Home समाचार केरल भी मेरा उतना ही है जितना बनारस : प्रधानमंत्री मोदी

केरल भी मेरा उतना ही है जितना बनारस : प्रधानमंत्री मोदी

385
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार 8 जून को केरल के गुरुवायूर में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। यहां पर उन्होंने कहा की बैकुण्ठ के समान पावन धरती पर आने की एक पावन अनुभूति होती है और गुरुवायूर की धरती पर आने का मुझे सौभाग्य मिला, ये नई ऊर्जा, प्रेरणा और शक्ति देने वाला अवसर है।

जनता-जनार्दन ईश्वर का रूप है, ये इस चुनाव में देश ने देखा है

गुरुवायूर में मोदी ने हाल ही में संपन्न हुए लोकतंत्र के महापर्व का जिक्र करते हुए कहा की इसमें योगदान के लिए मैं केरल की जनता का आभार व्यक्त करता हूं। साथ ही उन्होंने कहा कि जनता-जनार्दन ईश्वर का रूप है, ये इस चुनाव में देश ने देखा है। उन्होंने इसके साथ ही कहा की राजनीतिक दल जनता के मिजाज को समझ नहीं पाए, लेकिन जनता ने भाजपा और एनडीए के पक्ष में प्रचंड जनादेश दिया। मैं सिर झुकाकर जनता को नमन करता हूं, जो हमें जिताते हैं, वे भी हमारे हैं और जो हमें जिताने में चूक गए, वे भी हमारे हैं। केरल भी मेरा उतना ही है जितना मेरा बनारस है। हम राजनीति में केवल सरकार बनाने नहीं, हम देश बनाने के लिए आए हैं।

केरल के कार्यकर्ताओं ने जय-पराजय में नहीं बंधकर खुद को जनसेवा के लिए समर्पित किया है

पीएम मोदी ने कहा कि केरल के कार्यकर्ताओं ने जय-पराजय में नहीं बंधकर खुद को जनसेवा के लिए समर्पित किया है। भाजपा कार्यकर्ता सिर्फ चुनावी राजनीति के लिए मैदान में नहीं होते, बल्कि 365 दिन जनसेवा में डटे रहते हैं, हमें जनप्रतिनिधि जनता बनाती है लेकिन हम जनसेवक हैं जो आजीवन जनता के लिए समर्पित होते हैं। हम जन-जन के लिए और जन-जन के द्वारा नए भारत का निर्माण करने की सकारात्मक सोच के साथ संकल्प लेकर आगे बढ़ने वाले लोग हैं।

पीएम ने कहा कि भारत की सांस्कृतिक विरासत के महात्म्य को बढ़ाने के लिए भारत सरकार की प्रसाद योजना के तहत केरल के 7 प्रोजेक्ट लिए गए हैं। गत 5 वर्षों में भाजपा सरकार ने टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए अनेक कदम उठाए, जिसका परिणाम अब सामने आ रहा है। उन्होंने कहा कि भगवान कृष्ण के जीवन के साथ पशु-प्रेम जुड़ा रहा है। हम देश के किसी भी कोने में जाएं भारत की ग्रामीण अर्थव्यवस्था में पशुपालन का महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

विश्व की नजर में भारत की साख और सुदृढ़ हुई

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस चुनाव में जिस तरह से जनता ने विश्वास के साथ आगे आकर हिस्सेदारी निभाई है, उससे विश्व की नजर में भारत की साख और सुदृढ़ हुई है। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में 130 करोड़ देशवासी न्यू इंडिया के लिए आगे आए। उन्होंने दुनिया को भारत की तरफ देखने के लिए मजबूर किया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि केरल हेरिटेज टूरिज्म का एक बहुत बड़ा डेस्टिनेशन है। उसे जितनी ही ऊर्जा मिलेगी, केरल उतना ही आगे बढ़ेगा। केरल की युवा पीढ़ी के लिए टूरिज्म आर्थिक गतिविधि का भी एक महत्वपूर्ण पहलू है। श्री मोदी ने यह भी कहा कि भारत सरकार ने इस बार मछुआरों और पशुपालकों के लिए अलग मंत्रालय बना कर ग्रामीण अर्थव्यवस्था को विशेष बल देने का बीड़ा उठाया है।

निपाह वायरस की चिंता पर दिया आश्वासन

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दुर्भाग्य से पिछले दिनों केरल में निपाह वायरस को लेकर चिंता सामने आई है, लेकिन इससे घबराने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने सरकार की ओर से पूरी मदद का आश्वासन दिया। इसके साथ ही लोगों से स्वच्छता के प्रति सजग रहने का भी आग्रह किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गरीबों को बीमारी की अवस्था में दिक्कतों का सामना ना करना पड़े, इसके लिए सरकार ने 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज वाली आयुष्मान योजना चलाई है। इसका लाभ लाखों गरीबों को मिल रहा है। लेकिन केरल के लोगों को यह सुविधा नहीं मिल रही है क्योंकि यहां की सरकार ने इस सुविधा को लागू करने से मना किया है। प्रधानमंत्री ने राज्य सरकार से इस सुविधा को स्वीकार करने की अपील की ताकि केरलवासी इसका फायदा उठा सकें।  

Leave a Reply