Home समाचार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बढ़ी टीवी चैनलों की टीआरपी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बढ़ी टीवी चैनलों की टीआरपी

647
SHARE

प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी किसी भी न्यूज चैनल के लिए टीआरपी की गारंटी बन गए हैं। प्रधानमंत्री मोदी के लाइव कार्यक्रम को लोग टीवी चैनल के किसी भी मनोरंजन कार्यक्रम या लाइव खेल कार्यक्रम से ज्यादा पसंद करते हैं। चाहे सुपरस्टार सलमान खान की फिल्म सुल्तान हो या क्रिकेट टूर्नामेंट का फाइनल मैच, लोग सब कुछ छोड़कर पीएम मोदी को देखना-सुनना पसंद करते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टीआरपी की दुनिया के सबसे बड़े सुपरस्टार हैं। जब प्रधानमंत्री बोल रहे होते हैं तो न्यूज चैनल वाले सब कुछ छोड़कर उन्हें दिखाने लगते हैं और इसका उन्हें फायदा भी मिलता है। इस दौरान टीवी चैनलों की टीआरपी काफी बढ़ जाती है।

टीवी चैनलों की टीआरपी रेटिंग करने वाली एजेंसी ‘बार्क इंडिया’ ने कहा है कि 31 दिसंबर 2016 को प्रधानमंत्री के देश के नाम संबोधन को सालभर के दौरान हुए किसी भी लोकप्रिय खेल या मनोरंजन के इवेंट से ज्यादा दर्शकों ने देखा।

ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल इंडिया (बार्क) की ओर से जारी आंकड़ों में कहा गया है कि प्रधानमंत्री के 45 मिनट के संबोधन को तीन करोड़ 11 लाख लोगों ने देखा जबकि आईपीएल फाइनल मैच को तीन करोड़ पांच लाख लोगों ने देखा। यहां तक की सुपरहिट फिल्म ‘प्रेम रतन धन पायो’ को ढाई करोड़ और ‘सुल्तान’ फिल्म को एक करोड़ 13 लाख लोगों ने ही टीवी पर देखा।

टाइम्स नेटवर्क के सीईओ और एमडी एमके आनंद का कहना है कि नोटबंदी की घोषणा के बाद यह टीवी न्यूज चैनलों के लिए यह दर्शकों को जोड़ने का सबसे बड़ा अवसर था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 45 मिनट के संबोधन के दौरान (शाम 7.30 से 8.15 बजे तक) हिंदी न्यूज चैनलों को करीब चार गुना ज्यादा दर्शकों ने देखा। जबकि इसके पहले के चार हफ्तों के दौरान इस समय 87 लाख दर्शकों का औसत रहा था।

इसी तरह अंग्रेजी न्यूज चैनलों को देखा जाय तो शनिवार शाम 7.30 से 8.30 बजे के बीच उसे 41 हजार दर्शक मिले जो पिछले चार हफ्ते के औसत 21 हजार से दो गुना है। दक्षिण भारत में भी अंग्रेजी दर्शकों में तीन गुना से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई।

LEAVE A REPLY