Home चुनावी हलचल दलालों के ‘राजदार’ को पकड़ कर ले आए हैं मोदी, बिलबिला रहे...

दलालों के ‘राजदार’ को पकड़ कर ले आए हैं मोदी, बिलबिला रहे हैं सारे भ्रष्टाचारी

128
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भ्रष्टाचारियों पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने जब से भ्रष्टाचार के दरवाजे बंद किये हैं, तभी से भ्रष्टाचार करने वाले कांप रहे हैं। अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले के बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि राजदार को पकड़ लिया गया और अब इसकी जद में कई बड़े लोग आ सकते हैं। इसलिए ये सब मिलकर मोदी सरकार को बदनाम करने में जुटे हुए हैं।

एक भी भ्रष्टाचारी नहीं बचेगा!

राजस्थान के सुमेरपुर और दौसा में चुनावी रैली में पीएम मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचारियों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने गांधी परिवार को घेरते हुए कहा कि ये लोग दिनरात झूठ फैला रहा है। इन्हें पहले अपनी चार पीढ़ी का हिसाब देना चाहिए जिसके बाद मोदी से चार साल का हिसाब मांगना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक बार गलती से नामदार ने बोल दिया कि मोदी भ्रष्टाचार पर बोलना बंद कर दिया। इनको परेशानी इसलिए हो रही है क्योंकि मोदी ने जो एक-एक कदम मजबूत तरीके से उठाया है, उसने इनके चोर दरवाजे बंद कर दिये हैं। सारे भ्रष्टाचारी गिरफ्त से बचने के लिए बचते फिर रहे हैं।

आम आदमी के प्रधानमंत्री मोदी

उन्होंने कहा कि गरीबी में जिंदगी बिताने के कारण वो गरीबों और आम आदमी का दुख दर्द बहुत अच्छे से समझते हैं, इसलिए उनका हर कदम आम लोगों, माताओं-बहनों की जिंदगी को खुशहाल बनाने के लिए उठ रहा है। पीएम ने कहा कि देश की दुर्दशा का जिम्मेदार चार पीढ़ी तक राज करने वाले लोग हैं। लेकिन अब इनकी जमीन खिसक चुकी है। राजस्थान में कांग्रेस की हवा बताने वाले कांग्रेस नेता और पत्रकार नामदार की साख को बचाने में जुटे हुए हैं।

उनके लिए कुंभाराम और कुंभकर्ण एक 

उन्होंने राहुल गांधी की समझ पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि नामदार को कांग्रेस नेता कुंभाराम और कुंभकर्ण में फर्क भी नहीं पता है। नामदार को ना तो कांग्रेस नेताओं के नाम याद है और ना अब तक कांग्रेस अध्यक्ष रहे नेताओं का नाम वो गिना सकते हैं।

पांच धाराओं से बहेगी विकास की गंगा

उन्होंने कहा कि उनके लिए विकास की पांच मुख्य धाराए हैं। श्री मोदी ने कहा ‘’हमारा मंत्र सिर्फ और सिर्फ विकास है। देश की समस्याओं का समाधान विकास है। जातिवाद बहुत हो चुका। भाई-भतीजावाद बहुत हो चुका। वंशवाद बहुत हो चुका। परिवारवाद बहुत हो चुका। संप्रदायवाद बहुत हो चुका। अब देश सिर्फ और सिर्फ विकासवाद पर ही चल सकता है। देश के नौजवानों का भविष्य सिर्फ विकासवाद पर बन सकता है। इसलिए हमारा मंत्र है सबका साथ सबका विकास।… विकास की गंगा की पांच मुख्य धाराएं है। विकास की पांच मुख्य धाराएं विकास को सच्चे अर्थ में सामान्य मानवी तक पहुंचाती है।… पहली धारा है बेटे-बेटी की पढ़ाई। … दूसरी धारा है युवा को कमाई।  तीसरी धारा है किसान को सिंचाई। .. चौथी धारा है बुजुर्गों को दवाई और पांचवी धारा है जन जन की सुनवाई… इन पांच धाराओं से विकास की गंगा मुझे बहानी है। ‘’

खादी ने बढ़ाया सम्मान और स्वावलंबन

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने रोजगार के क्षेत्र में कई प्रयास किये हैं, जिससे करोड़ों लोगों को रोजगार मिला है। खादी ग्रामोद्योग के जरिए रोजगार हासिल करने वाले लोगों की संख्या 11 लाख से बढ़कर 22 लाख हो गई है और विदेशों में भी खादी लोकप्रिय हो रही है। उन्होंने कहा ‘’पिछले दिनों खादी में हमने जो काम किया है। उसका परिणाम है कि उसकी बिक्री लगातार बढ़ रही है।   स्वावलंबन बढ़ रहा है । लोगों को रोजगार के अवसर मिल रहे हैं। एक जमाने में 11 लाख से अधिक लोग खादी, स्वावलंबन का काम करते थे….इस वर्ष 22 लाख तक ये आंकड़ा ले जाएंगे ताकि देश के गरीब परिवार में खादी के द्वारा अतिरिक्त इनकम हो। ‘’

