Home नोटबंदी सितंबर में 84 प्रतिशत बढ़ा कार्ड से लेन-देन, 74 हजार करोड़ के...

सितंबर में 84 प्रतिशत बढ़ा कार्ड से लेन-देन, 74 हजार करोड़ के पार पहुंचा डिजिटल ट्रांजेक्शन

862
SHARE

भ्रष्टाचार से निपटने, पारदर्शी और प्रभावी शासन उपलब्ध कराने और गरीब-अमीर के बीच खाई को पाटने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल इंडिया का कंसेप्ट सामने रखा है। वे भारत को एक डिजिटल सोसाइटी बनाने का हमेशा आह्वान करते रहे हैं। उनके इस आह्वान का देश के लोगों पर असर भी हो रहा है और इसके प्रत्यक्ष उदाहरण सामने आ रहे हैं। सितंबर महीने में डेबिट-क्रेडिट कार्ड से हुए ट्रांजेक्शन में 84 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। केंद्र सरकार द्वारा डिजिटल तरीके से लेन-देन को बढ़ावा देने से अकेले सितंबर में 74 हजार करोड़ से अधिक का ट्रांजेक्शन्स हुए हैं।

पिछले वर्ष के मुकाबले बढ़े डिजिटल लेन-देन
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार, पिछले साल सितंबर के महीने में केवल 40,130 करोड़ का लेन-देन डिजिटल तरीके से हुआ था। इस साल डिजिटल लेन-देन बढ़ाने में प्वाइंट ऑफ सेल (पीओएस) मशीन का ज्यादा योगदान रहा। पिछले साल जहां केवल 203 मिलियन ट्रांजेक्शन हुए थे, वहीं इस साल सितंबर महीने में यह आंकड़ा 378 मिलियन के पार चला गया।

नोटबंदी के बाद से बढ़े डिजिटल ट्रांजेक्शन्स
दरअसल पिछले साल हुई नोटबंदी के बाद से हर महीने डिजिटल तरीकों का इस्तेमाल करके लेन-देन काफी बढ़ गया है। 2014 में लॉन्च की गई जन धन योजना के बाद से कार्ड का प्रयोग भी काफी बढ़ा है। अंतर्राष्ट्रीय कंसल्टेंसी कंपनी ईएंडवाई की वर्ष 2017 की रिपोर्ट के अनुसार दुनिया भर में इस समय फिनटेक की सबसे अधिक स्वीकृति भारत में है, जो कि 52 प्रतिशत है।

Image result for डिजिटल इंडिया पीएम मोदी का सपना

22 प्रतिशत की दर से बढ़ा डेबिट कार्ड का प्रयोग
जन धन खातों की वजह से डेबिट कार्ड से होने वाले ट्रांजेक्शन 2015 में 39 प्रतिशत बढ़त के साथ हुए थे, वहीं नोटबंदी के बाद से इनका औसत 22 प्रतिशत रहा है। इसी तरह 2016 से 2017 के बीच क्रेडिट कार्ड में 24 प्रतिशत का ग्रोथ देखने को मिला, जबकि 2011-16 के बीच इसमें 9 प्रतिशत का ग्रोथ था।

digital payments, digital payment in india, e payments, digital india

डिजिटल लेन-देन में भारत का जबरदस्त ग्रोथ रेट
एसबीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार नोटबंदी ने भारत को डिजिटल भुगतान के क्षेत्र में अन्य देशों के मुकाबले तीन वर्ष आगे पहुंचा दिया है। बजार में चल रहे विभिन्न प्रकार के प्रीपेड उपकरण जैसे मोबाइल वॉलेट, पीपीआई कार्ड, पेपर वाउचर और मोबाइल बैंकिंग में भी एक साल पहले के मुकाबले 122 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है।मोबाइल वॉलेट के लिए चित्र परिणाम

LEAVE A REPLY