार से कि शायद मुस्लमानों को रिझा लिया जाएगा, लेकिन ना वो इधर के रहेंगे ना उधर के रहेंगे। धोबी के कुत्ते वाली बात हो जाती है।’

येचुरी ने कहा दुर्योधन
सीपीआई (एम) के महासचिव सीताराम येचुरी भी ऐसे ही नेताओं में से एक हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए दुर्योधन कहा। सीताराम येचुरी ने 22 अप्रैल, 2018 को कहा कि महाभारत में कौरव सौ भाई थे लेकिन ज्यादातर लोग सिर्फ दो भाई दुर्योधन और दुशासन को ही जानते हैं। इसी तरह भाजपा में लोग नरेन्द्र मोदी और अमित शाह को जानते हैं। सीताराम येचुरी की यह टिप्पणी उनकी पार्टी की मानसिकता को दर्शाती है।

‘हिमालय जाकर अपनी हड्डियां गलानी चाहिए।’ –  जिग्नेश मेवानी 
जिग्नेश मेवानी ने न्यूज चैनल आजतक पर 19 दिसंबर, 2017 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए कहा कि वे ‘मानसिक तौर पर बूढ़े हो चले हैं, उन्हें रिटायर हो जाना चाहिए, उन्हें हिमालय में जाकर हड्डियां गलानी चाहिए। बहुत बोरिंग आदमी हो गया है।’ इस दौरान जिग्नेश के अलावा राहुल के दो और सियासी गुर्गे हार्दिक पटेल और अल्पेश ठाकोर भी मौजूद थे। 

खाल उधेड़वा लेंगे- लालू का बेटा
आरजेडी नेता लालू यादव के बड़े बेटे और बिहार के पूर्व मंत्री तेज प्रताप यादव की छवि हमेशा से संदिग्ध रही है, लेकिन इस बात की उम्मीद शायद ही किसी ने की हो की वह देश के प्रधानमंत्री के लिए आपराधिक भाषा का इस्तेमाल करेंगे। मोदी सरकार द्वारा पिता की सुरक्षा में हुई कटौती से वह काफी बौखला गए और कहा, “हम लोग कार्यक्रमों में जाते रहते हैं। लालू प्रसाद जी भी इन कार्यक्रमों में जाते रहते हैं। ऐसे में सुरक्षा वापस लेना, उनकी हत्या कराने की साजिश है। हम इसका मुहतोड़ जवाब देंगे, नरेंद्र मोदी जी की खाल उधड़वा देंगे।”

Embedded video

ANI

@ANI

: Lalu Yadav’s son Tej Pratap responds to question on his father’s security downgrade, says, ‘Narendra Modi Ji ka khaal udhedva lenge’

3,411 people are talking about this

हाथ और गला काटने वाले भी बहुत लोग हैं-राबड़ी देवी
कहते हैं कि बच्चे अपने मां-बाप से ही संस्कार सीखते हैं। तेज प्रताप ने पीएम मोदी के बारे में जिस भाषा का इस्तेमाल किया उसकी शिक्षा उन्हें शायद अपना माता और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से ही मिली है। राबड़ी देवी ने पार्टी के एक कार्यक्रम में देश के पीएम को यह कहकर धमकाया कि, “बिहार में नरेंद्र मोदी का हाथ और गला काटने वाले भी बहुत लोग हैं।”

जुमला जयंती पर आनंदित वैशाखनंदन- मृणाल पांडे 
राजनीतिक विरोधियों की बौखलाहट को तो कुछ हद तक समझी भी जा सकती है, लेकिन सवाल तब उठता है जब बुद्धिजीवी होने का दंभ भरने वाले लोग भी घटिया हरकत कर बैठते हैं। कुछ निहित स्वार्थी पत्रकार इसी श्रेणी में शामिल हैं। जैसे कांग्रेस की करीबी माने जाने वाली मृणाल पांडे ने प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर भी अशोभनीय भाषा लिखकर अपना असली एजेंडा जाहिर कर दिया। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “जुमला जयंती पर पर आनंदित, पुलकित, रोमांचित वैशाखनंदन।” इससे भी घिनौनी हरकत तो यह रही कि उन्होंने इसके साथ एक गदहे की तस्वीर पोस्ट की।

