Home नरेंद्र मोदी विशेष प्रधानमंत्री मोदी ने कर्नाटक में फूंका चुनावी बिगुल, राहुल को बिना पर्ची...

प्रधानमंत्री मोदी ने कर्नाटक में फूंका चुनावी बिगुल, राहुल को बिना पर्ची के 15 मिनट बोलने की दी चुनौती

1085
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कर्नाटक में चुनावी बिगुल फूंक दिया है। मंगलवार को पीएम मोदी ने कर्नाटक के चामराजनगर में अपनी पहली चुनावी जनसभा को संबोधित किया। जनसभा में उमड़ी भीड़ को देखकर उन्होंने कहा कि ‘कर्नाटक में भाजपा की हवा नहीं आंधी चल रही है। जिस उत्साह के साथ आप लोग धूप में खड़े होकर तप कर रहे हैं, आपकी तपस्या बेकार नहीं जाएगी।‘ उन्होंने कहा कि कर्नाटक की जनता ने कांग्रेस को सजा देने का निर्णय कर लिया है। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में जहां केंद्र सरकार की उपलब्धियों के बारे में बताया वहीं राज्य की कांग्रेस सरकार की भ्रष्ट नीतियों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी जी का आखिरी सपना था कि कांग्रेस को बिखेर दो, देश के जिस भी राज्य को पिछले चार साल में मौका मिला, उन्होंने गांधी जी के सपने को पूरा करने का प्रयास किया है, अब बारी कर्नाटक की जनता की है।

जनता को गुमराह कर रही है कांग्रेस
प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी देश की जनता को गुमराह कर रही है। पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के 15 मिनट लोकसभा में बोलने देने वाले बयान का भी जिक्र किया। आपको बता दें कि राहुल गांधी ने कहा था कि अगर वो 15 मिनट संसद में बोलेंगे तो मोदी जी उनके सामने बैठ नहीं पाएंगे। इस पर श्री मोदी ने कहा कि राहुल जी नामदार है, और हम कामदार हैं, हमारी हैसियत नहीं है उनके सामने बैठने की। श्री मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को कर्नाटक में चुनाव प्रचार के दौरान हिंदी-अंग्रेजी या अपनी मां की मातृभाषा में 15 मिनट तक बगैर किसी पर्ची के कर्नाटक सरकार की उपलब्धियां बताने की चुनौती भी दी।

देवगौड़ा के अपमान को लेकर राहुल पर निशाना
प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व पीएम एच डी देवेगौड़ा के अपमान का भी मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों कर्नाटक की रैली में ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने देवेगौड़ा जी का अनादर किया। यह उनके संस्कार और अहंकार को दिखाता है। अभी तो राहुल गांधी के करियर की शुरुआत है, अगर अभी यह हाल तो आगे कितने बुरे दिन आएंगे, इसके बारे में सोचा जा सकता है।

वंशवाद की राजनीति ने देश को बर्बाद किया
वंशवाद और परिवारवाद की राजनीति पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वंशवाद की राजनीति ने दलों को ही नहीं देश और लोकतंत्र को भी बर्बाद किया है। फैमिली पॉलिटिक्स ही कर्नाटक की बर्बादी का कारण है। कर्नाटक में 2 प्लस 1 का फार्मूला चल रहा है, मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को डर है कि कहीं वो हार न जाएं, इसलिए उन्होंने दो जगहों से पर्चा भरा है, वहीं अपनी परंपरागत सीट से बेटे को मैदान में उतारा है। इसी तरह राज्य के कई मंत्रियों ने 1 प्लस 1 फार्मूले के तहत अपने बेटे-बेटियों को भी चुनाव मैदान में उतारा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जहां-जहां कांग्रेस की सरकार होती है वहां अपराध, भ्रष्टाचार, भाई भतीजे वाद का बोलबाला होता है और विकास के सारे रास्ते जाम हो जाते हैं।

