Home चुनावी हलचल चुनाव में मजा नहीं आ रहा क्योंकि कांग्रेस पहले ही छोड़कर भाग...

चुनाव में मजा नहीं आ रहा क्योंकि कांग्रेस पहले ही छोड़कर भाग गई मैदान – प्रधानमंत्री मोदी

96
SHARE

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आज हिमाचल प्रदेश के ऊना, पालमपुर और कुल्लू में तीन जनसभाओं को संबोधित किया। लोगों की भारी भीड़ को देखकर उन्होंने कहा कि इस बार भारतीय जनता पार्टी को लेकर यहां जितना उत्साह देख रहा हूं, उतना पहले कभी नहीं देखा। प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि यह एकतरफा कॉन्टेस्ट है और कांग्रेस मैदान छोड़कर भाग गई है। उन्होंने कांग्रेस को भ्रष्टाचार को प्रश्रय देने वाली पार्टी करार दिया और कहा कि भ्रष्टाचार के विरुद्ध उनका संघर्ष जारी रहेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि विपक्ष की आदत हो गई है कि वह हर बात के लिए मुझे दोषी ठहराता है। उन्होंने कहा कि सरकार मध्यमवर्ग को उसका हक दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है और हमारी योजनाओं के जरिए मध्यम वर्ग को लाभ हो रहा है। प्रधानमंत्री ने जीएसटी को लेकर आ रही सभी परेशानियों को दूर करने के लिए कदम उठाने की भी बात कही।

जनता के पाई-पाई का हिसाब देना होगा
नोटबंदी की पहली बरसी पर कांग्रेस के कालाधन दिवस पर पीएम मोदी ने निशाना साधा और कहा कि कांग्रेस मेरा पुतला जला रही है, क्योंकि जिन लोगों ने बेईमानी से पैसा बनाया है उन्हें सजा तो भुगतनी होगी। पीएम मोदी ने कहा की जिन्होंने देश को लूटा है उन्हें पाई-पाई का हिसाब देना होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास अब शोक मनाने के अलावा कुछ भी नहीं बचा है।

जनता-जनार्दन लड़ रही है चुनाव
प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार हिमाचल का चुनाव कोई पार्टी या नेता नहीं बल्कि हिमाचल की जनता लड़ रही है। कांग्रेस सल्तनत को सबक सिखाने का फैसला जनता ने कर लिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार, कानून व्यवस्था और महिलाओं की सुरक्षा के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है और इस बार हिमाचल में बीजेपी की आंधी चल रही है। उन्होंने कहा कि ऐसा एकतरफा चुनाव कभी नहीं हुआ और प्रचार में भी मजा नहीं आ रहा है।

कौन सा पंजा एक रुपये को 15 पैसे करता था
भूतपूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बहाने कांग्रेस पर हमला करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनके हर बयान पर उस वक्त के कांग्रेस चाटुकार नेता ताली बजाते थे। राजीव गांधी के 15 पैसे वाले बयान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि एक रुपया अगर ऊपर से भेजा जाता था तो वह कौन सा पंजा था जो उसे 15 पैसे कर देता था, 85 पैसे कहां चले जाते थे। पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने आजादी के बाद सबसे लंबे वक्त तक देश चलाया है।

57 हजार करोड़ रुपये बिचौलियों से बचाए गए
केंद्र की योजनाओं का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि 57 हजार करोड़ रुपये मोदी आकर बिचौलियों से छीन लिए और वह पैसा जनता की भलाई के लिए काम आया। उन्होंने कहा कि विपक्षी नेता हर समस्या के लिए मोदी को जिम्मेदार ठहराते हैं उसका कारण है कि ये 57 हजार करोड़ रुपये जिनकी जेब में जाते थे, अब वो बंद हो गया। इसी वजह से वह मोदी को घेरने में लगे रहते हैं।

देश का लूटा हुआ माल वापस आना चाहिए
प्रधानमंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार की बीमारियां पुरानी सरकार से मिली हैं। उन्होंने कहा कि बेनामी संपत्ति पर संसद से कानून पास होने के बावजूद अपने फायदे के लिए पिछली सरकार ने 30 साल तक कानून को लागू नहीं होने दिया। हमारी सरकार ने आते ही यह कानून और कड़ा कर लागू किया अब विरोधियों को परेशानी हो रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश का लूटा हुआ माल वापस आना चाहिए।

नोटबैन से टेरर फंडिंग पर लगा लगाम
टेरर फंडिंग का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर कालेधन पर कानूनी शिकंजा नहीं कसा जाता को आतंकियों की मदद करने वाले दिल्ली की जेल में नहीं पड़े होते। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से आए पैसे से भारतीय सेना के जवानों को पत्थर मारे जाते थे, ये सारा खेल अब बंद हो गया है। कांग्रेस को अब इससे परेशानी है और अब कांग्रेस पार्टी 8 नवंबर को कालाधन दिवस मनाने जा रही है, लेकिन देश ने कालाधन विरोधी दिवस मनानी की तैयारी कर ली है।

‘मैं लुटेरों की सफाई कर रहा हूं’
प्रधानमंत्री ने कहा कि नोटबंदी के बाद 3 लाख कंपनियां बंद हो गईं। उन्होंने कहा कि अगर कुल्लू में कोई एक कंपनी बंद हो जाए तो अखबारों के पहले पन्नों में हफ्ते भर तक सिर्फ उसी की चर्चा रहती लेकिन इतनी कंपनियां बंद हो गईं, जिसकी कोई चर्चा नहीं हुई। जिन दिन 3 लाख कंपनियों का कच्चा-चिट्ठा खुलेगा तब क्या-क्या सामने आएगा। मैं स्वच्छता अभियान चला रहा हूं, आप गली-मुहल्ले की सफाई कर रहे हैं, मैं इन लुटेरों की सफाई कर रहा हूं।

