Home नरेंद्र मोदी विशेष ममता दीदी भारत के नहीं, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अपना प्रधानमंत्री मानती...

ममता दीदी भारत के नहीं, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अपना प्रधानमंत्री मानती हैं- प्रधानमंत्री मोदी

369
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के चुनावी दौरे पर हैं। उत्तर प्रदेश के मऊ, चंदौली और मिर्जापुर में जनसभाओं को संबोधित करने के बाद पीएम मोदी पश्चिम बंगाल के मथुरापुर और दमदम में रैलियों को संबोधित करने वाले हैं। मऊ में पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि दीदी मोदी को अपना प्रधानमंत्री नहीं मानती हैं। ममता बनर्जी तो पाकिस्तान के पीएम को अपना प्रधानमंत्री मानती हैं। टीएमसी के गुंडों का वश चले तो मेरा भी हेलिकॉप्टर बंगाल में ना उतरने दें। आज मैं जनसभा करने पश्चिम बंगाल में जा रहा हूं, देखता हूं कि दीदी आज क्या करती हैं। टीएमसी के गुंडों ने ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को ढहा दिया, मैं वादा करता हूं कि उसी जगह पर ईश्वर चंद्र विद्यासागर जी की एक बड़ी प्रतिमा लगवाएंगे। मायावती पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बहन जी सब जानती हैं, लेकिन कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस लेने की बजाय वो मोदी को गालियां देने में जुटी हैं।

चंदौली की जनसभा में पीएम मोदी ने कहा, “बुरी हार देखकर सपा-बसपा सहित ये तमाम महामिलावटी आज पूरी तरह से पस्त हैं। बेंगलुरु में एक दूसरे का हाथ पकड़ के फोटो खिंचवाई थी। जैसे ही प्रधानमंत्री पद की बात आई तो सब अपना-अपना दांव लेकर अपनी-अपनी ढपली बजाने लग गए। कोई 8 सीट, कोई 10 सीट, कोई 20-22 और कोई 35 सीट वाला प्रधानमंत्री बनने के सपने देखने लगा। लेकिन देश ने कहा- ‘फिर एक बार मोदी सरकार’।

मिर्जापुर में पीएम मोदी ने कहा कि जनता जानती है कि कौन, आतंकी को घर में घुसकर मार सकता है। कौन, आतंकी मसूद अजहर पर बैन लगवा कर उस पर शिकंजा कस सकता है, कौन है जो नक्सलवाद की सफाई कर सकता है। इस चुनाव में नामदारों की पार्टी का यूपी में क्या हाल हो गया है, यह भी ध्यान रखिए। बांटने और तोड़ने की राजनीति करने वाली पार्टी, जिसने चार-चार पीढ़ी तक सरकार चलाई, आज वो पार्टी वाले खुद बोलने लगे हैं कि उनकी पार्टी अब वोटकटवा बन गई है। नामदारों के अहंकार ने इतने वर्षों के शासन के बावजूद, देश का यह हाल बनाए रखा। उनकी सोच है, हुआ तो हुआ। नामदारों की इसी सोच के कारण अब उत्तर प्रदेश और देश की जनता कह रही है कि बस, अब बहुत हुआ।

पीएम मोदी ने कहा, “चमड़ी भी जल जाए, ऐसी भयंकर गर्मी में यह जनसैलाब, वो भी चुनाव के सातवें चरण में, यह उत्साह दिल्ली के बड़े-बड़े राजनीतिक ज्ञानियों को देखना चाहिए। अपने सेवक के लिए जनता खुद प्रचार करने निकली है, यह मैं मिर्जापुर में अनुभव कर रहा हूं। आपका प्यार जितना बढ़ रहा है, उतनी ही सपा-बसपा और कांग्रेस वालों की नींद उड़ रही है। उन्होंने मुझे रोज दी जाने वाली गालियों के डोज को बढ़ा दिया है।”

Leave a Reply