Home केजरीवाल विशेष व्यंग्य: केजरीवाल को ‘फर्जीवाल’ कहें तो ‘ऑब्जेक्शन’ न करियेगा!

व्यंग्य: केजरीवाल को ‘फर्जीवाल’ कहें तो ‘ऑब्जेक्शन’ न करियेगा!

342
SHARE

क्या भूख हड़ताल में भी घोटाला हो सकता है? जवाब है अगर केजरीवाल एंड कंपनी करे तो यह जरूर हो सकता है। जी हां, अनशन कर रहे व्यक्ति का वज़न कम हो जाता है, लेकिन दिल्ली के मंत्री सत्येन्द्र जैन का वजन करीब डेढ़ किलो बढ़ गया है।

मेडिकल साइंस के लिए भी हैरत की बात
आप इसे जादू कहें या चमत्कार यह तो हुआ है! आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मंत्री सत्येन्द्र जैन पिछले 4 दिनों से कथित तौर पर भूख हड़ताल पर बैठे हैं, लेकिन शुक्रवार को जब डॉक्टरों ने वजन किया तो पूरी डॉक्टर बिरादरी हक्की-बक्की रह गई।

दरअसल हमेशा ऐसा होता है कि कोई कोई शख्स भूख हड़ताल पर हो तो उसका वजन एक ही दिन में कम होने लगता है। पर यहां तो चौथे दिन सत्येन्द्र जैन का वजन कम नहीं हुआ बल्कि बढ़ गया वो भी लगभग डेढ़ किलो।

जनता को चूना लगाने से केजरी हुए ‘भारी”
डॉक्टर भी इस जद्दोजहद में लगे हैं कि आखिर केजरीवाल के मंत्री मेडिकल साइंस के नियमों को भी कैसे धता बता रहे हैं। क्या ये चमत्कार एसी कमरे में धरने का है या फिर विदेशी सोफे पर धरने के बहाने दिल्ली की जनता को चूना लगाने का!

बहरहाल फर्जीवाड़े की पोल खुली तो दलील देखिये। आम आदमी पार्टी के नेताओं ने कहना शुरू कर दिया कि वो खाना नहीं खा रहे बल्कि पानी अधिक पी रहे हैं। सवाल ये उठता है कि क्या केजरीवाल की IIT वाली डिग्री फर्जी है। क्योंकि यह तो बिना पढ़ा लिखा आदमी भी बता सकता है कि पानी कितना भी पिया जाए उस से वजन नहीं बढ़ सकता!

केजरीवाल एंड कंपनी की पुरानी तस्वीर, जब वे सड़कों पर धरना देते थे

… तो टॉयलेट में छिपकर हो रहा है भोजन!
खबरें तो आ रही हैं कि अरविंद केजरीवाल का भी वजन बढ़ गया है। हालांकि पोल खुलने के डर से वे अपना वजन नहीं करवा रहे हैं। आरोप तो ये भी है कि ये लोग अपना शुगर लेवल चेक नहीं करवा रहे हैं क्योंकि इससे पता लग जाएगा कि इन लोगों ने चोरी छिपे भोजन कर लिया है।

मांग उठने लगी है कि धरने और भूख हड़ताल में भी केजरीवाल कहीं फर्जीवाड़ा न कर दें, इसलिए सीसीटीवी लगाए जाएं। दरअसल ये लोग LG हाउस के इस कमरे के टॉयलेट सीट पर बैठकर भोजन करते हैं। इनके लिए छुपाकर बाहर से खाना आता है और ये सब टॉयलेट में जाकर खाना खाते हैं।

हर रोज बढ़ जा रहा है 400 ग्राम वजन
कहा जा रहा है कि इनका वजन इसलिए बढ़ रहा है की ये लोग बैठे हुए हैं और पूरा खाना खा रहे हैं। तेजी से वजन बढ़ रहा है जो औसतन 400 ग्राम रोज है। जाहिर है बदन से भारी हो रहे ये लोग जनता को ही तो मूर्ख बना रहे हैं। दबाकर खा भी रहे हैं, एसी कमरे में आराम भी कर रहे हैं और जनता से कह रहे हैं कि हम जनता की लड़ाई लड़ रहे हैं।

LEAVE A REPLY