Home समाचार जानिए महाबलीपुरम को, जहां शी जिगफिंग से मिलेंगे प्रधानमंत्री मोदी

जानिए महाबलीपुरम को, जहां शी जिगफिंग से मिलेंगे प्रधानमंत्री मोदी

188
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग 11 और 12 अक्तूबर को तमिलनाडु के ऐतिहासिक शहर महाबलीपुरम में मिलेंगे। महाबलीपुरम का चीन से करीब 2000 साल पुराना संबंध है। शिखर वार्ता को लेकर महाबलीपुरम में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। प्रधानमंत्री मोदी और जिनपिंग महाबलीपुरम के तीन प्रसिद्ध स्थलों का दौरा करेंगे। चेन्नई से करीब 55 किमी दूर स्थित महाबलीपुरम अपने विशालकाय मंदिरों और समुदी तटों के लिए मशहूर है। यहां के स्मारक और वास्तुकला ऐतिहासिक होने के साथ ही बेहत खूबसूरत भी है।

महाबलीपुरम को 7वीं सदी में पल्लव वंश के राजा नरसिंह देव बर्मन ने बसाया था। राजा नरसिंह मामल्ल नाम से भी प्रसिद्ध थे इसलिए बंगाल की खाड़ी के तट पर स्थित इस स्थल को मामल्लपुरम के नाम से भी जाना जाता है। महाबलीपुरम के पास पहाड़ी पर एक लाइटहाउस बना हुआ है। यहां पांच रथ, एकाश्म, शोर मंदिर भी हैं। यहां चट्टानों का काट कर गुफा मंदिर भी बनाए गए हैं।

देखिए तस्वीरें-

भीम रथ
गणेश रथ
लाइट हाउस
पंच पांडव रथ
पंच रथ
रथ
शोर मंदिर
वराह गुफा
वराह गुफा
वराह गुफा

सभी फोटो सौजन्य

Leave a Reply