Home नरेंद्र मोदी विशेष आने वाले समय में नये इन्फ्रास्ट्रक्चर के साथ देश नयी ऊंचाइयों को...

आने वाले समय में नये इन्फ्रास्ट्रक्चर के साथ देश नयी ऊंचाइयों को प्राप्त करेगा- प्रधानमंत्री मोदी

247
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को गुजरात में कच्छ जिले के अंजार में मुंद्रा एलएनजी टर्मिनल, अंजार-मुंद्रा पाइपलाइन परियोजना और पालनपुर-पाली बाड़मेर पाइपलाइन परियोजना का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा, “एलएनजी टर्मिनल का उद्घाटन आज के कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण है। मैं भाग्यशाली हूं कि मैंने 3 एलएनजी टर्मिनल का उद्घाटन किया है। अब, हम चौथे एलएनजी टर्मिनल बनाने के लिए तैयार हैं।” ई-लोकार्पण के जरिये 6000 करोड़ रुपये से ज्यादा की परियोजनाओं को देश को समर्पित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश के किसान और नौजवानों के सपनों को पूरा करने के लिए यही ऊर्जा काम आएगी। देश आधुनिक infrastructre के साथ देश नई ऊंचाइयों को छुएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि वह दूर नहीं जब भारत की इकोनॉमी ब्रिटेन से भी आगे निकल जाएगी।

पीएम मोदी ने कहा कि विकास के मूल में ऊर्जा अनिवार्य है। Enregy की poverty किसी भी देश को गरीबी से नहीं निकल सकती। उन्होंने कहा, ”अगर गरीबी से मुक्ति चाहिए, देश को आर्थिक विकास चाहिए तो ऊर्जा अनिवार्य है।”

उन्होंने कहा कि आज जब गुजरात की धरती से गुजरात से एलएनजी टर्मिनल राष्ट्र को समर्पित हो रहा है तो हिंदुस्तान के पूर्वी क्षेत्र तक ऊर्जा पहुंचाने की जिम्मेवारी का निर्वाह करने वाले हैं। पीएम मोदी ने कहा, ”अगर देश को गरीबी से मुक्ति चाहिए, आर्थिक विकास चाहिए, सम्पूर्ण सम्पन्न राष्ट्र का विकास होता है, इसके लिए ऊर्जा अवश्य चाहिए।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि जीवन में ऊर्जा किस रूप में अनिवार्य हो गई है। जब ऊर्जा नहीं होती है तब पता चलता है कि जीवन कैसे फंस गया है।  उन्होंने कहा की देश में लोगों की उम्मीद और मांग दोनों ही पहले से बढ़े हैं। पहले लोग कच्ची सड़क को तरसते थे, अब डबल रोड मांगते हैं। पैबर रोड मांगते हैं। उन्होंने कहा कि बदले हुए वक्त में रेल चाहिए, हाईवे, आईवे, गैस ग्रिड, वाटर ग्रिड, पावर ग्रिड, ऑप्टिकल फाइबर नेटटवर्क चाहिए। उन्होंने कहा,  ”आधुनिक भारत के सपने संजोए हमारी युवा पीढ़ी आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर चाहती है।”

पीएम मोदी ने कहा कि सिंदरी में अगर फर्टिलाइजर का कारखाना लग रहा है तो ऊर्जा का समाधन कर दीजिए देश को यूरिया मिलना शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि देश का किसान का भाग्य बदलने में भी यही ऊर्जा काम आएगी। देश के युवाओं के सपनों को साकार करने में भी यही ऊर्जा काम आएगी। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आने वाले समय में नए इन्फ्रास्ट्क्चर के साथ देश नई ऊंचाइयों को प्राप्त करेगा। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि काम की गति में अभूतपूर्व तेजी आई है। हाल में ही सिक्किम में 100वें एयरपोर्ट के उद्घाटन का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि देश में पिछले 67 वर्षों में 65 एयरपोर्ट ही ऑपरेशनल थे जबकि बीते चार वर्षों में 35 एयरपोर्ट ऑपरेशनल हुए हैं। उन्होंने कहा कि अब हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई जहाज का सफर कर रहा है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि वे देश को दो स्तरों पर सशक्त बनाने का प्रयास कर रहे हैं। एक ओर जहां लोगों को मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं वहीं दुनिया के मंच पर भारत का परचम लहरा रहा है। उन्होंने कहा कि देश में सामान्य मानवीय जीवन में बदलाव के प्रयास के तहत ही लक्ष्य आधारित कार्य किए जा रहे हैं। 1000 दिनों में 18 हजार गांवों में बिजली पहुंचाई गई है तो 4 करोड़ घरों में बिजली कनेक्शन पहुंचाए जा रहे हैं। उन्होंने आयुष्मान योजना को गरीबों के जीवन की नयी रोशनी बताते हुए कहा कि राष्ट्र की मूलभूत शक्तियों को मजबूत बनाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ लोग निराशा में ही जीते हैं। कुछ नहीं है कुछ नहीं की रट लगाते हैं, लेकिन मुझे तो देश को आगे ले जाना है। उन्होनेच कहा कि पढ़ाई, सिंचाई, कमाई और दवाई जैसी जीवन की मू भूत आवश्कताओं को पूरा करने के लिए लगातार काम किया जा रहा है।

 

LEAVE A REPLY