Mrinal Pande@MrinalPande1

पर आनंदित, पुलकित, रोमांचित वैशाखनंदन ।

3,089 people are talking about this

खून का सौदागर- लालू यादव
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की लाइन पर जाते हुए उनके सियासी चहेते लालू यादव ने भी एक बार नरेन्द्र मोदी के विरोध में सोनिया की तर्ज पर ही बेहद अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया था। लालू ने कहा था, “नरेंद्र मोदी खून का सौदागर है।”

%&$ भाइयों की तरह ताली बजाता है- लालू यादव
लालू यादव के बेटे और पत्नी देश के प्रधानमंत्री को खुलेआम अपराधियों की तरह धमकाते हैं, तो उसकी वजह यही है कि लालू खुद अभद्रता करने के बहुत बड़े उदाहरण रहे हैं। उन्होंने एक चुनावी रैली में पीएम मोदी के लिए कहा- “%&$ भाइयों की तरह ताली बजा बजाके बोलता है”

Coward and Psychopath- अरविंद केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपनी गंदी जुबान से अबतक राजनीति को जितना नुकसान पहुंचाया है, उससे देश की छवि बहुत खराब हुई है। प्रधानमंत्री मोदी की ईमानदार नीतियों से वह एक बार इतने परेशान हो गए कि उन्होंने कहा, “मोदी कायर और मनोरोगी हैं।”

बेशर्म तानाशाह- अरविंद केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल देश के बच्चे-बच्चे के लिए बदजुबानी के पर्याय बन चुके हैं। उन्होंने अपनी गंदी जुबान से न सिर्फ राजनीतिक को गंदा किया है, बल्कि मुख्यमंत्री के संवैधानिक पद को भी कलंकित किया है। इसी कड़ी में पंजाब चुनाव के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बेशर्म तानाशाह कहकर संबोधित किया था।

Arvind Kejriwal

@ArvindKejriwal

Modiji’s dirty tricks. Losing badly in Goa n Punjab, he tries to de-register the winning party 24 hrs before elections. Shameless dictator

AAP In News

@AAPInNews

IT Dept asks EC to cancel AAP party status over ‘false audit’

View image on Twitter
2,974 people are talking about this

आप जालिम हैं- असदुद्दीन ओवैसी
नोटबंदी के फैसले को मुसलमानों के खिलाफ बताते हुए एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम मोदी के लिए अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया। उन्होंने कहा, “आप फकीर नहीं हैं, आप तो जालिम हैं।”

यमराज- सतीश चंद्र मिश्रा
प्रधानमंत्री के नोटबंदी के फैसले से बीएसपी और उसके नेतृत्व की बौखलाहट और उसके पीछे की वजहों से पूरा देश परिचित है। शायद यही वजह है कि पार्टी नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने नोटबंदी के दौरान जो भी मौतें हुईं उन्हें नोटबंदी से तो जोड़ा ही, बिना सीधा नाम लिए पीएम मोदी को यमराज तक कहने में संकोच नहीं किया।

सबसे बड़ा रावण- आजम खान
समाजवादी पार्टी नेता और यूपी के पूर्व मंत्री आजम खान अपनी दंगी जुबान के लिए ही ज्यादा मशहूर हैं। यही वजह है कि एक बार उन्होंने अपनी खीज मिटाने के लिए बिना नाम लिए प्रधानमंत्री को सबसे बड़ा रावण बता दिया। उन्होंने कहा कि, ”वो 131 करोड़ का बादशाह है, रावण जलाने लखनऊ जाता है लेकिन ये भूल जाता है कि सबसे बड़ा रावण लखनऊ में नहीं दिल्ली में रहता है।”

 

चूहे के बच्चे की तरह बिल में घुस जाएंगे- कल्याण बनर्जी
तृणमूल कांग्रेस नेता कल्याण बनर्जी ने पीएम मोदी को लेकर बहुत ही अमर्यादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था, “मोदी चूहे के बच्चे की तरह गुजरात में अपने बिल में घुस जाएंगे।”

इमाम ने दिया सिर मुंडकर मुंह काला करने का फतवा
कोलकाता के टीपू सुल्तान मस्जिद के शाही इमाम सैयद मोहम्मद नुरूर रहमानी बरकती ने नोटबंदी के फैसले के विरोध में देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ बहुत ही अपमानजनक फतवा जारी किया। फतवे के मुताबिक प्रधानमंत्री का सिर मुंडकर उनका मुंह काला करने वाले को 25 लाख रुपये का इनाम देने की बात कही गई। जब इमाम ये गुस्ताखी कर रहा था, वहां पर पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी टीएमसी के सांसद मोहम्मद इदरीस भी मौजूद थे।

 

Leave a Reply