Home विचार केजरीवाल जी आपकी टीआरपी गिर रही है, जरा और सनसनीखेज आरोप लगाइये

केजरीवाल जी आपकी टीआरपी गिर रही है, जरा और सनसनीखेज आरोप लगाइये

672
SHARE

दिल्ली के एनआरआई चीफ मिनिस्टर अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सनसनीखेज तरीके से प्रेस कॉन्फ्रेंस की और आरोपों की झड़ी लगा दी। उम्मीद की जा रही थी कि वो इस बार कुछ नए और खोजी पत्रकारिता वाले आरोप लगाएंगे। लेकिन एक बार फिर उन्होंने साबित कर दिया कि उनके और राहुल गांधी के बीच आरोप की राजनीति की एक जबरदस्त प्रतिस्पर्धा चल रही है और दोनों एक दूसरे को मात देने में लगे हैं। वैसे केजरीवाल ने जैसे ही प्रधानमंत्री के खिलाफ आरोपों की झड़ी लगाई, सोशल मीडिया पर फौरन लोगों ने उन्हें घेरना शुरू कर दिया। हमने केजरीवाल के आरोपों और उस पर लोगों के दिए गए जवाबों की पड़ताल की। आप भी इन सवालों के जवाब देखिए और खुद तय कीजिए कि स्वयंभु और तथाकथित दुनिया के इकलौते स्वघोषित ईमानदार केजरीवाल औऱ किस स्तर तक नीचे गिरना चाहते हैं।

केजरीवाल के आरोप नंबर – 1
केजरीवाल ने एक बार फिर आरोप लगाया कि मोदी जी की डिग्री फर्जी है।
सोशल मीडिया पर जवाब –
प्रधानमंत्री मोदी की डिग्री को फर्जी ठहराने के पीछे पड़े अरविंद केजरीवाल को सोशल मीडिया ने आड़े हाथों लिया। एक ने लिखा कि, “केजरीवाल जी आप तो प्रधानमंत्री पर आरोप लगाते हैं, जबकि ये मामला अदालत में है। जबकि आपके खिलाफ तो सोशल मीडिया पर IIT खड़गपुर में यौन शोषण तक का मामला सामने आया, क्या आपने उसका जवाब दिया।”

एक ने जबाव दिया कि “खुद आईटीआई खड़गपुर से फर्जी तरीके से इंजियरिंग में दाखिला लेने वाला फर्जीवाल की बात अब देश में कोई सुनने वाला नहीं।”

एक ने केजरीवाल के आरोपो का जबाव देते हुए कहा कि “केजरीवाल खिसियानी बिल्ली की तरह खंभा नोच रहे हैं। दरअसल आप के कानून मत्री जितेंद्र सिंह तौमर की कानून की डिग्री ही फर्जी होने के कारण जेल की हवा खानी पड़ी थी और आप के ही एक और विधायक सुरेंद्र सिंह की बीए की डिग्री भी फर्जी निकली थी।”

वहीं एक शख्स ने केजरीवाल को जवाब लिखा कि “प्रधानमंत्री की डिग्री का मामला पूरी तरह से साफ हो चुका है। खुद यूनिवर्सिटी के अधिकारियों ने पूरी डिग्री और उससे जुड़ी जानकारियां सार्वजनिक कर दी थीं।, लेकिन केजरीवाल आखिर तक तोमर को बचाने की कोशिश ही करते रहे।”

केजरीवाल के आरोप नंबर – 2
केजरीवाल ने प्रधानमंत्री की डिग्री को खुद ही फर्जी बताकर नोटबंदी को बेकार बताया, कहा कि जब मोदी ने पढ़ा लिखा ही नहीं तो नोटबंदी कैसे की, किसी से पूछा तक भी नहीं।
सोशल मीडिया पर जवाब –
इस आरोप के जवाब में सोशल मीडिया पर लोग केजरीवाल के खिलाफ पिल ही पड़े। एक ने लिखा कि “केजरीवाल जी जब हम लोगों को तकलीफ नहीं है तो फिर आप क्यों परेशान हो रहे हैं। क्या आपने देखा कि कहीं देश की जनता ने कोई विरोध प्रदर्शन किया हो”।

एक ने लिखा कि “केजरीवाल आपकी और ममता बनर्जी की पूरी मुहिम की हवा निकल गई। आपका भारत बंद बेअसर साबित हुआ, जबकि आपकी धमकी आप पर ही भारी पड़ रही है”।

एक ने लिखा कि “क्या आपको पता नहीं कि मोदी की नोटबंदी की पूरी दुनिया में जय-जयकार हो रही है। अर्थशास्त्री मोदी को सलाम कर रहे हैं। लेकिन ये बातें तो आपको दिखेंगी नहीं, क्योंकि आप मोदी विरोध में पागल हो गए हैं।“

सोशल मीडिया पर एक शख्स ने यहां तक लिख डाला कि “केजरीवाल जी आपकी टीआरपी गिर रही है, जरा और सनसनीखेज आरोप लगाइये।”

केजरीवाल के आरोप नंबर – 3
केजरीवाल ने कहा कि जो पैसा बैंकों में जमा हुआ, उसे वो अपने अमीर दोस्तों के लोन माफ करने में खर्च ना करें।
सोशल मीडिया पर जवाब –
केजरीवाल को लोगों ने लिखा कि “क्या आपके पास काम नहीं है, जो आप सिर्फ और सिर्फ अनुमान लगाकर प्रधानमंत्री पर हमला करते रहते हैं। पहले तो आप कम से कम कोरे कागज लेकर आरोपों की झड़ी लगाते थे। अब तो ऐसा लगता है कि रात में सपना देखा और दिन में आरोप जड़ दिए।”

एक ने लिखा कि “दिल्ली में तो आपने काम करना छोड़ ही दिया है। अब पंजाब में भी आपको रैली के दौरान लोगों का समर्थन नहीं मिल रहा है तो आप अंदाजा के आधार पर ही आरोप लगाते हैं। ऐसा लगता है कि आपको उड़ता हुआ तीर लेने की आदत है।”

केजरीवाल के आरोप नंबर – 4
केजरीवाल ने कहा कि पीएम सीधे राजनीति करें और एलजी के कंधे पर बंदूक रखकर ना चलाएं।
सोशल मीडिया पर जवाब –
“केजरीवाल जी आप प्रधानमंत्री पर कम पढ़े लिखे होने का आरोप लगाते हैं। लेकिन आपने तो इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है। IRS की फर्जी तरीके से नौकरी भी की। लेकिन क्या आपको इतना भी नहीं पता कि आप खुद इस मसले को लेकर हाई कोर्ट गए थे। वहां आपकी करारी हार हुई। अब आप सुप्रीम कोर्ट भी जा चुके हैं। वहां से भी आपको कोई राहत नहीं मिली। बल्कि हाई कोर्ट के आदेश को ही बरकरार रखा। कोर्ट ने साफ कहा था कि दिल्ली में एलजी एक संवैधानिक पोस्ट है और उन्हें पूरा अधिकार है।”

एक ने लिखा कि “केजरीवाल जी आपसे विनती है कि आप दिल्ली को संभाले, पूरे देश की व्यवस्था को तहस नहस न करें। आने वाली पीढ़ियां आपको कभी माफ नहीं करेंगी।“

LEAVE A REPLY