याचक नहीं, मालिक बनना चाहता है युवा

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार की नीतियों की वजह से आम नौजवान को अपना खुद का कारोबार खड़ा करने में मदद मिल रही है। श्री मोदी ने कहा ‘’हमारे देश का नौजवान आज अपने पैरों पर खड़ा होना चाहता है। वो नौकरी का याचक बनना नहीं चाहता है। वो नौकरी देने वाला बनना चाहता है। हमने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना बनाई। और प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत हमने नियम बनाया कि कोई भी नौजवान बेटा या बेटी,अगर अपने पैरों पर खड़े होकर काम करना चाहते है तो बैंक के दरवाजे उनके लिए खोल दिए जाएंगे। बिना कोई गारंटी बैंक से उनको पैसा दिया जाता है, और अब तक 14 करोड़ लोन स्वीकृत हो चुके हैं।‘’

2022 तक मिलेगा सबको अपना घर

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने हिंदुस्तान के हर नागरिक को अपना खुद का मकान देने का लक्ष्य रखा है। अब तक उनकी सरकार ने एक करोड़ 25 लाख गरीब परिवारों को मकान बनाकर सौंप दिये हैं। इन सब घरों में सभी बुनियादी सुविधाएं दी गई है और इनका मालिकाना हक महिलाओं को दिया गया है। श्री मोदी का सपना है कि 2022 तक हिंदुस्तान में हर नागरिक के पास उसका अपना घर हो।

भारत माता की जयकारे का रोमांच

राहुल गांधी ने एक सभा में प्रधानमंत्री मोदी को भारत माता की जय लगाने पर ताना मारा था। इस पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा कि भारत माता का जयकारा सबको रोमांचित कर देता है। श्री मोदी ने कहा जब मोदी भारत मांता की जय बोलता है, हिंदुस्तान का हर कोई नागरिक जब भारत माता की जय बोलता है तो सीमा पर तैनात मेरे जवान की याद आती है। हर हिंदुस्तानी जब भारत माता की जय बोलता है तो सियाचिन में माइनस 40 डिग्री में देश के लिए खड़े सैनिक की तपस्या याद आती है। जब हम भारत माता की जय बोलते हैं तो समंदर पार करके मेरा मछुआरा भाई, हिंदुस्तान की अर्थ उपार्जन के लिए मेहनत करता है, जब भारत माता की जय बोलता हूं तो मछुआरे के परिश्रम की मुझे सुगंध आती है।जब मैं भारत माता की जय बोलता हूं तो मेरे दिल दिमाग में सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानी छा जाते हैं। जब मैं, भारत मां की जय बोलता हूं तो मुझे देश की कोटि-कोटि माताओं-बहनों का स्मरण होता है।

बेटियो के लिए हर स्कूल में टॉयलेट

प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने छात्राओं के लिए पढ़ाई का बेहतर माहौल देने का काम किया है। श्री मोदी ने कहा  “हमारी बेटियां पढ़ाई, स्कूल छोड़ देती थी।… क्योंकि स्कूल में बेटियों के अलग टॉयलेट नहीं होता, अलग शौचालय नहीं होता। इसलिये बेटी 8-10 साल की उम्र होते होते मन करता है कि मैं स्कूल नहीं जाऊंगी। मेरी बेटियां पढ़े, इसलिये मैंने हिंदुस्तान के हर स्कूल में बेटियों के अलग शौचालय बनाने का काम किया। क्योंकि मेरे लिये वही मेरी भारत माता की जय है। “

सशक्त नेतृत्व से ही आगे बढ़ेगा देश

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोई भी सरकार या संस्था सशक्त नेतृत्व के बिना नहीं चल सकती। उन्होंने कहा कि “अगर राज्य चलाना है, अगर देश चलाना है, एक छोटी सी म्युनिसिपल्टी चलानी है, अगर जिला परिषद चलानी है तो भी सशक्त नेतृत्व की जरूरत पड़ती है। उसके बिना एक नगर पालिका भी नहीं चल सकती है। और सशक्त नेतृत्व का मतलब ये नहीं है कि सुबह शाम दंड बैठक करे, सशक्त नेतृत्व का मतलब होता है, जिसकी समझ बड़ी स्पष्ट है, जिसके पास अनुभव है। जो समाज के प्रति संवेदनशील है। जो अपने लिये नहीं, अपनी जिम्मेदारी को पूरा करने के लिये कठोर से कठोर निर्णय लेने की ताकत रखता है। “

विपक्ष के पास ना नेता, ना नीति, ना नीयत

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस चुनाव में विपक्ष के पास न नेता है, न नेतृत्व और न नीयत। इसलिए इन चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की जीत निश्चित है। प्रधानमंत्री ने लोगों से भरपूर मतदान करने की अपील की। उन्होंने कहा कि आप इस चुनाव को सिर्फ एम एल ए या राजस्थान की सरकार बनाने के लिए ही वोट नहीं करें, बल्कि आप अपनी संतानों को कैसा राजस्थान देना चाहते हैं, इसके लिये वोट करें।

LEAVE A REPLY