Home नरेंद्र मोदी विशेष देश के लिए दीमक की तरह है वोट बैंक की राजनीति :...

देश के लिए दीमक की तरह है वोट बैंक की राजनीति : प्रधानमंत्री मोदी

322
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ता महाकुंभ को संबोधित किया। पंडित दीन दयाल उपाध्याय के जन्म दिवस पर भोपाल के जंबूरी मैदान में आयोजित इस कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा कि सवा करोड़ देशवासी ही भारतीय जनता पार्टी का परिवार है और हम ‘दल से पहले देश’ के बारे में सोचते हैं। उन्होंने कहा “भाजपा ऐसा दल है, जो एकात्म मानववाद को लेकर चलता है। ऐसा दल दुनिया में नहीं है, जो मानवता की बात करता है।” उन्होंने कहा, ”पंडित दीन दयाल उपाध्याय जी का जीवन, उनका चिंतन, उनका आचार, उनका विचार हमारी प्रेरणा हैं।”

पीएम मोदी ने कहा कि देश तीन महापुरुषों को कभी भूल नहीं सकता, ये हैं महात्मा गांधी, रामनोहर लोहिया और दीनदयाल उपाध्याय। उन्होंने कहा, ”हमें गांधी भी मंजूर, लोहिया भी मंजूर और दीनदयाल भी मंजूर हैं। हम समन्वय में विश्वास रखते हैं।” उन्होंने कहा, “संगठन में शक्ति है, हमारी ताकत कार्यकर्ता हैं। हमें चुनाव धनबल, बाहुबल से नहीं, बल्कि जनबल से लड़ना है।” प्रधानमंत्री ने मध्य प्रदेश में फिर एक बार भाजपा सरकार बनाने के लिए कार्यकर्ताओं को ‘मेरा बूथ-सबसे मजबूत’ का नारा दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अगला चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ेगी, जबकि कांग्रेस समाज को तोड़कर सत्ता हथियाना चाहती है। उन्होंने वोट बैंक की राजनीति को देश के लिए खतरनाक बताया और कहा कि इससे देश का काफी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि वोट बैंक की राजनीति के लिए समाज में घोले जाने वाले जहर को हर हाल में रोकना होगा। पीएम मोदी ने कहा कि इस दीमक से देश को मुक्त करवाना भारतीय जनता पार्टी की जिम्मेदारी है। प्रधानमंत्री ने कहा कि वोट बैंक के कारण ही तीन तलाक जैसे मुद्दों पर कांग्रेस का नजरिया अलग है, वह भी तब, जब इस पार्टी की मुखिया एक महिला है।

पीएम मोदी ने कहा कि नकारात्मक राजनीति के कारण ही 125 साल पुरानी पार्टी कांग्रेस को आज सूक्ष्मदर्शी से खोजना पड़ रहा है। इतनी पराजय के बाद भी कांग्रेस सुधरने को तैयार नहीं है। उन्होंने कहा, “देश में गठबंधन बनाने में सफल न होने वाली देश की सबसे पुरानी पार्टी दुनिया के देशों से गठबंधन कर रही है। कांग्रेस के इस रवैए को देश के जागरूक नागरिकों को समझना होगा।” पीएम मोदी ने कहा, ”कांग्रेस पार्टी ने सत्ता खोने के बाद अपना संतुलन भी खो दिया है। कांग्रेस पार्टी देश के ऊपर अब बोझ बन गयी है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी पराजय के भय से गठबंधन करने पर आ गयी है। सत्ता के नशे में छोटी-छोटी पार्टियों को कुचल देनी वाली कांग्रेस आज उन्हीं छोटे दलों के पैरों में पड़ी है। सवा सौ साल पुरानी पार्टी अब छोटे-छोटे दलों के सर्टिफिकेट लेने के लिए भटक रही है। इसके पीछे उसका अहंकार है।

 प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार रहने के दौरान मध्य प्रदेश की भाजपा सरकारों और जनता के साथ धोखा हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कभी मध्‍य प्रदेश का भला नहीं चाहा। यूपीए के शासन काल के दौरान बीजेपी शासित राज्‍यों के विकास में रोड़ा डाला गया।

पीएम मोदी ने कहा, ”कांग्रेस पार्टी ने 2001 से मेरे खिलाफ हरेक गाली का इस्‍तेमाल किया है, लेकिन आपने जितना कीचड़ उछाला है, उतना कमल खिला है। हर कोने और हर बूथ और हर घर में कमल खिलेगा।” प्रधानमंत्री ने पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि भाजपा कार्यकर्ता निष्काम कर्मयोगी की तरह सिर्फ और सिर्फ मां भारती के लिए जीवन खपाने का इरादा रखते हैं।

प्रधानमंत्री ने मध्य प्रदेश भाजपा के संगठन की ताकत को मजबूत बताया और कहा, ”कुशाभाऊ ठाकरे जी के जमाने से संगठन को जमीन पर मजबूत बनाया गया है, जो इसी धरती पर विशाल वट वृक्ष के रूप में पनपा है।” प्रधानमंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को स्मरण करते हुए उन्हें ‘वन लाइफ-वन मिशन’ के विचारों वाला बताया। उन्होंने कहा, ”पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी हों, श्यामा प्रसाद मुखर्जी हों, अटल बिहारी वाजपेयी हों, राजमाता सिंधिया जी हों, दल के विचार के लिए बलिदान देने वाले सैकड़ों नौजवान कार्यकर्ता हों, केरल में जूझते हुए मौत के घाट उतारने के बाद भी संघर्ष करने वाले कार्यकर्ता हों, पश्चिम बंगाल को बचाने के लिए जीवन की आहूति देने वाले कार्यकर्ता हों या जम्मू कश्मीर की धरती पर मां भारती के लिए अपने बलिदान को तैयार रहने वाले लाखों कार्यकर्ता… इन सबका हम पर कर्ज है।”

प्रधानमंत्री ने कहा, ”सबका साथ-सबका विकास, सिर्फ चुनावी नारा नहीं है। बल्कि उज्ज्वल भारत के भविष्य और कोटि कोटि भारतीयों की आशा आकांक्षाओं की पूर्ति के लिए सोच-समझकर के चुना हुआ हमारा मार्ग है।” उन्होंने कहा कि हम समाज के सभी वर्ग के लोगों को उनके कल्याण के लिए योजनाओं को आगे बढ़ा रहे हैं। भाजपा का उद्देश्य समाज के सभी वर्गो का विकास करना है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि अगड़े और पिछड़े का भेद, देश का भला नहीं करेगा। प्रधानमंत्री ने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि ‘सबका साथ-सबका विकास’ के नारे के साथ एक समृद्ध देश और उज्जवल भविष्य के लिए काम करें। कार्यकर्ता संकल्प लें कि वो भारतीय जनता पार्टी का झंडा झुकने नहीं देंगे।

LEAVE A REPLY