Home गुजरात विशेष गुजरात की जनता के नाम प्रधानमंत्री मोदी की चिट्ठी

गुजरात की जनता के नाम प्रधानमंत्री मोदी की चिट्ठी

100
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात की जनता के नाम एक चिट्ठी लिखकर देश को विकास के पथ पर आगे ले जाते हुए जातिवाद, संप्रदायवाद एवं वंशवादी राजनीति को खत्म करने की अपील की है। प्रधानमंत्री मोदी ने चिट्ठी में लिखा है कि, ‘गुजरात के मेरे प्यारे भाइयों और बहनों, 22 साल पहले गुजरात कैसा था और आज कैसा बदलाव आया है। इन बीते हुए वर्षों में भाजपा सरकार के सुशासन में आप सभी ने विकास यात्रा में सहभागी बनकर देश ही नहीं दुनिया में गुजरात के विकास की अभूतपूर्व पहचान बनाई है। गुजरात और विकास एक दूसरे के समानार्थी बन गए हैं।’

उन्होंने लिखा है कि, ‘वह याद करें कि 1995 में भाजपा के सत्ता में आने से पहले राज्य क्या था। 22-25 साल का युवा कभी कल्पना भी नहीं कर सकता है कि अतीत में गुजरात क्या था जब जातिवाद और संप्रदायवाद ने इसे बर्बाद कर दिया था।’ राज्य की जनता के नाम संदेश में पीएम मोदी ने कहा है कि, ‘अब सत्ता के कुछ भूखे तत्व फिर से वही गंदा खेल, खेल रहे हैं। अब जातिवाद, संप्रदायवाद और वंशवादी राजनीति जैसी बीमारी से गुजरात को बचाने की यह हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है।’

प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से अपील की कि वह उनकी भाजपा के पक्ष में मतदान करें ताकि 22 साल पहले विकास की जो यात्रा शुरू की गयी थी उसे आगे ले जाया जा सके। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए सरकार कभी गुजरात के लिए अनुकूल नहीं रही है फिर भी राज्य में विकास का काम होता रहा।

पीएम मोदी ने चिट्ठी में लिखा है, ‘आप सभी जानते हैं कि मेरे लिए गुजरात मेरी आत्मा और भारत परमात्मा है। जातिवाद, संप्रदायवाद और परिवारवाद को बढ़ावा ना देकर आप सभी सामाजिक न्याय और विकासवाद को बढ़ावा दें।’

श्री मोदी ने कहा कि आजादी की लड़ाई में महात्मा गांधी और सरदार पटेल ने जनचेतना, जनशक्ति का नेतृत्व दिया था। अब गुजरात के सामने जन भागीदारी का नेतृत्व देने का समय आ गया है। आने वाला चुनाव अपने लिए उत्सव है जिसमें एक बार फिर विकास को जीताने के लिए भाजपा को अपना पवित्र मत देना है।

उन्होंने लिखा है कि, ‘तीन साल पहले आपने मुझे देश की जिम्मेदारी सौंपी थी। इतने कम समय में भी भारत सरकार की जनधन योजना, उज्जवला योजना, सुकन्या समृद्धि योजना, मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, फसल बीमा योजना और कृषि सिंचाई योजना जैसी योजनाओं से करोड़ों परिवार के जीवन में बदलाव आया है।’

गुजरात में दो चरणों में नौ और 14 दिसंबर को मतदान है। मतगणना 18 दिसंबर को होगी।

LEAVE A REPLY