Home समाचार कांग्रेस का फरेब- छत्तीसगढ़ में भर्तियों पर रोक लेकिन देश में 22...

कांग्रेस का फरेब- छत्तीसगढ़ में भर्तियों पर रोक लेकिन देश में 22 लाख नौकरियां देने का वादा

400
SHARE

छत्तीसगढ़ में खैरात बांटने का वादा कर कांग्रेस सत्ता में तो आ गई, लेकिन उन्हें पूरे करने में अब उसकी हालत खराब हो रही है। ताज्जुब यह है कि पार्टी इसके बाद भी लोकसभा चुनाव जीतने के लिए अनाप-शनाप वादे कर रही है, वोटर्स को प्रलोभन दे रही है। कांग्रेस अपने छत्तीसगढ़ मॉडल के नाम पर पूरे देश में वोट मांग रही है। पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में 22 लाख खाली पदों को भरने का वादा कर रही है जबकि सच्चाई यह है कि भ्रष्टाचार में डूबी छत्तीसगढ़ सरकार राज्य में नियुक्तियों से लेकर निर्माण कार्यों पर पूरी तरह रोक लगा चुकी है। राज्य की आर्थिक हालत ऐसी है कि सत्ता में आने के बाद भूपेश बघेल की सरकार रोजाना औसतन 105 करोड़ रुपए का कर्ज ले रही है।

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के वादे और हकीकत

वादा- रोजगार आयोग की स्थापना, कई पदों पर भर्ती की घोषणा
हकीकत- अब तक प्रक्रिया भी शुरू नहीं, नियुक्तियों पर रोक

वादा- 25 सौ रुपये मासिक बेरोजगारी भत्ता, संविदा कर्मियों को नियमित करना
हकीकत- भत्ता मिला नहीं, संविदाकर्मियों को अगले साल तक प्रतीक्षा करने का निर्देश।

वादा- सामाजिक सुरक्षा योजनाओं की पेंशन राशि बढ़ाने का वादा
हकीकत- फिलहाल पेंशन देने के लिए भी पैसे नहीं होने का बहाना

वादा- किसानों की कर्ज माफी पर 10 हजार करोड़ खर्च का दावा
हकीकत- किसानों को नहीं मिला फायदा, भ्रष्टाचार में उलझी कर्ज माफी

 

Leave a Reply