Home नरेंद्र मोदी विशेष प्रधानमंत्री मोदी की काशी में 12वीं तीर्थ यात्रा – विशेष रिपोर्ट

प्रधानमंत्री मोदी की काशी में 12वीं तीर्थ यात्रा – विशेष रिपोर्ट

850
SHARE

पीएम मोदी के लिए काशी किसी तीर्थ यात्रा से कम नहीं है। सच तो यह है कि वो बनारस आने का कोई भी मौका नहीं छोड़ते है। नमामी गंगे अभियान की शुरुआत हो या जापानी प्रधानमंत्री को बनारस की गंगा आरती में शामिल करने का कार्यक्रम; बीएचयू का दीक्षांत समारोह हो या दिव्यांगों से जुड़ा कार्यक्रम – श्री मोदी के लिए हमेशा से ही बनारस उनके दिल के करीब रहा है। यही वजह है कि शायद ही भारत के इतिहास में कोई भी प्रधानमंत्री इतने कम समय में इतनी बार भोले की नगरी में आया हो। अभी तक प्रधानमंत्री महज ढाई साल में 12 बार बनारस आ चुके है। आइए एक नजर डाल लेते है कब-कब प्रधानमंत्री बनारस आए और जब भी आए तो काशी के लिए कुछ न कुछ सौगात लेकर आए।

पहली बार – 7 नवंबर, 2014
प्रधानमंत्री ने पहली बार वाराणसी का दौरा अपने गोद लिए गांव में किया था। श्री मोदी ने ‘सांसद आदर्श ग्राम योजना’ के तहत जयापुर को गोद लिया था। प्रधानमंत्री ने जयापुर में हुई एक दुखद घटना के कारण सबसे पहले बनारस के इसी गांव का नाम सुना था जिसके चलते उन्होंने जयापुर को गोद लिया।

दूसरी बार – 8 नवंबर, 2014
प्रधानमंत्री ने अस्सी घाट में श्रमदान करके वाराणसी में स्वच्छता अभियान की शुरूआत की। प्रधानमंत्री ने इसी दिन यहां से ‘स्वच्छ गंगा अभियान’ की शुरूआत की थी। यहां उन्होंने गंगा आरती में भी हिस्सा लिया।

तीसरी बार – 25 दिसंबर, 2015
प्रधानमंत्री इस मौके पर बीएचयू गए और इसी दिन पीएम ने काशी को 6 योजनाओं की सौगात दी। साथ ही इसी दिन प्रधानमंत्री ने श्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन को सुशासन दिवस के तौर पर मनाने की भी घोषणा की थी।

चौथी बार -18 सितंबर, 2015
प्रधानमंत्री ने अपने इस दौरे में बनारस का कई सौगातें दी। उन्होंने एकीकृत उर्जा विकास योजनाओं का शुभारंभ किया, साथ ही सड़क और बिजली परियोजनाओं की आधारशिला रखी और बनारस हिंदू विश्वविद्यालय स्थित ट्रॉमा सेंटर भी राष्ट्र को समर्पित किया।

पांचवी बार – 12 दिसंबर, 2015
इस दौरे में पीएम मोदी जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ बनारस आए और गंगा आरती में शामिल हुए। यहीं जापान ने भारत को बुलेट ट्रेन के लिए सस्ते दर पर 12 अरब डॉलर का कर्ज देने की घोषणा की थी।

छठी बार – 22 जनवरी, 2016
प्रधानमंत्री ने इस दिन 9296 दिव्यांगो को सहायक उपकरण दिए, साथ ही दिव्यांगों के लिए एक विश्वविद्यालय बनाने की भी घोषणा की।

सातवीं बार – 22 फरवरी, 2016
प्रधानमंत्री ने बनारस के अपने इस सातवें दौरे में बीएचयू के दीक्षांत समारोह में शिरकत की।

आठवीं बार – 01 मई, 2016
प्रधानमंत्री ने इस दिन वाराणसी के डीरेका मैदान में ई-रिक्शा कार्यक्रम में रिक्शा वितरित किए। और फिर शाम-ए-बनारस कार्यक्रम में भी हिस्सा लिया था।

.

नौवीं बार – 24 अक्टूबर, 2016
श्री मोदी ने अपने इस दौरे में सात परियोजनाओं की शुरुआत की जिसमें सिटी गैस परियोजना का शिलान्यास प्रमुख था।

दसवीं बार – 22 दिसंबर, 2016
अपने इस दौरे में पीएम ने सौगातों की झड़ी लगा दी। श्री मोदी ने पंडित मदन मोहन मालवीय कैंसर सेंटर और शताब्दी मल्टी स्पेशलिटी अस्पताल का शिलान्यास किया। साथ ही सुपर स्पेशलिटी कॉम्पलेक्स बीएचयू का भी शिलान्यास किया। इसके अलावा कई दूसरी योजनाओं की शुरुआत की थी।

ग्यारहवीं बार – 4 मार्च, 2017
प्रधानमंत्री ने वाराणसी में उत्तर प्रदेश के चुनाव के अंतिम चरण में ग्यारहवीं बार 4 मार्च को वाराणसी पहुंचे। 4 मार्च को प्रधानमंत्री ने सबसे पहले वीएचयू में मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया उसके बाद काशी विश्वनाथ और काल भैरव में पूजा की। इस दौरान रास्ते में प्रधानमंत्री को देखने के लिए भारी भीड़ जुटी।

बारहवीं बार – 5-6 मार्च, 2017

अगले ही दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फिर से वाराणसी पहुंचे। इस बार रात में भी वाराणसी में ही ठहरे। 5 मार्च को उन्होंने जहां बकायदा रोड शो किया। वहीं शाम को वाराणसी के बुद्धिजीवी लोगों के साथ मुलाकात की। 6 मार्च को प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के आवास पहुंचे और उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी। जबकि गढ़वा घाट आश्रम जाकर गौसेवा की।

 

LEAVE A REPLY