Home नरेंद्र मोदी विशेष बच्चों और छात्रों के साथ प्रधानमंत्री मोदी के आत्मीय क्षण

बच्चों और छात्रों के साथ प्रधानमंत्री मोदी के आत्मीय क्षण

869
SHARE

प्रधानमंत्री का छात्रों और बच्चों से प्रेम किसी से छुपा नहीं है। इसलिए चाहे कोई भी मंच हो वो बच्चों से अपने बात शेयर करना नहीं भूलते। 28वें मन की बात संस्करण में प्रधानमंत्री ने सफलता के कुछ मंत्र दिए, उन्होंने कहा था कि “सचमुच में, जीवन को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिस्पर्धा काम नहीं आती है। जीवन को आगे बढ़ाने के लिए अनुस्पर्धा काम आती है और जब अनुस्पर्धा मैं कहता हूं, तो उसका मतलब है, स्वयं से स्पर्धा करना।“

LEAVE A REPLY