Home नरेंद्र मोदी विशेष पश्चिम बंगाल दामपंथियों को छोड़ विकासपंथियों के साथ एक नई क्रांति की...

पश्चिम बंगाल दामपंथियों को छोड़ विकासपंथियों के साथ एक नई क्रांति की ओर चल पड़ा है- प्रधानमंत्री मोदी

601
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को पश्चिम बंगाल के तामलुक में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने दो बार ममता दीदी को फोन किया, लेकिन दीदी ने उनसे बात नहीं की। फानी तूफान से राहत और बचाव कार्य का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा,”मैं अभी ओडिशा में फानी तूफान से हुए नुकसान का जायजा लेकर यहां आया हूं। यहां पश्चिम बंगाल में भी जो हालात बने हैं, उससे मैं भली-भांति परिचित हूं।”  

पीएम मोदी ने कहा कि मैं पश्चिम बंगाल के लोगों को फिर भरोसा देता हूं कि केंद्र सरकार पूरी शक्ति से पश्चिम बंगाल की जनता के साथ खड़ी है और राहत के काम में राज्य सरकार का हर तरह से सहयोग कर रही है। केंद्र सरकार पूरी मुस्तैदी से राहत और बचाव के काम में जुटी हुई है। उन्होंने कहा कि दीदी ‘जय श्रीराम’ कहने वालों को जेल भेज रही हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किए जाने पर पूरा देश खुश है, लेकिन दीदी ने इस घटनाक्रम को नहीं सराहा। पीएम मोदी आज पश्चिम बंगाल और झारखंड के चुनावी दौरे पर रहे। उन्होंने पश्चिम बंगाल के तामलुक और झारग्राम के साथ ही झारखंड के चाईबासा में जनसभाओं को संबोधित किया। 

तामलुक की रैली में पीएम मोदी ने कहा, “आप सभी का उत्साह हर चरण के मतदान के बाद बढ़ता ही जा रहा है। आपके इस प्यार को मैं अपना सौभाग्य मानता हूं। खुदीराम बोस की धरती को कोटि कोटि नमन। दो-तीन दिन पहले ही आप सभी ने एक भयावह चक्रवात का सामना किया है। मैं अभी ओडिशा में इस चक्रवात से हुए नुकसान का जायजा लेकर यहां आया हूं। यहां पश्चिम बंगाल में भी जो हालात बने हैं, उससे मैं भली-भांति परिचित हूं। जिन साथियों ने इस आपदा में अपनों को खोया है, मैं उनके प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। हम सभी इस मुश्किल घड़ी में आप सभी के साथ हैं। पूरी भारत सरकार, केंद्र सरकार के तमाम विभाग पूरी मुस्तैदी से राहत और बचाव के कार्य में जुटे हुए हैं।”

पीएम मोदी ने कहा कि भारत की बढ़ती हुई ताकत को आज पूरी दुनिया महसूस कर रही है। कुछ दिन पहले भारत को आतंकवाद से लड़ाई में एक बहुत बड़ी जीत मिली है। पाकिस्तान के पाले-पोसे आतंकी मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र ने अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित किया है। यह सुनकर आपको गर्व हुआ? देश की इज्जत बढ़ती है तो आपको गर्व होता है?

केंद्र सरकार के विकास कार्यों का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “लोकसभा चुनाव में आपका एक वोट विकासपंथियों को मजबूत करेगा। भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता स्वामी विवेकानंद के एक-एक शब्द को जीवन का मंत्र मानकर चलता है। बीजेपी के मूल में वही जनसंघ है, जिसके प्रणेता डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी हमारे गौरव-पुरुष इसी मिट्टी की संतान थे। हमारी सरकार से पिछले 5 वर्षों में पश्चिम बंगाल के गरीब से गरीब व्यक्ति को विकास का विश्वास मिला है। जिसको अपना पक्का घर मिला है, जिस बहन को रसोईगैस का कनेक्शन मिला है, जिसके घर में शौचालय बना है, वो कह रहा है फिर एक बार…मोदी सरकार।”