कांग्रेस ने कर्नाटक में खेला हिंसा का खेल
पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने कर्नाटक में दूसरी विचारधारा के लोगों को निशाना बनाया। पिछले दो वर्षों में कर्नाटक में दो दर्जन से ज्यादा भाजपा के कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार दिया गया, हिंसा का खेल खेला गया। हिंसा की मानसिकता की कर्नाटक से और देश से विदाई होनी चाहिए। पहले कर्नाटक का बहुत नाम था, लेकिन पांच वर्षो में कांग्रेस ने इसे बदनाम कर दिया है। केंद्र सरकार जहां ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के साथ देश को आगे बढ़ा रही है, वहीं कर्नाटक में कांग्रेस ईज ऑफ डूइंग मर्डर को आगे बढ़ा रही है।

कर्नाटक में सैंड माफिया के पीछे सरकार
रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस के राज में अपराध सामने ही नहीं आ पाते हैं। कर्नाटक में माफियाओं की कहानी सबने सुनी है, लेकिन अब सैंड माफिया सामने आ रहे हैं। कर्नाटक हाई कोर्ट को भी सरकार के खिलाफ कड़ी टिप्पणी करनी पड़ी है। गरीब आदमी को घर बनाने के लिए ब्लैक में बालू खरीदनी पड़ती है। इनके पीछे सत्ता में बैठे लोगों का हाथ है।

मजदूरों की मेहनत से सभी गांवों में पहुंची बिजली
चामराजनगर की चुनावी सभा में पीएम मोदी ने मई दिवस के अवसर पर 28 अप्रैल को देश के सभी गांवों में बिजली पहुंचाने में मदद करने वाले मेहनतकश मजदूरों के योगदान को याद किया और कहा कि इन्हीं लोगों की मेहनत के बल पर 18,000 गांवों में बिजली पहुंचाने का काम पूरा हो सका है। प्रधानमंत्री ने बताया कि 2014 में कर्नाटक में 39 गांव ऐसे थे जहां बिजली नहीं पहुंची थी, लेकिन केंद्र सरकार की इस योजना के तहत इन सभी गांवों में भी बिजली पहुंच गई है। बिजली पहुंचाने के मुद्दे पर कांग्रेस द्वारा मजाक उड़ाने पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी और उसके अध्यक्ष ने हमेशा गरीबों और मजदूरों को मखौल उड़ाया है। पीएम मोदी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने 2005 में कहा था कि उनकी सरकार 2009 तक सभी गांवों में बिजली पहुंचा देगी। इतना ही नहीं कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी ने कहा था कि 2009 तक देश के हर घर में बिजली पहुंचा दी जाएगी, लेकिन 2014 तक ऐसा नहीं हो सका।

केंद्र सरकार की योजनाओं के बारे में बताया
भाषण के दौरान पीएम मोदी ने केंद्र की तरफ से राज्य में चलाई जा रही विकास योजनाओं के बारे में बताया। पीएम मोदी ने बताया कि केंद्र सरकार कर्नाटक में 80,000 करोड़ की विकास योजनाएं चला रही है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को पाने के लिए योजनाबद्ध तरीके से काम कर रही है। किसान और कृषि से जुड़ी हर छोटी-बड़ी आवश्यकताओं पर ध्यान दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के जरिए सरकार प्राकृतिक आपदाओं, बाढ़, बारिश, ओले से किसानों को होने वाले फसल के नुकसान की भरपाई कर रही है। कर्नाटक के 14 लाख से अधिक किसानों ने इसका फायदा उठाया है और क्लेम की राशि भी दोगुनी हो गई है, जिसे किसानों को दिया गया है। पीएम मोदी ने बताया कि किसानों को फसल का सही दाम मिले इसलिए नई एमएसपी की योजना घोषित की गई है, जिसके तहत किसानों की लागत का डेढ़ गुना एमएसपी घोषित किया जाएगा, ताकि किसानों को कोई लूट न पाए। केंद्र सरकार ने पूरे देश में पानी से जुड़ी 99 परियोजनाएं शुरू की हैं, कर्नाटक में भी ऐसी 5 योजनाओं पर काम शुरू किया गया है, ताकि हर खेत तक पानी पहुंचाया जाए।

