Home समाचार मोदी को दोबारा पीएम बनाने के लिए कांवड़ यात्रा बन गया राजनीतिक...

मोदी को दोबारा पीएम बनाने के लिए कांवड़ यात्रा बन गया राजनीतिक जागरूकता अभियान

239
SHARE

सबका साथ, सबका विकास एक नारा नहीं बल्कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार की आत्मा है। इसके कारण भारत के लोग एक बार फिर 2019 में श्री नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री बनते देखना चाहते हैं। इसके लिए अभी से लोग अपनी आस्था, विचार और धार्मिक क्रियाकलापों के माध्यम से पीएम मोदी के लिए पूजा-अर्चना करने में जुट गए हैं। इस वर्ष सावन महीने में कांवड़ यात्रा बोल बम के नारों के बीच पीएम मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने की अपील के नारों की गूंज भी सुनाई दे रही है। बोलबम के जयकारे के बीच शिवभक्त पीएम मोदी को 2019 में एक बार फिर से प्रधानमंत्री बनाने के लिए लोगों से अपील कर रहे हैं। अलग-अलग प्रकार के नारों के साथ ऑटो रिक्शा से लेकर कांवड़ियों की टोली गंगाजल लेकर शिवमय यात्रा को मोदीमय बनाने में जुटे हैं। कांवड़ियों का कहना है कि हम मोदी जी को 2019 में दोबारा प्रधानमंत्री बनते देखना चाहते हैं। वही, हमारे देश का उद्धार कर सकते हैं। वह हमारे लिए कोहिनूर हीरे जैसे हैं।

कांवड़िए ही नहीं, और भी कई लोग हैं जो श्री नरेन्द्र मोदी को 2019 में दोबारा प्रधानमंत्री बनाने के लिए अपने-अपने तरीके से इष्टदेव को मनाने में जुटे हैं। उसकी एक झलक –

पेट के बल लेटकर 90 KM का सफर कर रहे हैं ये बुजुर्ग
हरियाणा के चरखी दादरी जिले के गांव सहरीयारपुर निवासी 56 वर्षीय अतर सिंह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के समर्थक हैं। वह खेती-बाड़ी और मजदूरी करके अपने परिवार का पालन-पोषण करते हैं। वह पीएम मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनते देखना चाहते हैं। इसके लिए वह पिछले दो वर्ष से भगवान शिव की अराधना कर रहे हैं। इस साल वह अपने घर से महेंद्रगढ़ के बाघोत धाम तक जाने के लिए पेट के बल लेटकर यात्रा शुरू की है। वह 90 किलोमीटर की यात्रा पूरी करके 9 अगस्त को बाघोत धाम पहुंचेंगे और भगवान शिव का जलाभिषेक करेंगे। जलाभिषेक करने के बाद अतर सिंह पीएम मोदी से मिलने के लिए समय मांगेंगे।

मुस्लिम महिलाओं ने की नरेंद्र मोदी को दोबारा पीएम बनाने की दुआ
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दोबारा सत्ता में लाने के लिए मुस्लिम महिलाओं ने 6 जून, 2018 बुधवार को वाराणसी के चौकाघाट स्थित सांस्कृतिक संकुल में दुआख्वानी की। दुआख्वानी के बाद महिलाओं ने एक-दूसरे को कमल के फूल की प्रति भेंट की। अजान के बाद उन्होंने रोजा इफ्तार किया। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने सैकड़ों वर्षों से एक साथ तीन तलाक का दंश झेल रही मुस्लिम महिलाओं को इससे मुक्त कराने की पहल की। अभियान की संयोजिका डॉ. रचना अग्रवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने महिलाओं की सुरक्षा, शिक्षा व सम्मान दिलाया है। पूर्व पार्षद प्रत्याशी हुमा बानो ने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश आगे बढ़ रहा है। उन्होंने देश के हर वर्ग के विकास के लिए कदम उठाया है। नरेंद्र मोदी ही देश को दोबारा विश्वगुरु का दर्जा दिला सकते हैं। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के बैनर तले कार्यक्रम आयोजन हुआ। 

LEAVE A REPLY