Home समाचार दमन व दीव बना देश का पहला कैशलेस क्षेत्र

दमन व दीव बना देश का पहला कैशलेस क्षेत्र

541
SHARE

अरब सागर तट पर स्थित केंद्र शासित प्रदेश दमन व दीव देश का पहला कैशलेस क्षेत्र बन गया है। दीव में करीब 25 हजार परिवारों को कैशलेस ट्रांजेक्शन से होने वाले लाभ के बारे में बताया गया। स्वयंसेवी संस्था से जुड़े प्रशिक्षित लोगों ने इन परिवारों को कैशलेस लेन-देन के बारे में शिक्षित किया।

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज गंगाराम अहिर ने दमन व दीव को देश का पहला कैशलेस क्षेत्र बनाने और डिजिटल इंडिया अभियान को बढ़ावा देने के लिए यहां के प्रशासन के प्रयासों की सराहना की। यहां वाई-फाई सेवा शुरू होने के बाद पिछले 45 दिनों में 32 हजार से ज्यादा पर्यटकों ने करीब 3500 जीबी डाटा का इस्तेमाल किया है।

अहिर ने यहां विकास परियोजनाओं की समीक्षा की और कडैया में तटीय पुलिस थाने का उद्घाटन किया। अहिर ने कहा कि यहां पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं और कैशलेस होने से यह यहां के लोगों के लिए राजस्व का एक प्रमुख स्रोत बन सकेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कैशलेस अभियान को देशभर में जबरदस्त समर्थन मिल रहा है। लोग कैशलेस लेनदेन की ओर लगातार कदम बढ़ा रहे हैं और इसके तरीकों को अपना रहे हैं। 8 नवंबर को नोटबंदी के ऐलान के बाद से डिजिटल लेनदेन काफी बढ़ा है। इससे भ्रष्टाचार और कालेधन पर रोक लगाने में मदद मिलेगी।

LEAVE A REPLY