Home चुनावी हलचल समर्पित टीम के बिना नहीं मिलता परिणाम- प्रधानमंत्री मोदी

समर्पित टीम के बिना नहीं मिलता परिणाम- प्रधानमंत्री मोदी

579
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि कोई भी परिणाम तब तक नहीं मिलता, जब तक कोई समर्पित टीम नहीं मिलती है। प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री कार्यालय में कार्यरत कर्मचारियों से बात करते हुए कहा कि पांच साल की अखंड एकनिष्ठ साधना, जिसका लक्ष्य देश के समान्य व्यक्ति के जीवन में आशा और बदलाव संचारित करना। इन सब कामों का क्रेडिट तो पीएम को मिलता है। टीवी-अखबार में पीएम दिखता है, तारीफ भी पीएम को मिलती है, लेकिन जब तक कोई समर्पित टीम नहीं होती है, तब तक सपने कितने ही सुहाने और संकल्प कितने ही दृढ़ क्यों न हों, इरादे कितने ही नेक क्यों न हों… परिणाम मिलना मुश्किल होता है। परिणाम तब मिलता है, जब पीएम की सोच और साथियों की सोच एक साथ मिलती हो। पीएम जो भी विचार रखें, वह तो 10-15 मिनट में ही रखे जाते हैं, लेकिन उस एक लाइन को पकड़कर नीति का रूप देना एक लंबी प्रक्रिया होती है। यह सब टीम के बिना संभव नहीं होता है।’

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘आपने भी महसूस किया होगा कि पूर्व के कार्यकाल की अपेक्षा आपको भी परिवर्तन महसूस हुआ होगा। वह ऊर्जा लोगों की अपेक्षा से ही आई है। मेरा अब तक का अनुभव है कि आप लोगों ने मेरी अपेक्षा से ज्यादा परिणाम दिया है। समय की कल्पना से पहले दिया है। सुचारू ढंग से किया और सुचिता के साथ दिया है। यह पूरी टीम अभिनंदन के अधिकारी हैं।’

आप भी देखिए प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन-

Leave a Reply