गरीबों को बैंकिंग व्यवस्था से जोड़ा
उडुपी में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के बाद भी गरीबों के नाम पर बैंकों के राष्ट्रीयकरण किए, सत्ता हथियाने के लिए खेल खेले, लेकिन गरीब कभी बैंक के दरवाजे तक नहीं जा सका। केंद्र में एनडीए की सरकार बनने पर गरीबों को बैंकों से जोड़ा गया। 31 करोड़ से ज्यादा यानी करीब 40 फीसदी आबादी बैंकिंग व्यवस्था से बाहर थी। केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री जन-धन योजना के जरिए लोगों के जीरो बैलेंस खाते खोले। देश के गरीब लोगों ने इन खातों में 80 हजार करोड़ रुपये जमा कर दिए। अगर इन्हें 40-50 साल पहले मौका मिला होता तो उनका भी विकास हो गया होता और देश की अर्थव्यवस्था का भी।

मुद्रा योजना से युवा हुए आत्मनिर्भर
पीएम मोदी ने बताया कि केंद्र सरकार ने पहली बार बैगर किसी गारंटी के बैंकों का पैसा नौजवानों को उन्हें अपने पैरों पर खड़ा करने के लिए दिया है। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत देश में लगभग 12 करोड़ लोन स्वीकृत हुए हैं और नौजवानों को करीब 4 लाख करोड़ से अधिक रकम ऋण के तौर पर दी गई है। इस योजना के तहत अकेले कर्नाटक में सवा करोड़ लोन स्वीकृत हुए हैं।

तटीय इलाकों के विकास में लगी सरकार
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उडुपी में नौजवान बहुत होनहार हैं, हमेशा परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करते हैं, लेकिन विकास नहीं होने की वजह से उन्हें रोजगार के लिए दूसरे शहरों में जाना पड़ता है। कर्नाटक में भाजपा की सरकार आने पर उडुपी का विकास किया जाएगा और नौजवानों को यहीं रोजगार के साधन उपलब्ध कराए जाएंगे। पीएम मोदी ने कहा कि कर्नाटक के पास समृद्ध तटीय क्षेत्र है, केंद्र सरकार तटीय विकास की पक्षधर है। सागरमाला परियोजना के तहत तटीय इलाकों के विकास का काम किया जा रहा है। उडुपी के आस-पास रेलवे के दो स्टेशन का काम जल्द ही पूरा होने वाला है। इसी प्रकार उडुपी में रेलवे लाइन के विद्युतीकरण का काम तेज गति से चल रहा है। उडुपी को इन्फ्रास्ट्रक्चर के द्वारा देश से जोड़ना सरकार की प्राथमिकता है। भारतमाला प्रोजेक्ट के तहत अगले दो वर्षों में लगभग 1.5 लाख का निवेश किया जाना है, इससे नौजवानों को रोजगार के अवसर मिलेंगे।

भाजपा के पक्ष में वोट देने की अपील
प्रधानमंत्री ने कहा कि विकास की यात्रा में चाहे रेल, रोड, समुद्री तट हो या फिर किसान के खेत का काम हो, हर क्षेत्र में केंद्र सरकार सामान्य लोगों के जीवन में खुशहाली लाने का काम कर रही है। केंद्र की तरफ से 7,000 करोड़ की लागत से बेंगलुरु-मैसुरु एक्सप्रेस वे बनाया जा रहा है। पीएम मोदी ने जनसभा में मौजूद लोगों से कहा कि 12 मई को कर्नाटक में सिर्फ विधायक नहीं चुनना है, बल्कि कर्नाटक के भविष्य का फैसला करना है। 12 मई का फैसला ईमानदारी की तरफ जाने वाला रास्ता खोलेगा और भ्रष्टाचारियों को सजा दिलाने की मुहिम को ताकत देने वाला होगा। श्री मोदी ने लोगों से मतदान के दिन कर्नाटक के स्वाभिमान, कर्नाटक के भविष्य और कर्नाटक के विकास के लिए भाजपा को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में भाजपा की सरकार बनने पर केंद्र सरकार कर्नाटक की आशाओं, अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा देगी।

देखिए प्रधानमंत्री की चुनावी रैलियों की कुछ और फोटो-

 

Leave a Reply