Home विपक्ष विशेष कपिल सिब्बल ने हवाला कंपनी खरीदने पर देश से झूठ क्यों बोला?

कपिल सिब्बल ने हवाला कंपनी खरीदने पर देश से झूठ क्यों बोला?

355
SHARE

इस देश में किसी की भी कंपनी खरीदना या बेचना एक सामान्य खबर है, लेकिन जब यह पता चले कि यह कंपनी अन्य देशों से हवाला कारोबार में लिप्त थी और करोड़ों रुपये की हेरा-फेरी करती थी, तो कई प्रश्न खड़े हो जाते हैं।

दरअसल कांग्रेस नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने दिल्ली में Grande Castello Private Limited कंपनी को कौडियों के भाव खरीद लिया है। यह खबर, स्वयं कपिल सिब्बल ने 29 मार्च को प्रेस कान्फ्रेस में दी थी, लेकिन इसी साल जनवरी में कपिल सिब्बल ने दक्षिण अफ्रीका के एक खोजी पत्रकार के लिखित सवाल के जवाब में लिखा था कि इस कंपनी से उनका कोई सबंध नहीं हैं। आखिर, कांग्रेस के नेता ने पहले झूठ क्यों बोला? क्या कपिल सिब्बल दक्षिण अफ्रीका के सबसे बड़े घूसकांड को अंजाम देने वाले ‘गुप्ता ब्रदर्स’ और पीयूष गोयल से अपने रिश्तों को छिपाना चाहते थे?

कपिल सिब्बल के मित्र पीयूष गोयल और ‘गुप्ता ब्रदर्स’ के बीच करीबी रिश्ते- सहारनपुर, उत्तरप्रदेश के अजय, राजेश और अतुल गुप्ता ने नब्बे के दशक में दक्षिण अफ्रीका में अपने व्यापार की शुरुआत की थी और इसके लिए एक कंपनी भी बनाई थी। धीरे-धीरे खनन, मीडिया आदि क्षेत्रों में यह दक्षिण अफ्रीका की एक बड़ी कंपनी बन गई। गुप्ता ब्रदर्स के नाम से मशहूर इन लोगों के राष्ट्रपति जैकब जूमा और उनके परिवार से करीबी रिश्ते बन गये। इसके साथ ही इनकी कई कंपनियों में राष्ट्रपति जैकब के बेटे और पत्नी निदेशक भी रहे। इन रिश्तों का फायदा उठाते हुए गुप्ता ब्रदर्स ने अपना व्यापार खूब बढ़ाया।

राष्ट्रपति जैकब की चौथी पत्नी को प्रिटोरिया में भवन खरीदने के बैंक ऑफ बड़ौदा की प्रिटोरिया शाखा से लाखों का लोन दिलवाया गया, जिसका ईएमआई का भुगतान ‘गुप्ता ब्रदर्स’ की कंपनी करती थी।

गुप्ता ब्रदर्स भारत से दक्षिण अफ्रीका और अन्य देशों में हवाला के जरिए रुपयों को ले जाने का काम 2010 से 2015 के बीच World Windows Impex Pvt Ltd. के जरिये करती थी। इस कंपनी के डायरेक्टर पीयूष गोयल हैं।


पीयूष गोयल की World Window Impex की ही सहयोगी कंपनी Grande Castello Private Limited है, जो दिल्ली में स्थित है जिसे कपिल सिब्बल ने 2016-17 के बीच अपने और अपने परिवार के नाम कर लिया है।

कपिल सिब्बल ने कंपनी खरीदने से जनवरी में किया था इंकार दक्षिण अफ्रीका के घूसकांड की खोजबीन कर रहे पत्रकार ने 11 जनवरी 2018 को कपिल सिब्बल से Grande Castello Private Limited कंपनी के बारे में जानकारी मांगी तो कपिल सिब्बल ने इस कंपनी और ‘गुप्ता ब्रदर्स’ से किसी भी तरह के संबंध होने से साफ इंकार करते हुए मेल का जवाब दिया था। 


11 जनवरी 2018 को दक्षिण अफ्रीका के खोजी पत्रकार के दूसरे मेल के जवाब में लिखा कि वह Grande Castello Private Limited कंपनी में डायरेक्टर ही नहीं हैं।

जबकि रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज की रिपोर्ट बताती है कि 31 मार्च 2017 को कपिल सिब्बल और और उनकी पत्नी के नाम Grande Castello Private Limited के 50-50 प्रतिशत शेयर ट्रांसफर हो चुके थे और पूरी कंपनी पर सिब्बल परिवार का मालिकाना हक है।

11 जनवरी 2018 के मेल के जवाब से पलटते हुए कपिल सिब्बल ने प्रेस कांफ्रेंस मे स्वीकार किया कि उन्होंने यह कंपनी खरीदी है।

आखिर, यह प्रश्न उठता है कि कांग्रेस के नेता ने झूठ क्यों बोला और वह देश से क्या छिपा रहे हैं? अब यह बात स्पष्ट हो चुकी है कि उनकी मित्रता एक ऐसे व्यक्ति से है जो हवाला और बैंक अधिकारियों को रिश्वत देने के मामलों में फंसा हुआ है और उन्होंने इसी मित्र की कंपनी को कौड़ियों के भाव में खरीदा। दाल में काला है या पूरी दाल ही काली है इसका पता जल्द ही चल जायेगा।

LEAVE A REPLY