Home नरेंद्र मोदी विशेष दुनिया भर के टूरिस्टों को वाराणसी आने के लिए मजबूर करना है:...

दुनिया भर के टूरिस्टों को वाराणसी आने के लिए मजबूर करना है: प्रधानमंत्री मोदी

348
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कई योजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास के साथ एक जनसभा को संबोधित किया। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने बनारस के लोगों को धन्यवाद देते हुए कहा कि फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों को उन्होंने जो स्वागत-सम्मान दिया , उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता।

सौर ऊर्जा लाएगी बड़े बदलाव

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत और फ्रांस दुनिया में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं और यह एक ऐसा अभियान है जो हिन्दुस्तान के जीवन में भी बहुत बड़ा बदलाव लाने वाला है। उन्होंने कहा कि सोलर चूल्हों से खाना पकाने पर जोर दिया जाए, तो वो क्लीन कुकिंग का एक अभियान होगा। प्रधानमंत्री ने नौजवानों और आईआईटीअन्स का आह्वान करते हुए कहा कि वे ऐसी टेक्नोलॉजी विकसित करें जिससे देश की माताओं और बहनों को खाना पकाने के लिए किसी पर निर्भर ना रहना पड़े।

वाराणसी को स्वच्छ रखना है

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वाराणसी को हमारे पूर्वजों ने बड़ा नाम दिया है, हमें इसे बस स्वच्छ रखना है जिससे दुनिया भर के टूरिस्ट यहां आने को मजबूर होंगे। प्रधानमंत्री ने काशी और पटना को जोड़ने वाली नई रेल सेवा शुरू किए जाने को लेकर अपनी खुशी जाहिर की। इस जनशताब्दी सर्विस से काशी और पटना की दूरी कम से कम समय में तय होगी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अगर काशी की पहचान हर-हर महादेव से होती है तो इसकी औद्योगिक पहचान DLW (Diesel Locomotive Works) से होती है। प्रधानमंत्री ने कहा कि यही वजह है जो DLW के तहत अनेक नई योजनाएं आगे बढ़ाने की दिशा में काम चल रहा है।

गरीब परिवारों को आवास की चाबी सौंपने से खुशी

प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीब परिवारों को आवास की चाबी सौंपने का अवसर उनके लिए अभिभूत करने वाला था। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को आवास की सुविधाएं प्राप्त हुई हैं उनसे अब उन्होंने बच्चों की पढ़ाई पर ध्यान देने का आग्रह किया है। प्रधानमंत्री ने इस मौके पर आयुष्मान भारत योजना और राष्ट्रीय पोषण मिशन का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना से गरीब से गरीब के लिए भी अब इलाज का खर्च संभव होगा। वहीं पोषण मिशन के तहत बच्चों के लिए आवश्यक पोषण और प्रशिक्षण खासकर माताओं की ट्रेनिग की व्यवस्था की गई है।

 

LEAVE A REPLY