Home समाचार बोहरा समाज से मेरा रिश्ता बहुत पुराना, सबको साथ लेकर चलता है...

बोहरा समाज से मेरा रिश्ता बहुत पुराना, सबको साथ लेकर चलता है बोहरा समाज-पीएम मोदी

173
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंदौर में आयोजित हजरत इमाम हुसैन की शहादत के स्मरणोत्सव ‘अशरा मुबारका’कार्यक्रम में हिस्सा लिया। दाऊदी बोहरा समाज के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ, जब उसके किसी कार्यक्रम में कोई प्रधानमंत्री शामिल हुआ। इस मौके पर वहां इस समुदाय के धर्म गुरु भी मौजूद थे। पीएम ने उनसे भी मुलाकात की और कहा कि मैं एक प्रकार से समाज का सदस्य बन गया हूं। 

“दाऊदी बोहरा समाज के साथ मेरा भी रिश्ता बहुत पुराना”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दाऊदी बोहरा समाज की प्रशंसा करते हुए कहा कि  इमाम हुसैन के पवित्र संदेश को आपने अपने जीवन में उतारा है और दुनिया तक उनका पैगाम पहुंचाया है। दाऊदी बोहरा समाज के साथ मेरा भी रिश्ता बहुत पुराना है। मैं भी इस परिवार का सदस्य बन गया हूं। हम पूरे विश्व को एक परिवार मानने वाले, सबको साथ लेकर चलने की परंपरा को मानने वाले लोग हैं। यही खासियत दूसरे देशों से उन्हें अलग पहचान देती है।

“हमें अपने अतीत पर गर्व और वर्तमान पर विश्वास है”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमें अपने अतीत पर गर्व और वर्तमान पर विश्वास है तथा हम में उज्ज्वल भविष्य को लेकर आत्मविश्वास और संकल्प भी है।प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह समाज कोशिश कर रहा है कि कोई भी व्यक्ति भूखा ना सोए। इसके लिए यह समाज दर्जनों अस्पताल चला रहा हैं। बोहरा समाज शांति का संदेश देता है। कुछ सालों पहले कुपोषण से लड़ने के लिए गुजरात सरकार के दौरान मैंने सहयोग मांगा था जिसे समाज ने हाथोंहाथ लिया और मेरा सहयोग किया।

“जो भी हो, वो नियमों के दायरे में ही होना चाहिए”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बीते चार वर्षों में सरकार ने ये साफ संदेश देने में सफल हुई है कि जो भी हो, वो नियमों के दायरे में ही होना चाहिए। जीएसटी, इनसॉल्वेंली और बैंकरप्टसी कोड जैसे अनेक कानूनों के माध्यम से ईमानदार कारोबारियों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। देश का व्यापारी और कारोबारी अर्थव्यवस्था की रीढ है। वो देश में रोज़गार पैदा करने वाली महत्वपूर्ण ईकाई है। उसको जितना प्रोत्साहन संभव है दिया जा रहा है।

‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान से जुड़ने की अपील

शनिवार से ‘स्वच्छता ही सेवा’ पखवाड़ा शुरू हो रहा है। इस पर प्रधानमंत्री  मोदी ने कहा कि देश खुले में शौच की बुरी प्रवृत्ति से जल्द मुक्त होगा। साथ ही उन्होंने देश की जनता से इस अभियान से जुड़ने की अपील की। पीएम मोदी ने कहा कि चार साल पहले केवल 40 प्रतिशत घरों में ही शौचालय थे। हमारी माता-बहनों को काफी तकलीफ होती थी। इतने कम समय में यह संख्या 90 प्रतिशत तक पहुंच चुकी है। बहुत जल्द देश खुद को खुले में शौच से मुक्त कर देगा।

एक करोड़ से अधिक भाई-बहनों को सरकार ने सौंपी घर की चाबी

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गरीब और जरुरतमंदों को घर देने का बीड़ा जो बोहरा समाज ने उठाया है वह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि मुझे बताया गया है कि समाज के प्रयासों की वजह से 11,000 लोगों को अपना घर मिला है।  केंद्र सरकार ने अब तक एक करोड़ से अधिक भाई-बहनों को घर की चाबी सौंपी है। बाकी घरों पर तेज गति से काम चल रहा है। 

“अब दहाई की विकास दर पर देश की नजर”

चार वर्ष के भीतर-भीतर दुनिया भर के निवेशकों का विश्वास बढ़ा है। आज स्थिति ये है कि मेक इन इंडिया के तहत मोबाइल फोन हों, गाड़ियां हों या फिर दूसरे सामान हों, रिकॉर्ड उत्पादन आज हमारे यहां हो रहा है। रिकॉर्ड स्तर पर निवेश हो रहा है। इसी का परिणाम है कि पिछले क्वार्टर में आठ प्रतिशत से अधिक की विकास दर आप सभी के प्रयास से, सवा सौ करोड़ देशवासियों के श्रम से देश ने हासिल की है। जो दुनिया के बड़ी इकोनॉमी में सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाली है। अब दहाई की विकास दर पर देश की नजर है। और जिस गति से हम आगे बढ़ रहे हैं वहां तमाम चुनौतियों के बावजूद देश की ताकत है, देश पहुंच सकता है और मेरा भी विश्वास है।

LEAVE A REPLY