Home समाचार पीएम मोदी सांसदों को देंगे साथ मिलकर काम करने का मंत्र

पीएम मोदी सांसदों को देंगे साथ मिलकर काम करने का मंत्र

406
SHARE

सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र से प्रेरित होकर प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी सभी को साथ लेकर आगे बढ़ रहे हैं, और अब सभी सासंदों को भी साथ मिलकर काम करने का मंत्र देंगे। इसके लिए पीएम मोदी ने 20 जून को सभी सासंदों की बैठक बुलाई है। इस दौरान प्रधानमंत्री सांसदों के महत्वपूर्ण विषय पर खुलकर बातचीत करना चाहते हैं। पीएम मोदी की ये पहल कई मुद्दों पर आमराय बनाने की दिशा के रुप में जोड़ कर देखा जा रहा है।

लंबित बिलों को पारित कराने पर फोकस

प्रधानमंत्री ने मोदी ने संसद के दोनों सदनों को सुचारू रूप से चलाने के लिए विपक्ष से सहयोग का आह्वान किया है। प्रधानमंत्री ने निष्पक्ष भाव से जनकल्याण को प्राथमिकता देने की मांग की है। 2022 तक नए भारत के निर्माण के लिए सभी दलों को साथ लेकर चलना बहुत जरूरी है।

राज्यसभा में एनडीए के 102 सदस्य

17वीं लोकसभा का पहला सत्र शुरू हो गया है, जो 26 जुलाई तक चलेगा। 40 दिन तक चलने वाले इस सत्र में लोकसभा की 30 और राज्यसभा की 27 बैठके होंगी। इस दौरान सरकार के कई महत्वपूर्ण अध्यादेशों को पारित कराना चाहती है। 545 सीटों वाली लोकसभा में एनडीए के पास 353 सदस्य हैं, लेकिन 245 सीटों वाली राज्यसभा में उसके सिर्फ 102 सदस्य हैं। ऐसे में विपक्ष को साथ लेकर चलना ही सरकार से लिए फायदे का सौदा साबित हो सकता है।

4 जुलाई को आर्थिक सर्वेक्षण और 5 को बजट पेश

सरकार का मकसद तीन तलाक समेत 10 महत्वपूर्ण अध्यादेशों को पारित कराकर कानून में तब्दील करने की होगी। तीन तलाक बिल पिछली बार राज्यसभा में अटक गया था। 19 जून को लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। 20 जून को राष्ट्रपति संसद के दोनों सदनों को संबोधित करेंगे। 4 जुलाई को आर्थिक सर्वेक्षण और 5 जुलाई को केंद्रीय बजट भी पेश होना है। साथ ही महिला आरक्षण बिल,सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल,केंद्रीय शैक्षणिक संस्थान बिल पर सबकी नजर होगी।

Leave a Reply