Home पोल खोल भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई में ‘रिश्तेदार’ नहीं देखती मोदी सरकार

भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई में ‘रिश्तेदार’ नहीं देखती मोदी सरकार

171
SHARE

‘भ्रष्टाचार के मामले में जो भी पकड़ा जाएगा वह बचेगा नहीं, मेरा कोई रिश्तेदार नहीं है।’ बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के दौरान पार्टी नेताओं को कही गई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ये बात साफ करती है कि वे भ्रष्टाचार से किसी भी तरह का समझौता नहीं करने जा रहे हैं। प्रधानमंत्री ने जब से देश की कमान संभाली है तब से ही भ्रष्टाचार पर लगातार प्रहार कर रहे हैं। ये भी स्पष्ट है कार्रवाई में किसी भी तरह का पक्षपात भी नहीं हो रहा।

Image result for न खाऊंगा न खाने दूंगा

गिरफ्त में एसएम कृष्णा के दामाद
पूर्व केंद्रीय मंत्री एसएम कृष्णा के एक रिश्तेदार पर अघोषित संपत्ति रखने का खुलासा हुआ है। उनके दामाद और कैफे कॉफी डे के मालिक वीजी सिद्धार्थ के ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे में 650 करोड़ रुपये की अघोषित आय का खुलासा किया है। गुरुवार को बेंगलुरु, हासन, चिकमगलूर, चेन्नई और मुंबई में सिद्धार्थ से जुड़ी 25 संपत्तियों पर छापे मारे गए थे। कैफे कॉफी डे का मुख्यालय बेंगलुरु में है। वीजी सिद्धार्थ टूरिज्म, आईटी और अन्य क्षेत्रों के कारोबार से भी जुड़े हैं। जाहिर है केंद्र सरकार ने इसके तहत यह नहीं समझा कि वे भाजपा के एक बड़े नेता के रिश्तेदार हैं। यानी भ्रष्टाचार के मामले में कोई अपना या पराया नहीं।

कार्ति चिदंबरम की संपत्ति जब्त
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एयरसेल-मैक्सिस सौदे में धन शोधन संबंधी अपनी जांच के सिलिसिले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के पुत्र कार्ति चिदंबरम और कथित तौर पर उनसे जुड़ी एक कंपनी की 1.16 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर ली। ईडी के अनुसार कार्ति ने सावधि तथा बचत खाते में लगभग 90 लाख रुपये तक की राशि के रूप में जमा संपत्तियों को जब्त करते हुए धनशोधन रोकथाम कानून के तहत अस्थाई कुर्की आदेश जारी किया है। आरोप है कि कार्ति ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करके आईएनएक्स को फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट क्लीयरेंस हासिल करने में मदद की थी।

लालू एंड फैमिली की संपत्ति जब्त
एक हजार करोड़ से अधिक की बेनामी संपत्ति के मामले में 11 सितंबर को आयकर विभाग ने लालू प्रसाद एंड फैमिली की एक दर्जन संपत्ति को कुर्क करने का अंतिम आदेश जारी किया। इसके बाद पटना में जमीन के नौ प्लॉट के अलावा दिल्ली के पालम विहार का फॉर्म हाउस की जमीन के साथ न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी स्थित एक आवासीय भवन जो बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के नाम से है, को जब्त कर लिया गया है। आयकर विभाग ने लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती की दिल्ली के बिजवासन के फार्म हाउस को भी अटैच कर दिया है। यह फॉर्म हाउस मीसा और उनके पति शैलेश का है।मीसा शैलेश के लिए चित्र परिणाम

72 हजार करोड़ की अघोषित संपत्ति जब्त
”न खाऊंगा, न खाने दूंगा”। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के इस संकल्प को आयकर विभाग अपनी कार्रवाई से आगे बढ़ा रहा है। बेनामी संपत्ति के मामले में देश भर में कार्रवाई जारी है। सरकार कई स्तर पर ऐसी अघोषित-बेनामी संपत्तियों का पता लगाने में लगी हुई है। केंद्र सरकार ने 23 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट में जानकारी दी कि उसने सघन खोज, जब्ती और छापे में करीब 71,941 करोड़ रुपये की ‘अघोषित आय’ का पता लगाया है।

दो हजार से ज्यादा कंपनियों पर मारे गए छापे
वित्त मंत्रालय ने सुप्रीम कोर्ट में दायर अपने हलफनामें (affidavit) में बताया है कि बीते तीन सालों के दौरान विभाग ने 2 हजार से ज्यादा कंपनियों पर छापे मारे जिसमें इसमें 36,051 करोड़ रुपये से अधिक की अघोषित आय बरामद हुई। इसके अतिरिक्त करीब 2890 करोड़ रुपये की अघोषित संपत्ति भी जब्त की गई। शपथ पत्र में 1 अप्रैल 2014 से 28 फरवरी 2017 तक की जानकारी दी गई है। इसमें यह भी कहा गया है कि तीन साल के दौरान आयकर विभाग ने 2027 समूहों की तलाशी ली।

नोटबंदी में 5400 करोड़ की अघोषित आय जब्त
9 नवंबर से 10 जनवरी तक नोटबंदी के दौरान 5400 करोड़ की अघोषित आय जमा हुई। इसमें 3 सौ किलो से ज्यादा सोना जब्त हुआ। नोटबंदी के दौरान आयकर विभाग ने 1100 सर्चिंग-सर्वे और 5100 वेरिफिकेशंस किए। इस कार्रवाई के कारण 610 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई, जिसमें 513 करोड़ का नकद शामिल है। पिछले साल नंवबर और दिसंबर में क्रमश: 147.9 करोड़ और 306.89 करोड़ रुपये जब्त किए गए। इस दौरान नवंबर में 69.1 और दिसंबर में 234.26 किलोग्राम सोना भी जब्त किया गया। छानबीन के बाद बाद 400 मामले इनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट और सीबीआई के भेजे गए हैं।

LEAVE A REPLY