जीएसटी की शेष दिक्कतें दूर कर ली जाएंगी
जीएसटी पर बोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि काराबोरियों को जो भी समस्याएं आई थीं उन्हें काउंसिल ने दूर किया है। शेष और भी जो समस्याएं हैं उन्हें राज्यों के विरोध के चलते नहीं दूर किया जा सका। पीएम ने कहा कि 9-10 तारीख को होने वाली जीएसटी काउंसिल की बैठक में बची हुई समस्याओं का भी हल निकाल लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह सरकार देश की भलाई के लिए अच्छा से अच्छा निर्णय लेने का प्रयास कर रही है।

हिमाचल के भाग्य और भव्यता के लिए करें मतदान
प्रधानमंत्री ने कहा कि हिमाचल का भाग्य और भव्यता को निर्धारित करने के लिए इस बार का चुनाव हो रहा है। श्री मोदी ने लोगों से 9 नवंबर को रिकॉर्ड मतदान की अपील की। उन्होंने कहा कि इस बार का चुनाव कोई पार्टी नहीं, बल्कि जनता-जनार्दन लड़ रही है। उन्होंने कहा, ”यहां की जनता-जनार्दन कांग्रेस की सल्तनत को उखाड़ फेंकने के लिए चुनाव लड़ रही और यह हवा का रूख साफ बता रहा है कि ऐसा ही होने वाला है।‘’

कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए कार्य कर रही सरकार
हिमाचल प्रदेश में कनेक्टिविटी की आवश्यकता बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि रेल-वे, रोड-वे और एयर-वे के विकास पर ध्यान केंद्रित किया गया है। पीएम मोदी ने हिमाचल में टूरिज्म की असीमित संभावनाओं का उल्लेख करते हुए कहा, ”टूरिज्म ऐसा उद्योग है जिसमें बिना पूंजी के ही गरीब से गरीब व्यक्ति भी कमाई कर सकता है और सरकार इसके विकास के लिए प्रतिबद्ध है।”

दोगुनी गति से हो रहा काम
प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली में उनकी सरकार बनने के बाद कार्य संस्कृति और सोच में बड़ा बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि पूर्व की तुलना में दोगुनी गति से रेलवे लाइन बिछाए जा रहे हैं, रेलवे लाइनों के दोहरीकरण और राष्ट्रीय राजमार्गों को निर्माण में भी तेजी आई है। पीएम मोदी ने कहा कि ऊना शिक्षा का धाम बन रहा है। यहां नये आइइटी और एम्स बनने से लोगों की सुविधाएं बढ़ेंगी।

विकास सभी समस्याओं की जड़ी-बूटी
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘’विकास वह जड़ी-बूटी है जो सभी समस्याओं का समाधान करती हैं, विकास पर चर्चा होनी चाहिए।‘’ पीएम मोदी ने कहा, ”हमारे देश का भविष्य एक ही बात पर निर्भर करता है कि हम विकास को प्राथमिकता कैसे दें, चारों दिशाओं में विकास का लाभ कैसे पहुंचाएं, विकास हमारे युवा पीढ़ी के सपनों का मार्ग कैसे बने।”

2022 तक हर बेघर को देंगे घर
पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार गरीबों के साथ मध्यम वर्ग के लोगों के हितों का भी ध्यान रख रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हिमाचल के 14 हजार परिवारों समेत देश में चार करोड़ परिवारों को नि:शुल्क बिजली कनेक्शन मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने स्वतंत्रता के सत्तर वर्षों के बाद भी करोड़ों लोगों के बेघर होने पर पीड़ा जताते हुए कहा, ”हम 2022 तक हिन्दुस्तान के हर परिवार को उनका अपना घर देंगे।”

बहुमत की सरकार में होता है सामर्थ्य
प्रधानमंत्री ने कहा कि आज देश के सवा सौ करोड़ लोगों की शक्ति के कारण हिंदुस्तान का पूरी दुनिया में जय-जयकार हो रहा है। श्री मोदी ने कहा कि हिमाचल के पास नया इतिहास रचने का अवसर है और प्रदेश की जनता तीन चौथाई बहुमत देकर इसका लाभ उठाए। श्री मोदी ने कहा, ”एक बार आप मजबूत सरकार बनाइए तो आपको पता चलेगा कि सरकार के निर्णय करने की शक्ति और सामर्थ्य कितनी होती है।‘’

प्रधानमंत्री ने कहा कि धन्य हो गया
प्रधानमंत्री ने ऊना को गुरुओं की भूमि, पालमपुर को देवी-देवताओं की नगरी और कुल्लू को बिजली महादेव की धरती कहकर संबोधित किया और कहा कि मैं यहां आकर स्वयं को सौभाग्यवान समझता हूं। ऊना में प्रधानमंत्री ने कहा, ”गुरु नानक देव के वंशजों की धरती पर आने का सौभाग्य मिला, मैं धन्य हो गया।‘’ उन्होंने कहा कि ऊना हिमाचल का प्रवेश द्वार है और यहां प्रवेश करते ही माता चिंतपूर्णी के आशीर्वाद का सौभाग्य प्राप्त होता है, मेरा भी सौभाग्य है कि मुझे माता की चुनरी भेंट की गई, इसके लिए मैं आभारी हूं।”

LEAVE A REPLY