Home चुनावी हलचल केजरीवाल ने फिर अलापा EVM राग – MCD हारे तो EVM जिम्मेवार!

केजरीवाल ने फिर अलापा EVM राग – MCD हारे तो EVM जिम्मेवार!

662
SHARE

दिल्ली में हुए एमसीडी चुनाव के बाद हुए एग्जिट पोल में बीजेपी को पूर्ण बहुमत दिखाया जा रहा है वहीं आम आदमी पार्टी को तीसरे नंबर पर…यानि दिल्ली के राजौरी विधानसभा में हुए उपचुनाव के नतीजे एक बार फिर से दोहराए जा रहे है। लेकिन केजरावाल ने इस बार भी हार का बहाना ढूंढ लिया है और अपना पुराना राग अलापते हुए कहा है कि अगर वो हारे तो उसके लिए ईवीएम जिम्मेवार होगी। एक बार फिर से एक ऐसे विवाद को जन्म दिया जा रहा है जिसमें कोई आधार नहीं

पहले भी खड़े किए गए है झूठे विवाद?

पहली बार नही है कि मोदी सरकार को झूठे मुद्दों पर घेरने की कोशिश की गई है। इससे पहले असहिष्णुता पर अवार्ड वापसी का सिलसिला चलाया गया था और चर्च जलाने जैसे मुद्दे पर बीजेपी को घेरने की कोशिश की गई थी लेकिन नतीजे सिफर ही निकलें थे। अब एक बार फिर से EVM मशीन को लेकर केजरीवाल दाना-पानी लेकर चुनाव आयोग और बीजेपी पर चढ़ गए है।

केजरीवाल की EVM से छेड़खानी का जबाव

इससे पहले केजरीवाल ने दावा किया था कि वो खुद आईआईटी के छात्र रहे है इसलिए उन्हें दस तरीके आते है कि ईवीएम से कैसे छेड़छाड़ की जा सकती है। उनके इस बयान पर आईआईटी के एक छात्र गौरव ने केजरीवाल को लिखा था कि “आपका नाता तो इंजिनिरिंग से 25 साल पहले टूट गया था और सामान्यत इंजीनियरिंग पासआउट दो साल के अंदर ही सब भूल जाते है, इसलिए “IIT का इंजीनियर” होने के नाम पर लोगों को बेवकूफ बनाना बंद कीजिये। आप जानते भी है EVM कैसे काम करता है? EVM एक Stand-alone मशीन है, इसका बाहर की दुनिया से कोई नाता नहीं, इसे Software के माध्यम से हैक करना तो लगभग नामुमकिन है।”

गोवा और पंजाब हारने पर EVM पर लगाया था आरोप

यही नहीं गोवा में आम आदमी पार्टी की जमानत जब्त होने और पंजाब में हार का ठीकरा भी अरविंद केजरीवाल ने चुनाव आयोग पर ही फोड़ा था। और अब एग्जिट पोल के नतीजों को भी केजरीवाल ने ईवीएम मशीन की छेड़खानी से जोड़ दिया है। जबकि अभी एमसीडी चुनाव के नतीजे आने बाकी है।

केजरीवाल की चुनाव आयोग को चुनौती

चुनाव आयोग ने ईवीएम पर बार-बार लग रहे आरोपो पर सभी दलों को बुलाया है और केजरीवाल के इस चुनौती को भी स्वीकार कर लिया है जिसमें उन्होंने दावा किया था कि ईवीएम मशीन से देश का कोई भी इंजीनियर छेड़छाड़ नहीं कर सकता है। बहरहाल ईवीएम मशीन से नतीजा कुछ भी निकले लेकिन केजरीवाल को तो आंखो देखा झुठलाने में ही मजा आता है।

MCD चुनाव आने से पहले मानी हार

दिल्ली एमसीडी के तीन निकायों के लिए हुए मतदान में 54 प्रतिशत लोगों ने वोट दिया। मतदान के तुरंत बाद लोगों से बातचीत के आधार पर एग्जिट पोल के नतीजे सामने आए है जिसमें एग्जिट पोल में बीजेपी को 272 में 200 से ज्यादा सीटे जीतने का दावा किया है यानि पूर्ण बहुमत। लेकिन केजरीवाल ने रिजल्ट आने से पहले ही जैसे हार स्वीकार कर ली हो। और ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर फिर से बखेड़ा खड़ा कर दिया है।

LEAVE A REPLY