Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 23 नवम्बर

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 23 नवम्बर

हर वक्त काम ही काम, हर पल राष्ट्र के नाम, यही है नमो की पहचान

106
SHARE

23 नवम्बर 2015
मलेशिया में तोरण द्वार का उद्घाटन किया और प्रधानमंत्री रज़ाक के साथ द्विपक्षीय बैठक की; भारत-मलेशिया रणनीतिक साझेदारी बढ़ाने पर संयुक्‍त वक्‍तव्‍य; सिंगापुर के प्रधानमंत्री ने लिटिल भारत में प्रधानमंत्री मोदी को चाय के लिए आमंत्रित किया; प्रतिष्ठित सिंगापुर व्याख्यान दिया23 नवम्बर 2016
स्वर्गीय श्री केदारनाथ साहनी के जीवन पर आधारित पुस्तक का विमोचन किया;23 नवम्बर 2017
सायबर स्‍पेस पर अंतरराष्‍ट्रीय सम्‍मेलन के उद्घाटन समारोह में उद्बोधन।

LEAVE A REPLY