Home नरेंद्र मोदी विशेष जाति के नाम पर समाज को बंधक बनाने की 20वीं सदी की...

जाति के नाम पर समाज को बंधक बनाने की 20वीं सदी की सोच के साथ अब बिहार नहीं जाने वाला- प्रधानमंत्री मोदी

290
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार के पालीगंज में एक विशाल चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस और राजद पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने नेहरू-गांधी परिवार और लालू परिवार पर संपत्ति को लेकर हमला बोला। पीएम मोदी ने कहा कि जितने भी ये महामिलावटी हैं, ये घोर नकारात्मकता के साथ चुनाव लड़ रहे हैं। इनके पास दो ही मुद्दे हैं- मोदी की छवि को खराब करो और मोदी को हटाओ। इन महामिलावटी लोगों को एहसास नहीं है कि मोदी आज यहां पर 130 करोड़ भारतीयों के आशीर्वाद से है।

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस का नामदार परिवार हो या फिर यहां बिहार का भ्रष्ट परिवार, इनकी संपत्ति आज सैकड़ों-हजारों करोड़ रुपये में है। आखिर ये पैसे कहां से आए? अगर गरीब की जरा सी भी परवाह होती, अगर देश की जरा सी भी परवाह होती, तो भ्रष्टाचार करने से पहले इनके हाथ कांपते। अपनी जाति के दूसरे लोगों पर दबदबा बनाए रखने के लिए, जाति में जो अच्छे होनहार नौजवान थे, उन्हें भी दबंगई के रास्ते पर धकेल दिया। नौजवानों को जाति के नाम पर भ्रमित करके, उनके कंधे पर बंदूक रखकर, इन्होंने अपने ही समाज और जाति को बंधक बना लिया।

पीएम मोदी ने कहा, “यह आपका प्यार है, आपका आशीर्वाद है कि आप इतनी बड़ी संख्या में इस सभा में उपस्थित हुए हैं। और अभी भी लोग आ ही रहे हैं। दिल्ली में बैठकर जातियों की जोड़-तोड़ करने वालों को अंदाजा नहीं लगेगा कि देश कैसे बदल रहा है। आप सभी के प्यार से मैं अभिभूत हूं, गदगद हूं। एनडीए के प्रति आपका यही प्यार, यही समर्थन मुझे दिन-रात आपकी सेवा करने के लिए प्रेरित करता है। 6 चरणों की वोटिंग के बाद देश स्पष्ट तौर पर कह रहा है- फिर एक बार…मोदी सरकार। हमें सुनिश्चित करना है कि यह जीत भव्य और दिव्य हो। इसके लिए आखिरी चरण में भारी संख्या में आपको बूथ तक पहुंचना है।”

पीएम मोदी ने कहा, “जब देश की बात आती है तो हर व्यक्ति पहले भारतीय होता है, बाद में कुछ और होता है। हमारे लिए देश के हर वर्ग, हर समुदाय, हर क्षेत्र का विकास जरूरी है। हम ‘सबका साथ सबका विकास’ के मंत्र को लेकर आगे बढ़ रहे हैं। यही कारण है कि आजादी के इतिहास में पहली बार सामान्य वर्ग के गरीब युवाओं को भी 10 प्रतिशत आरक्षण मिल पाया है। इतना ही नहीं, महामिलावट वालों के अवरोधों के बावजूद ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा देने का काम एनडीए सरकार ने किया है। एनडीए सरकारों की यही निष्ठा, यही ईमानदारी है, जिसके कारण 21वीं सदी का युवा आश्वस्त है। जब उसको सड़क बनती हुई दिखती है, बिजली आती दिखती है, मेट्रो का काम होता दिखता है, रेलवे का बिजलीकरण दिखता है, तब उसको विकास पर विश्वास होता है। जब एम्स, मेडिकल कॉलेज, हेल्थ वेलनेस सेंटर बनते हैं, तब विकास का अनुभव होता है। बिहार के गांव-गांव की उम्मीदों को, सपनों को नई ऊंचाई देने के लिए गरीब से गरीब तक टेक्नोलॉजी को हम कैसे पहुंचा रहे हैं, इसका उदाहरण है डिजिटल इंडिया अभियान। बीजेपी-एनडीए सरकार की नीतियों के कारण आज दुनिया में सबसे सस्ता इंटरनेट भारत में है। सस्ता इंटरनेट और भारत में बन रहे सस्ते स्मार्ट फोन ने गांव में रहने वाले नौजवानों की बहुत मदद की है।”

आतंकवाद के खिलाफ केंद्र सरकार की कठोर कार्रवाई और बालाकोट में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “हमारी प्रेरणा मक्खन खाने वाले बाल-गोपाल हैं, हमारी प्रेरणा बांसुरी बजाने वाले कन्हैया हैं, तो हमारी प्रेरणा सुदर्शन चक्र चलाने वाले भगवान श्रीकृष्ण भी हैं। जब-जब जरूरत पड़ेगी, भारत आतंकियों को कुचलने के लिए सुदर्शन चक्रधारी कृष्ण का रूप लेकर कार्रवाई करेगा। हमारे लिए चरखाधारी मोहन विकास का रास्ता है, प्रेरणा है, और सुरक्षा का रास्ता है चक्रधारी मोहन।”    

Leave a Reply