पीएम मोदी ने कहा, “पश्चिम बंगाल के हर गरीब साथी को एक भरोसा मिला है कि यह चौकीदार घुसपैठियों की पहचान कर घुसपैठ पर लगाम लगाएगा। गरीब को यह भरोसा जगा है कि पूजा-पाठ करने वाले लाखों साथियों को, जिन्हें अपने ही देश में पराया बनाने की कोशिश की जा रही है, नागरिकता मिलेगी। हल्दिया को गंगाजी के रास्ते वाराणसी से जोड़ा गया। इनलैंड वॉटरवे का सुगम रास्ता यहां के विकास को और गति देने वाला है। बंगाल एक नई क्रांति की ओर चल पड़ा है।”

झारग्राम की जनसभा में पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने गरीबों के लिए आयुष्मान भारत योजना के तहत हर वर्ष 5 लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की व्यवस्था की, लेकिन पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य में इस योजना को लागू नहीं किया। बलात्कार के दोषियों को फांसी की सजा दिए जाने के कानून को भी पश्चिम बंगाल में लागू नहीं किया गया।

विकास के प्रति भारतीय जनता पार्टी और केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता को रेखांकित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “आपका यह सेवक विकास की पंचधारा यानि बच्चों को पढ़ाई, युवाओं को कमाई, बुजुर्गों को दवाई, किसानों को सिंचाई और जन-जन की सुनवाई सुनिश्चित करने के लिए निकला है। आदिवासी परिवारों के अधिकारों और हितों की रक्षा के लिए ही अटल जी की सरकार ने एक अलग मंत्रालय बनाया था। उन्हीं की प्रेरणा से जनजातीय कल्याण के लिए केंद्र सरकार ने इस बार पहले से 30 प्रतिशत अधिक राशि का प्रावधान किया है। हमारा संकल्प है कि हर गरीब, वंचित और आदिवासी के पास 2022 तक अपना पक्का घर हो।”

प्रधानमंत्री मोदी ने उपस्थित जनसमूह से भारी संख्या में मतदान करने की अपील करते हुए कहा, “हमारी सरकार में जनधन से लेकर वनधन तक आदिवासी भाइयों के लिए काम किया जा रहा है। आप सभी को एक-एक बूथ पर कमल खिलाना है। कमल पर दिया गया आपका एक-एक वोट सीधा मोदी के खाते में जाएगा।”

झारखंड के चाईबासा में पीएम मोदी ने कहा, “जल हो, जन हो, जमीन हो, कोई उस पर हाथ नहीं लगा पाएगा, यह मैं आपसे वादा करता हूं। हमारी सरकार आदिवासी कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। पहले कोयले से जनजातीय समुदाय को कुछ नहीं मिलता था। इस चौकीदार ने कानून बनाया कि अब जंगलों से जो भी खनिज संपदा निकलेगी, उसमें से कुछ रकम जंगल में ही रहने वाले जनजातीय समाज के लिए खर्च करना जरूरी होगी। ये हमारी आंखें हैं, यह हमारी संवेदना है, यह आदिवासी कल्याण का हमारा रास्ता है। इस बार केंद्र सरकार ने आदिवासी समाज के कल्याण के लिए बजट में पहले से 30 प्रतिशत अधिक राशि का प्रावधान किया है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “हम संकल्प लेकर चल रहे हैं कि साल 2022 तक हर गरीब आदिवासी के पास अपना पक्का घर हो, घर में गैस का कनेक्शन हो, बिजली का कनेक्शन हो, घर शौचालय वाला भी हो। हर गरीब के लिए स्वास्थ्य और शिक्षा की बेहतर सुविधा हो। हमारी सरकार जनधन और वनधन योजना से आदिवासियों को सशक्त करने का काम कर रही है।”

Leave a Reply